Bihar Board 10th English Objective Answers poem 1 God Made The Country

   

Bihar Board 10th English Objective Questions and Answers

BSEB Bihar Board 10th English Objective Answers poem 1 God Made The Country

God Made The Country Questions And Answers Bihar Board 10th Question 1.
Who wrote the poetry ‘God Made The Country’ ?
(A) William Wordsworth
(B) William Cowper
(C) Alexander Pope
(D) Durga Prasad
Answer:
(B) William Cowper

God Made The Country Bihar Board 10th Question 2.
Panda William Cowper may be said to be giving in his poems a foretaste of the poetry of………………?
(A) Wordsworth
(B) Puran Singh
(C) Laxmi Prasad
(D) Durga Prasad Panda
Answer:
(B) Puran Singh

God Made The Country Poem Bihar Board 10th Question 3.
According to poetry who made the town ?
(A) God
(B) Government
(C) Man
(D) None of these
Answer:
(C) Man

God Made The Country Question And Answer Bihar Board 10th Question 4.
Where do you find health and virtue ?
(A) Country
(B)Town
(C) Village
(D) Space
Answer:
(C) Village

God Made The Country And Man Made The Town Bihar Board 10th Question 5.
What has made the man idle ?
(A) Luxurious life
(B) Comfortable devices
(C) Packed foods
(D) None of these
Answer:
(B) Comfortable devices

God Made The Country Man Made The Town Bihar Board 10th Question 6.
Why were groves planted ?
(A) To comfort us
(B) To provide us Loaries
(C) To provide us fuel
(D) None of these
Answer:
(A) To comfort us

Bihar Board Class 10th English Objective Question Question 7.
What is the poet’s desire ?
(A) To enjoy comfortable conditions
(B) To enjoy luxury
(C) To energy green environment
(D) The pleasure of natural objects
Answer:
(D) The pleasure of natural objects

10th Class English Objective Questions Bihar Board Question 8.
According to the poet, health and .virtue can be found in
(A) Towns
(B) Cities
(C) Villages
(D) Factories
Answer:
(B) Cities

Question 9.
The town people do not enjoy any real
(A) Scenery
(B) Food
(C) Drink
(D) Fun
Answer:
(A) Scenery

Question 10.
The villagers can do very well without the …………..lights of the town.
(A) Grand
(B) Dim
(C) Shining
(D) Soft
Answer:
(A) Grand

Question 11.
On hearing the songs of the towns, singing-birds like the ……………..are afraid and go away. .
(A) Parrot
(B) Thrush
(C) Cuckoo
(D) Sparrow
Answer:
(B) Thrush

Question 12.
The poet calls things like health and virtue.
(A) Gifts
(B) Prizes
(C) Curses
(D) Defects
Answer:
(A) Gifts

Question 13.
Who created the poem ‘God Made The Country’?
(A) William Cowper
(B) William Wordsworth
(C) Alexander Pope
(D) Durga Prasad Panda
Answer:
(A) William Cowper

Question 14.
William Cowper may be said to be giving in his poems a foretaste of the poetry of………………….?
(A) Wordsworth
(B) Puran Singh
(C) Laxmi Prasad
(D) Durga Prasad Panda
Answer:
(A) Wordsworth

Question 15.
According to the poet, health and virtue can be found in
(A) towns
(B) cities
(C) villages
(D) factories
Answer:
(C) villages

Question 16.
The town’s people do not enjoy any real
(A) scenery
(B) food
(C) drink
(D) fun
Answer:
(A) scenery

Question 17.
In this poem the narrator is
(A) a townsman
(B) god
(C) country
(D) a villager
Answer:
(D) a villager

Question 18.
William Cowper was born in
(A) 1721
(B) 1711
(C) 1730
(D) 1731
Answer:
(D) 1731

Question 19.
William Cowper died in
(A) 1805
(B) 1798
(C) 1800
(D) 1810
Answer:
(C) 1800

Question 20.
Like whom the poet did not hesitate in giving ciear-cut opinion about the issues of his time?
(A) William Cowper
(B) Keats
(C) Wordsworth
(D) Thooran
Answer:
(C) Wordsworth

Question 21.
A two-wheeled horse-drawn vehicle used in olden times
(A) cart
(B) chart
(C) chariot
(D) none
Answer:
(C) chariot

Question 22.
Why is the thrush scared and the nightingale offended?
(A) to hear the vice of the poet
(B) to hear the songs of village
(C) to hear the songs of town
(D) none of these
Answer:
(C) to hear the songs of town

Question 23.
Health and goodness can make our life
(A) harder
(B) Comic
(C) sweet
(D) confound
Answer:
(C) sweet

Question 24.
According to the poet who made the town?
(A) God
(B) Government
(C) Man
(D) None of these
Answer:
(C) Man

Question 26.
That……………….holds out to all, should most abound.
(A) life
(B) virtue
(C) groves
(D) town
Answer:
(A) life

Question 27.
What has made the man idle?
(A) Luxurious life
(B) Comfortable devices
(C) Packed foods
(D) None of these
Answer:
(B) Comfortable devices

Question 28.
Why were groves planted?
(A) To comfort us
(B) To provide us loaries
(C) To provide us fuel
(D) None of these
Answer:
(A) To comfort us

Question 29.
What is the poet’s desire?
(A) To enjoy comfortable conditions
(B) To enjoy luxury
(C) To energy green environment
(D) The pleasure of natural objects
Answer:
(D) The pleasure of natural objects

Question 30.
The villagers can do very well without the…………….lights of the town.
(A) grand
(B) dim
(C) soft
(D) shining
Answer:
(A) grand

Question 31.
On hearing the songs of the towns, singing-birds like the……………….are afraid and go away.
(A) parrot
(B) thrush
(C) cuckoo
(D) sparrow
Answer:
(B) thrush

Question 32.
Listening to the……………..songs the nightingale becomes mute in a town.
(A) radio
(B) television
(C) headphone
(D) gramophone
Answer:
(D) gramophone

Question 33.
Where is the life least threatened?
(A) in towns
(B) in the fiends and groves
(C) in villages
(D) none of these
Answer:
(B) in the fiends and groves

Question 34.
What are planted to console the pensive wanderer?
(A) grooves
(B) shades
(C) walls
(D) factories
Answer:
(A) grooves

Question 35.
The moonbeam slides between ……………………
(A) ‘he ho ises
(B) the sleeping leaves
(C) shades
(D) none of these
Answer:
(B) the sleeping leaves

Question 36.
The thrush departs …………….
(A) sacred
(B) gladly
(C) scared
(D) boldly
Answer:
(C) scared

Question 37.
The poet calls things like health and virtue
(A) Gifts
(B) Prizes
(C) Curses
(D) Defects
Answer:
(A) Gifts

Question 38.
Where do you find fields and groves?
(A) in villages
(B) in towns
(C) in forests
(D) in cities
Answer:
(A) in villages

Question 39.
What is the source of light in Villages in the evening?
(A) seen
(B) moon
(C) lamp
(D) none of these
Answer:
(B) moon

Question 40.
Where is life better?
(A) in towns
(B) in villages
(C) in markets
(D) in homes
Answer:
(B) in villages

 

Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 2 बहुपद Ex 2.2

   

Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 2 बहुपद Ex 2.2 Text Book Questions and Answers.

BSEB Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 2 बहुपद Ex 2.2

Bihar Board Class 10 Maths बहुपद Ex 2.2

Bihar Board Class 10 Math Book Solution In Hindi प्रश्न 1.
निम्न द्विघात बहुपदों के शून्यक ज्ञात कीजिए और शून्यकों तथा गुणांकों के बीच के सम्बन्ध की सत्यता की जाँच कीजिए-
(i) x2 – 2x – 8
(ii) 4s2 – 4s + 1
(iii) 6x2 – 3 – 7x
(iv) 4u2 + 8u
(v) t2 – 15
(vi) 3x2 – x – 4
हल
(i) दिया गया बहुपद = x2 – 2x – 8
= x2 – (4 – 2)x – 8
= x2 – 4x + 2x – 8
= (x2 – 4x) + (2x – 8)
= x(x – 4) + 2 (x – 4)
= (x – 4) (x + 2)
x2 – 2x – 8 = (x – 4) (x + 2)
जब बहुपद x2 – 2x – 8 = 0 हो तो (x – 4) (x + 2) भी शून्य होगा जिसका अर्थ है कि या तो x – 4 = 0 या फिर x + 2 = 0
यदि हो x – 4 = 0 हो तो x = 4 और यदि x + 2 = 0 हो तो x = -2
अत: बहुपद x2 – 2x – 8 के शून्यक = 4 व -2
बहुपद x2 – 2x – 8 की तुलना बहुपद ax2 + bx + c से करने पर,
a = 1, b = -2 तथा c = -8
तब, बहुपद के गुणांकों और शून्यकों में सम्बन्ध
शून्यकों का योगफल = \(-\frac{b}{a}=-\left(\frac{-2}{1}\right)=2\)
तथा शून्यकों का गुणनफल: = \(\frac{c}{a}=\frac{-8}{1}=-8\)
और जो शून्यक हमने ज्ञात किए थे उनका योगफल भी 2 तथा गुणनफल (-8) है।
अत: बहुपद के गुणांकों और शून्यकों के बीच के उपर्युक्त सम्बन्ध सत्य हैं।
इति सिद्धम्

(ii) दिया गया बहुपद = 4s2 – 4s + 1
= (2s)2 – 2(2s) . 1 + (1)2 [∵ (a – b)2 = a2 – 2ab + b2]
= (2s – 1)2
4s2 – 4s + 1 = (2s – 1)2
जब बहुपद 4s2 – 4s + 1 = 0 हो तो (2s – 1)2 भी शून्य होगा जिसका अर्थ है कि
(2s – 1)2 = 0
⇒ (2s – 1) = 0
⇒ 2s = 1
⇒ s = \(\frac{1}{2}\)
यहाँ बहुपद के दोनों शून्यक समान हैं,
अत: बहुपद 4s2 – 4s + 1 के शून्यक = \(\frac{1}{2}\) व \(\frac{1}{2}\),
बहुपद 4s2 – 4s + 1 की तुलना बहुपद as2 + bs + c से करने पर,
a = 4, b = -4 तथा c = 1
तब, बहुपद के शून्यकों और गुणांकों में सम्बन्ध
शून्यकों का योगफल = \(-\frac{b}{a}=-\left(\frac{-4}{4}\right)=1\)
तथा शून्यकों का गुणनफल = \(\frac{c}{a}=\frac{1}{4}\)
और जो शून्यक हमने ज्ञात किए हैं उनका भी योगफल (\(\frac{1}{2}+\frac{1}{2}\) = 1) तथा गुणनफल (\(\frac{1}{2} \times \frac{1}{2}=\) \(\frac{1}{4}\)) है।
अत: बहुपद के शून्यकों और गुणांकों के बीच उपर्युक्त सम्बन्ध सत्य हैं।
इति सिद्धम्

(iii) दिया गया बहुपद = 6x2 – 3 – 7x
= 6x2 – 7x – 3
= 6x2 – (9 – 2)x – 3
= 6x2 – 9x + 2x – 3
= (6x2 – 9x) + (2x – 3)
= 3x(2x – 3) + 1(2x – 3)
= (2x – 3) (3x + 1)
बहुपद 6x2 – 3 – 7x = (2x – 3) (3x + 1)
जब बहुपद 6x2 – 3 – 7x = 0 हो तो (2x – 3) (3x + 1) भी शून्य होगा जिसका अर्थ है कि या तो 2x – 3 = 0 या फिर 3x + 1 = 0
यदि 2x – 3 = 0 हो तो 2x = 3 ⇒ x = \(\frac{3}{2}\)
और यदि 3x + 1 = 0 हो तो 3x = -1 ⇒ x = \(-\frac{1}{3}\)
अत: बहुपद 6x2 – 3 – 7x के शून्यक \(\frac{3}{2}\) व \(-\frac{1}{3}\)
अब, बहुपद 6x2 – 3 – 7x की तुलना मानक द्विघात बहुपद ax2 + bx + c से करने पर,
a = 6, b = -7 तथा c = -3
तब, बहुपद के शून्यकों और गुणांकों में सम्बन्ध
Bihar Board Class 10 Math Book Solution In Hindi Pdf Download
अत: बहुपद के गुणांकों और शून्यकों के बीच के उपर्युक्त सम्बन्ध सत्य हैं।
इति सिद्धम्

(iv) दिया गया बहुपद = 4u2 + 8u = 4u(u + 2)
यदि उक्त बहुपद 4u2 + 8u = 0 हो तो 4u(u + 2) = 0 जिसका अर्थ है कि
4u = 0 ⇒ u = 0 या फिर u + 2 = 0 ⇒ u = -2
अत: बहुपद 4u2 + 8u के शून्यक = 0 व -2
अब, बहुपद 4u2 + 8u की तुलना बहुपद au2 + bu + c से करने पर,
a = 4, b = 8 तथा c = 0
तब, बहुपद के गुणांकों और शून्यकों में सम्बन्ध
शून्यकों का योगफल = \(-\frac{b}{a}=-\frac{8}{4}=-2\)
और शून्यकों का गुणनफल \(\frac{c}{a}=\frac{0}{4}=0\)
और हमने जो शून्यक ज्ञात किए हैं, उनका योगफल (-2 + 0) = -2 तथा गुणनफल {(-2) × 0} = 0 है
अत: बहुपद के गुणांकों और शून्यकों के बीच के उपर्युक्त सम्बन्ध सत्य हैं।
इति सिद्धम्

(v) दिया गया बहुपद = t2 – 15
जब बहुपद t2 – 15 = 0 हो तो t2 = 15 या t = ±√15
अत: बहुपद t2 – 15 के शून्यक = +√15 व -√15
यहाँ शून्यकों का योगफल (+√15 – √15) = 0 तथा गुणनफल {√15 × (-√15)} = -15 है।
दिए गए बहुपद t2 – 15 = 0 की तुलना मानक द्विघात बहुपद at2 + bt + c से करने पर,
a = 1, b = 0 तथा c = -15
तब, बहुपद के गुणांकों और शून्यकों के मध्य सम्बन्ध
शून्यकों का योगफल = \(-\frac{b}{a}=-\frac{0}{1}=0\)
और शून्यकों का गुणनफल = \(\frac{c}{a}=\frac{-15}{1}=-15\)
जो कि उपर्युक्त फलन से मेल खाता है।
अत: बहुपद के गुणांकों और शून्यकों के मध्य उपर्युक्त सम्बन्ध सत्य हैं।
इति सिद्धम्

(vi) दिया गया बहुपद = 3x2 – x – 4
= 3x2 – (4 – 3)x – 4
= 3x2 – 4x + 3x – 4
= (3x2 – 4x) + (2x – 4)
= x(3x – 4) + 1(3x – 4)
= (3x – 4) (x + 1)
= (3x – 4) (x + 1)
जब बहुपद 3x2 – x – 4 = 0 हो तो (3x – 4) (x + 1) = 0
जिसका अर्थ है कि या तो 3x – 4 = 0 या फिर x + 1 = 0 है।
यदि 3x – 4 = 0 हो तो 3x = 4 ⇒ x = \(\frac {4}{3}\)
और यदि x + 1 = 0 हो तो x = -1
अत: बहुपद के शून्यक = \(\frac {4}{3}\) व -1
अब दिए हुए बहुपद 3x2 – x – 4 की तुलना मानक द्विघात बहुपद ax2 + bx + c से करने पर,
a = 3, b = -1 तथा c = -4
तब, बहुपद के गुणांकों a, b, c और बहुपद के शून्यकों के बीच सम्बन्ध
शून्यकों का योगफल = \(-\frac{b}{a}=-\frac{(-1)}{3}=\frac{1}{3}\)
और शून्यकों का गुणनफल = \(\frac{c}{a}=\frac{-4}{3}\)
और जो शून्यक हमने ज्ञात किए हैं उनका भी योगफल = \(\left(-1+\frac{4}{3}\right)=\frac{1}{3}\) और गुणनफल \(\left(\frac{4}{3} \times-1\right)=-\frac{4}{3}\) है।
अत: बहुपद के गुणांकों और शून्यकों के बीच उपर्युक्त सम्बन्ध सत्य हैं।
इति सिद्धम्

Bihar Board Class 10 Math Book Solution In Hindi Pdf Download प्रश्न 2.
एक द्विघात बहुपद ज्ञात कीजिए, जिसके शून्यकों के योगफल तथा गुणनफल क्रमशः दी गई संख्याएँ हैं
(i) \(\frac{1}{4}\), -1
(ii) √2, \(\frac{1}{3}\)
(iii) 0, √5
(iv) 1, 1
(v) \(\frac{-1}{4}\), \(\frac{1}{4}\)
(vi) 4, 1
हल
(i) माना द्विघात बहुपद के शून्यक α तथा β हैं।
तब, शून्यकों का योगफल = α + β तथा शून्यकों का गुणनफल = αβ
दिया गया है कि शून्यकों का योगफल \(\frac{1}{4}\) तथा गुणनफल -1 है।
α + β = \(\frac{1}{4}\) और αβ = -1
तब, द्विघात बहुपद = (x – α) (x – β)
= x2 – (α + β) x + αβ
= x2 – \(\frac{1}{4}\) x + (-1)
= \(\frac{4 x^{2}-x-4}{4}\)
= k(4x2 – x – 4)
अत: अभीष्ट बहुपद 4x2 – x – 4 या k(4x2 – x – 4) है, जहाँ k = \(\frac{1}{4}\) एक वास्तविक संख्या है।

(ii) माना द्विघात बहुपद के शून्यक α तथा β हैं।
तब, शून्यकों का योगफल = α + β तथा गुणनफल = αβ
दिया गया है कि बहुपद के शून्यकों का योगफल √2 तथा गुणनफल \(\frac{1}{3}\) है।
α + β = √2 तथा αβ = \(\frac{1}{3}\)
तब, द्विघात बहुपद = (x – α) (x – β)
= x2 – (α + β) + αβ
= x2 – √2x + \(\frac{1}{3}\)
= \(\frac{1}{3}\)(3x2 – 3√2x + 1)
= k(3x2 – 3√2x + 1)
अत: अभीष्ट बहुपद k(3x2 – 3√2x + 1) है, जहाँ k = \(\frac{1}{3}\) एक वास्तविक संख्या है।

(iii) माना द्विघात बहुपद के शून्यक α तथा β हैं।
तब, शून्यकों का योगफल = (α + β) और शून्यकों का गुणनफल = αβ
दिया गया है कि शून्यकों का योगफल 0 तथा गुणनफल √5 है।
तब, α + β = 0 तथा αβ = 15
द्विघात बहुपद = (x – α)(x – β)
= x2 – (α + β)x + αβ
= x2 – 0 . x + √5
= x2 + √5
अतः अभीष्ट बहुपद = x2 + √5

(iv) माना द्विघात बहुपद के शून्यक α तथा β हैं।
तब, शून्यकों का योगफल = α + β तथा शून्यकों का गुणनफल = αβ
दिया गया है कि शून्यकों का योगफल 1 तथा गुणनफल 1 है।
तब, α + β = 1 तथा αβ = 1
द्विघात बहुपद = (x – α) (x – β)
= x2 – (α + β)x + αβ
= x2 – (1) . x + 1
= x2 – x + 1
अतः अभीष्ट बहुपद = x2 – x + 1

(v) माना द्विघात बहुपद के शून्यक α व β हैं।
तब, शून्यकों का योगफल = α + β तथा शून्यकों का गुणनफल = αβ
दिया गया है कि शून्यकों का योगफल \(-\frac{1}{4}\) तथा गुणनफल \(\frac{1}{4}\) है।
Bihar Board Class 10th Math Solution
(जहाँ k एक वास्तविक संख्या है)
अत: अभीष्ट बहुपद = 4x2 + x + 1 अथवा k(4x2 + x + 1) जहाँ k = \(\frac{1}{4}\) एक वास्तविक संख्या है।

(vi) माना द्विघात बहुपद के शून्यक α व β हैं।
तब, शून्यकों का योगफल = (α + β) तथा गुणनफल = αβ
दिया गया है कि शून्यकों का योगफल 4 तथा गुणनफल 1 है।
α + β = 4 तथा αβ = 1
द्विघात बहुपद = (x – α) (x – β)
= x2 – (α + β)x + αβ
= x2 – 4x + 1
अत: अभीष्ट बहुपद = x2 – 4x + 1

Bihar Board 10th Hindi Objective Answers Godhuli Padya Chapter 9 हमारी नींद

   

Bihar Board 10th Hindi Objective Questions and Answers

BSEB Bihar Board 10th Hindi Objective Answers Godhuli Padya Chapter 9 हमारी नींद

Hangries Saharanpur Menu Bihar Board 10th Hindi प्रश्न 1.
वीरेन डंगवाल को किस कृति के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार मिला है?
(A) इसी दुनिया में
(B) दुष्चक्र में सृष्टा
(C) पहल पुस्तिका
(D) कवि ने कहा
उत्तर :
(B) दुष्चक्र में सृष्टा

Sleep Symbol Bihar Board 10th Hindi प्रश्न 2.
गरीब बस्तियों में क्या हुआ?
(A) कई शिशु पैदा हुए
(B) दंगे, आगजनी और बमबारी
(C) धमाके से देवी जागरण
(D) इनमें से कोई नहीं
उत्तर :
(C) धमाके से देवी जागरण

Sleeping Symbol Bihar Board 10th Hindi प्रश्न 3.
‘हमारी नींद’ के रचयिता कौन हैं?
(A) सुमित्रानंदन पंत
(B) वीरेन डंगवाल
(C) रामधारी सिंह दिनकर
(D) कुँवर नारायण
उत्तर :
(B) वीरेन डंगवाल

प्रश्न 4.
‘हमारी नींद में ‘नींद’ किसका प्रतीक है?
(A) गफलत
(B) बेहोशी
(C) पागलपन
(D) मदहोशी
उत्तर :
(A) गफलत

प्रश्न 5.
वीरेन डंगवाल का जन्म कहाँ हुआ था?
(A) 1947
(B) 1943
(C) 1942
(D) 1847
उत्तर :
(A) 1947

प्रश्न 6.
वीरेन डंगवाल का जन्म किस राज्य में हुआ?
(A) उत्तर प्रदेश
(B) उतरांचल
(C) हिमाचल प्रदेश
(D) मध्य प्रदेश
उत्तर :
(B) उतरांचल

प्रश्न 7.
वीरेन डंगवाल ने किस विद्यालय से एम०ए० किया?
(A) काशी
(B) लखनऊ
(C) इलाहाबाद
(D) कानपुर
उत्तर :
(C) इलाहाबाद

प्रश्न 8.
“वीरेन डंगवाल” किस अखबार के संपादकीय सलाहकार थे?
(A) जनएकता
(B) अमर उजाला
(C) नवभारत टाईम
(D) हिन्दुस्तान
उत्तर :
(B) अमर उजाला

प्रश्न 9.
वीरेन डंगवाल की पहली कविता संग्रह ‘इसी दुनिया में किस वर्ष प्रकाशित हुई?
(A) 1992
(B) 1891
(C) 1991
(D) 1892
उत्तर :
(C) 1991

प्रश्न 10.
वीरेन डंगवाल को कौन-सा पुरस्कार प्राप्त है?
(A) स्मृत्ति पुरस्कार
(B) रघुवर सहाय स्मृति पुरस्कार
(C) ज्ञान पीठ पुरस्कार
(D) श्रीकांत वर्मा पुरस्कार
उत्तर :
(A) स्मृत्ति पुरस्कार

प्रश्न 11.
‘हमारी नींद’ कविता किस कविता संग्रह से ली गई है?
(A) दुष्चक्र में स्रष्टा
(B) पहल पुस्तिका
(C) इसी दुनिया में
(D) सदानीरा
उत्तर :
(A) दुष्चक्र में स्रष्टा

प्रश्न 12.
नींद के दरम्यान कुछ इंच कौन बढ़ गए?
(A) लघु जीव
(B) पुष्प वृन्द
(C) पेड़
(D) लता जुल्म
उत्तर :
(C) पेड़

प्रश्न 13.
हमारी नींद के दरम्यान पौधे कितने वृद्धि कर गए?
(A) कुछ इंच
(B) कुछ सेमी
(C).कुछ सूत
(D) इनमें से कोई नहीं
उत्तर :
(C).कुछ सूत

प्रश्न 14.
किसने अपने कोमल सींगों से ढकेलना शुरू किया?
(A) बैल ने
(B) हिरण ने
(C) अंकुर ने
(D) बछड़े ने
उत्तर :
(C) अंकुर ने

प्रश्न 15.
‘हमारी नींद’ कविता के अनुसार किसका जीवन-क्रम पूरा हुआ?
(A) एक मच्छर का
(B) मछली का
(C) एक मक्खी का
(D) तोते का
उत्तर :
(C) एक मक्खी का

प्रश्न 16.
‘देवी जागरण कहाँ हुआ?
(A) गरीब बस्तियों में
(B) मंदिरों में
(C) शहरों में
(D) गाँवों में
उत्तर :
(A) गरीब बस्तियों में

प्रश्न 17.
हमारी नींद कविता में हठीला किसे कहा गया है?
(A) बालक को
(B) श्रमिक को
(C) प्रकृति को
(D) जीवन को
उत्तर :
(D) जीवन को

प्रश्न 18.
कवि के अनुसार कई लोग ऐसे जो नहीं भूले हैं
(A) पढ़ाई करना
(B) परिश्रम करना
(C) आदर करना
(D) इनकार करना
उत्तर :
(D) इनकार करना

प्रश्न 19.
वीरेन डंगवाल किस दैनिक पत्र के सम्पादकीय सलाहकार हैं?
(A) दैनिक जागरण
(B) जनसत्ता
(C) अमर उजाला
(D) दैनिक भास्कर
उत्तर :
(C) अमर उजाला

प्रश्न 20.
‘इसी दुनिया में किसकी कृति है?
(A) रघुवीर सहाय
(B) मुक्तिबोध
(C) केदारनाथ अग्रवाल
(D) वीरेन डंगवाल
उत्तर :
(D) वीरेन डंगवाल

प्रश्न 21.
हम जब नींद में होते हैं, तब किसका जीवन-चक्र पूरा हो जाता है?
(A) मकड़ी का
(B) मछली का
(C) मक्खी का
(D) मच्छड़ का
उत्तर :
(C) मक्खी का

प्रश्न 22.
‘टिहरी-गढ़वाल’ कहाँ अवस्थित है?
(A) असम में
(B) पश्चिम बंगाल में
(C) बिहार में
(D) उत्तराखण्ड में
उत्तर :
(D) उत्तराखण्ड में

प्रश्न 23.
वीरेन डंगवाल को उपाधि दी गई
(A) डी. लिट्
(B) पद्मभूषण
(C) भारत रत्न
(D) इनमें से कोई नहीं
उत्तर :
(A) डी. लिट्

प्रश्न 24.
‘अत्याचारी’ का शाब्दिक अर्थ है
(A) अन्यायी
(B) जिद्दी
(C) अस्वीकार
(D) इनमें से कोई नहीं
उत्तर :
(A) अन्यायी

प्रश्न 25.
वीरेन डंगवाल किस विचारधारा के कवि हैं?
(A) जनवादी
(B) रहस्यवादी
(C) रीतिवादी
(D) सूफी
उत्तर :
(A) जनवादी

प्रश्न 26.
‘दुष्चक्र में सुष्टा’ पुस्तक पर वीरेन डंगवाल को कौन-सा पुरस्कार प्राप्त हुआ?
(A) ज्ञानपीठ
(B) सोवियत लैंड नेहरू पुरस्कार
(C) साहित्य अकादमी
(D) नोबेल पुरस्कार
उत्तर :
(C) साहित्य अकादमी

प्रश्न 27.
‘हमारी नींद’ कैसी कविता है?
(A) समकालीन
(B) नकेनवादी
(C) हालावादी
(D) छायावादी
उत्तर :
(A) समकालीन

प्रश्न 28.
‘हमारी नींद’ शीर्षक कविता किस काव्य-संग्रह से ली गई है ?
(A) दृष्चक्र में स्रष्टा
(B) इसी दुनिया में
(C) गलत पते की चिट्ठी
(D) मन विहंगम
उत्तर :
(A) दृष्चक्र में स्रष्टा

प्रश्न 29.
वीरेन डंगवाल किस दैनिक-पत्र के सम्पादकीय सलाहकार हैं ?
(A) दैनिक जागरण
(B) जनसत्ता
(C) अमर उजाला
(D) भास्कर
उत्तर :
(C) अमर उजाला

प्रश्न 30.
‘इसी दुनिया में’ किसकी कृति है ?
(A) रघुवीर सहाय
(B) मुक्तिबोध
(C) केदारनाथ अग्रवाल
(D) वीरेन डंगवाल
उत्तर :
(D) वीरेन डंगवाल

प्रश्न 31.
कविता में देवी जागरण कहाँ हुआ?
(A) बाजार में
(B) गरीब बस्तियों में
(C) शहर में
(D) कस्बे में |
उत्तर :
(B) गरीब बस्तियों में

प्रश्न 32.
कविता में किसका जीवन-क्रम पूरा हुआ उल्लिखित है ?
(A) मधुमक्खी का
(B) पतंग का
(C) मच्छड़ का
(D) मक्खी का
उत्तर :
(D) मक्खी का

प्रश्न 33.
वीरेन डंगवाल का जन्म कब हुआ?
(A) 5 अगस्त, 1947 को
(B) 15 अगस्त, 1948 को
(C) 5 अगस्त, 1949 को
(D) 15 अगस्त, 1950 को
उत्तर :
(A) 5 अगस्त, 1947 को

प्रश्न 34.
इसका जन्म कहाँ हुआ?
(A) राँची, झारखण्ड
(B) बिहटा, बिहार
(C) आसनसोल, प० बंगाल
(D) उत्तराखण्ड
उत्तर :
(D) उत्तराखण्ड

प्रश्न 35.
वीरेन डंगवाल की काव्य-संग्रह है
(A) दुष्चक्र में स्रष्टा
(B) इसी दुनिया में
(C) (A) और (B) दोनों
(D) इनमें कोई नहीं
उत्तर :
(B) इसी दुनिया में

प्रश्न 36.
हम जब नींद में होते हैं, तब किसका जीवन-चक्र पूरा हो जाता है ?
(A) मकड़ी का
(B) मछली का
(C) मक्खी का
(D) मच्छड़ का |
उत्तर :
(C) मक्खी का

प्रश्न 37.
वीरने डंगवाल की प्रारंभिक शिक्षा कहाँ से हुई ?
(A) मुजफ्फरनगर
(B) सहारनपुर
(C) कानपुर
(D) इनमें सभी |
उत्तर :
(D) इनमें सभी |

प्रश्न 38.
इन्होंने किस विश्वविद्यालय से एम0 ए0 की डिग्री प्राप्त की?
(A) पटना विश्वविद्यालय
(B) इलाहाबाद विश्वविद्यालय
(C) बरेली विश्वविद्यालय
(D) लाहौर विश्वविद्यालय
उत्तर :
(B) इलाहाबाद विश्वविद्यालय

प्रश्न 39.
‘दंगे, आगजनी और बमबारी’ से किसका चित्रण हुआ है ?
(A) सामाजिक यथार्थ का
(B) सामाजिक गंदगी का
(C) असामाजिक तत्त्वों का
(D) इनमें कोई नहीं
उत्तर :
(A) सामाजिक यथार्थ का

प्रश्न 40.
कविता के नये प्रतिमान
(A) वीरेन डंगवाल
(B) श्रीकांत वर्मा
(C) प्रेमधन
(D) घनानन्द
उत्तर :
(B) श्रीकांत वर्मा

प्रश्न 41.
“टिहरी-गढ़वाल’ कहाँ अवस्थित है ?
(A) असम में
(B) पश्चिम बंगाल में
(C) बिहार में
(D) उत्तराखण्ड में
उत्तर :
(D) उत्तराखण्ड में

प्रश्न 42.
वीरेन डंगवाल को उपाधि दी गई
(A) डी० लिट्
(B) पद्मभूषण
(C) भारत रत्न
(D) इनमें कोई नहीं
उत्तर :
(A) डी० लिट्

प्रश्न 43.
‘हमारी नींद’ कविता में कवि ने किसका उल्लेख किया है ?
(A) गरीब किसानों का
(B) शहर में चैन से सोने वालों का
(C) गरीब बस्तियों का
(D) इनमें कोई नहीं
उत्तर :
(C) गरीब बस्तियों का

प्रश्न 44.
कवि हमें क्या सलाह देता है ?
(A) नींद से सोने की
(B) नींद से जगने की
(C) पैर पसारकर सोने की
(D) इनमें कोई नहीं
उत्तर :
(B) नींद से जगने की

प्रश्न 45.
‘अत्याचारी’ का शाब्दिक अर्थ है
(A) अन्यायी
(B) जिद्दी
(C) अस्वीकार
(D) इनमें कोई नहं
उत्तर :
(A) अन्यायी

प्रश्न 46.
‘देवी जागरण’ कौन-सा कारक है ?
(A) कर्म
(B) कर्ता
(C) सपादान
(D) अपादान
उत्तर :
(B) कर्ता

प्रश्न 47.
‘झगड़ा-फसाद’ कौन-सा समास है ?
(A) दिगु
(B) अव्ययीभाव
(C) द्वन्द्व
(D) तत्पुरुष
उत्तर :
(C) द्वन्द्व

Bihar Board Class 10 Hindi रचना पत्र लेखन

   

Bihar Board Class 10 Hindi Book Solutions Bihar Board Class 10 Hindi रचना पत्र लेखन Questions and Answers, Notes.

BSEB Bihar Board Class 10 Hindi रचना पत्र लेखन

Bihar Board Class 10 Hindi रचना पत्र लेखन Questions and Answers

औपचारिक पत्र

Patra Lekhan Class 10 Bihar Board प्रश्न 1.
आप निवंद्र गुप्ता, नवम् बी के विद्यार्थी हैं। आपकी माता जी का ऑपरेशन होना है। अस्पताल में उनकी देखभाल के लिए आपको 15 दिन का अवकाश चाहिए। अपने विद्यालय के प्राचार्य को अवकाश के लिए प्रार्थना-पत्र लिखिए।
उत्तर-
सेवा में
प्रधानाचार्य महोदय
क, क, ग, विद्यालय
प. फ. पटना

विषय-15 दिन के अवकाश के लिए प्रार्थना-पत्र

श्रीमान् जी

सविनय निवेदन है कि कल शाम मेरी माता जी सड़क पार करते समय एक टैंपो से टकराकर गिर पड़ीं। डॉक्टर ने बताया है कि उनके पैर की हड्डी में फ्रैक्चर है और आज ही ऑपरेशन करना पड़ेगा। माता जी की देखभाल के लिए मुझे अस्पताल में रहना पड़ेगा। इसलिए मैं विद्यालय आने में असमर्थ हूँ।

कृपया मुझे 16 अगस्त से 30 अगस्त तक का अवकाश प्रदान कर अनुगृहीत करें।

आपका आज्ञाकारी शिष्य
रविंद्र गुप्ता
कक्षा-नवम्-बी.
अनुक्रमांक-27
दिनांक : अगस्त 16, 2018

औपचारिक पत्र लेखन हिंदी Class 10 Bihar Board प्रश्न 2.
अपने प्रधानाचार्य को आवेदन-पत्र लिखकर अपना मासिक शल्क कम कराने की प्रार्थना कीजिए।
अथवा, शुल्क क्षमा (फीस माफी) के लिए प्रधानाध्यापक के पास आवेदन-पत्र लिखें।
उत्तर-
सेवा में
प्रधानाचार्य महोदय
नवोदय विद्यालय
पटना
विषय-मासिक शुल्क कम कराने के लिए प्रार्थना-पत्र

श्रीमान् जी

सविनय निवेदन है कि मैं नवीं कक्षा का विद्यार्थी हूँ। मैं एक निर्धन परिवार से संबंध रखता हूँ। मेरे पिताजी की कपड़े की एक छोटी-सी दुकान है जिससे इतनी आमदनी नहीं हो पाती कि परिवार का भरण-पोषण सुचारू रूप से हो सके। मेरे पिताजी मेरी पढ़ाई-लिखाई के बोझ को उठाने में असमर्थ हैं।

मैं आपसे प्रार्थना करता हूँ कि आप मेरा मासिक शुल्क कम करने की कृपा करें जिससे मैं अपनी पढ़ाई जारी रख सकूँ। मैं आपको पूर्ण विश्वास दिलाता हूँ कि अपने आचरण और पठन-पाठन में आपको किसी शिकायत का मौका न दूंगा।

धन्यवाद!

आपका आज्ञाकारी शिष्य
कुलभूषण
नवीं कक्षा
दिनांक : 15-6-2018

Patra Lekhan In Hindi Class 10 Bihar Board प्रश्न 3.
जुर्माना माफ कराने के लिए प्रधानाचार्य को प्रार्थना-पत्र लिखिए।
उत्तर-
सेवा में
प्रधानाचार्य महोदय
डी. ए. वी. उच्चतर माध्यमिक विद्यालय
पटना

विषय—जुर्माना माफ कराने के लिए प्रार्थना-पत्र

श्रीमान् जी

सविनय निवेदन है कि मैं दिसंबर परीक्षा में नकल करते पकड़ा गया था। अंग्रेजी के अध्यापक श्री वत्सराज ने मुझे नकल करते पकड़ लिया। उन्होंने मुझे नकल का दोषी पाकर 10 रुपए जुर्माना कर दिया।

मैं अपने निंदनीय कार्य के लिए बड़ी लज्जा का अनुभव कर रहा हूँ। मान्यवर, मेरी इस भूल के लिए मेरे पिताजी को दंडित न कीजिए। मैं विनम्रतापूर्वक और सच्चे हृदय से अपनी भूल स्वीकार करता हूँ और इसके लिए शत-शत बार क्षमा-याचना करता हूँ। साथ ही आपको यह विश्वास दिलाता हूँ कि भविष्य में ऐसी भूल नहीं करूंगा।

मेरी आपसे सविनय प्रार्थना है कि आप कृपा करके मेरा जुर्माना माफ कर दें। इसके लिए मैं आपका कृतज्ञ रहूँगा।

आपका आज्ञाकी शिष्य
नरश जेन
कक्षा दशम ‘डी’
अनुक्रमांक …………..
दिनांक : 4 जनवरी, 2019

Class 10 Hindi Patra Lekhan Bihar Board प्रश्न 4.
सरदार पटेल विद्यालय के प्रधानाचार्य को पत्र लिखकर अनुरोध कीजिए कि विद्यालय के पुस्तकालय के लिए हिंदी की कुछ नई पुस्तकें खरीदी जाएँ।
उत्तर-
सेवा में
प्रधानाचार्य
सरदार पटेल विद्यालय
चंडीगढ़

विषय-हिंदी की पुस्तकों के संदर्भ में

श्रीमान् जी

सविनय निवेदन है कि हमारे पुस्तकालय में हिंदी साहित्य की नई पुस्तकों का अभाव है। पिछले तीन वर्षों से एक भी नई पुस्तक नहीं खरीदी गई है। हम विद्यार्थी शिव खेड़ा की ‘जीत आपकी’ पढ़ना चाहते हैं। भूतपूर्व राष्ट्रपति कलाम द्वारा रचित ‘अग्नि की उड़ान’ पढ़ना चाहते हैं। कल्पना चावला, सुनीता विलियम्स, मुकेश अंबानी तथा अन्य सफल लोगों की जीवनियाँ पढ़ना चाहते हैं। कृपया इन्हें तथा इन जैसी अन्य प्रेरणास्पद पुस्तकें पुस्तकालय में खरीदने की व्यवस्था करें।

हम आपके आभारी होंगे।
सधन्यवाद !

भवदीय
सुमेधा सहगलं
कक्षा दशम ‘ए’
अनुक्रमांक 115
दिनांक : 14.3.2018

Letter In Hindi For Class 10 Bihar Board प्रश्न 5.
बैंकिंग सेवा भर्ती बोर्ड, दिल्ली के सचिव को लिपिक पद के लिए आवेदन-पत्र लिखिए। .
उत्तर-
सेवा में
सचिव
बैंकिंग सेवा भर्ती बोर्ड
दिल्ली

विषय-लिपिक-पद हेतु आवेदन महोदय

23 फरवरी, 2018 के ‘दैनिक जागरण’ में प्रकाशित विज्ञापन क्र. 373-ए के अनुसार लिपिक-पद की रिक्तियों के लिए मैं स्वयं को प्रस्तुत करता हूँ। मेरा परिचय तथा योग्यताएँ इस प्रकार हैं-

नाम : क. ख. ग.
पिता का नाम : अ. ब. स.
जन्म-तिथि : 13-7-1983
पत्र-व्यवहार का पता . : 733, कृष्णानगर, पटना।

Patra Lekhan For Class 10th Bihar Board प्रश्न 6.
अपने पिताजी की ओर से भारतीय स्टेट बैंक के प्रबंधक को पत्र लिखकर ट्रैक्टर खरीदने के लिए ऋण स्वीकृत करने का अनुरोध कीजिए।
उत्तर-
सेवा में
प्रबंधक
भारतीय स्टेट बैंक
पटना
विषय-ट्रैक्टर के लिए ऋण

महोदय

निवेदन है कि मैं किसान हूँ। मेरे पास 20 बीघे जमीन है। मुझे खेती करने के लिए ट्रैक्टर . की आवश्यकता है। इसके लिए मुझे आपके बैंक से ऋण चाहिए। कृपा करके इस बारे में जरूरी कार्यवाही करें तथा ऋण उपलब्ध करवाएँ।

धन्यवाद!

प्रार्थी
विपिन कुमार
135, अशोक नगर
पटना
दिनांक : 13 मार्च, 2018

Patra Class 10 Bihar Board प्रश्न 7.
अपने मित्र को जन्म-दिवस पर निमंत्रण-पत्र लिखिए।
उत्तर-
राकेश कुमार
673, टाइप-3
सैक्टर-12.
इस्पात नगर, बोकारो
दिनांक : मार्च 15, 2018
प्रिय पंकज

स्नेह !

आशा है स्वस्थ होगे। मैं भी यहाँ कुशल हूँ। मित्र! इस बार मेरा जन्म-दिन धूमधाम से मनाने की तैयारियाँ हैं। अतः तुम 3. मार्च की तिथि मेरे लिए सुरक्षित कर लो। तुम 29 मार्च की रात तक यहाँ पहुँच जाओ, ताकि सभी कार्यक्रमों में शामिल हो सको। कार्यक्रम इस प्रकार हैं . प्रातः 7 बजे हवन-यज्ञ होगा। हवन के बाद धार्मिक प्रवचन होंगे। इसके बाद मित्र-मंडली रंगारंग कार्यक्रम पेश करेगी। इसके बाद सहभोज होगा।
माता जी व पिता जी को चरण-स्पर्श। 29 मार्च को आना न भूलना।

तुम्हारा
राकेश।

Class 10 Hindi Patra Lekhan 2021 Bihar Board प्रश्न 8.
आप विद्यालय की हिंदी परिषद् के मंत्री हैं। परिषद् ने तुलसी जयंती मनाने का निर्णय किया है। उसकी अध्यक्षता के लिए मगध विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग के अध्यक्ष को आमंत्रित करते हुए पत्र लिखिए।
उत्तर-
हिमेश चौधरी
मंत्री, हिंदी परिषद्
बाल भारती स्कूल, बिहार शरीफ
दिनांक : 14.9.2018
सेवा में

डॉ. रमेश गौतम
अध्यक्ष, हिंदी विभाग
मगध विश्वविद्यालय, गया।
आदरणीय महोदय,

‘मुझे आपको यह सूचित करते हुए वर्ष का अनुभव हो रहा है कि हमारा विद्यालय तुलसी जयंती मनाने जा रहा है। हमने यह कार्यक्रम अपने विद्यालय की सुविधानुसार 24 अक्तूबर, 2010, रविवाद को प्रातः 10.00 बजे विद्यालय के विशाल भवन में मनाने का निश्चय किया है। हम चाहते हैं कि आप इस पावन अवसर पर अध्यक्ष के रूप में सुशोभित हों। कृपया अपनी स्वीकृति प्रदान कर हमें अनुगृहीत करें।

धन्यवाद!

भवदीय
हिमेश चौधरी

Prarthna Patra In Hindi Class 10 Bihar Board प्रश्न 9.
अपने क्षेत्र की समस्याओं और असुविधाओं की ओर ध्यान आकर्षित करते हुए क्षेत्र के संसद-सदस्य को पत्र लिखकर उन्हें दूर करने का अनुरोध कीजिए।
उत्तर-
सेवा में
कौशलेन्द्र कुमार
सांसद, नालन्दा क्षेत्र

विषय-नालन्दा की मूलभूत समस्याएँ

महोदय

विनम्र निवेदन है कि नालन्दा नगर के निवासी निम्नलिखित समस्याओं से बुरी तरह परेशान हैं –

1. गाड़ियों में जबरदस्त भीड़ की समस्या।
2. महिला कॉलेज के पास मुर्गा फार्म की समस्या।
3. सड़कों के निरंतर टूटते रहने की समस्या।
4. गाँव लौटते समय गाड़ियों और बसों की समस्या।

महोदय, ये बड़ी-बड़ी समस्याएँ हैं जिनके लिए आपके सक्रिय सहयोग की आवश्यकता है। कृपया यहाँ से तीन-चार और गाड़ियाँ चलवाने की व्यवस्था करें। मुर्गा फार्म को महाविद्यालय . . गेट के पास से दूर करवाएँ। सड़कें अच्छे स्तर की बनवाएँ, जो बार-बार न टूटे। शाम 5.00 बजे के बाद बिहार शरीफ से दूर इलाकों के लिए बसें चलवाने की व्यवस्था करें।

आशा है, आप पहले की तरह जनता की इन समस्याओं को शीघ्रता से दूर करवाने में सहयोग करेंगे।

प्रार्थी
विनय प्रकाश
म.नं. 334
राजगीर
दिनांक : मार्च 12, 2018

प्रश्न 10.
सार्वजनिक पार्कों की समुचित सफाई न होने पर सफाई-कर्मचारियों की शिकायत करते हुए नगर-निगम के स्वास्थ्य अधिकारी को एक पत्र लिखिए।
उत्तर-
सेवा में
स्वास्थ्य अधिकारी
पटना नगर निगम
पटना

विषय-पार्कों की सफाई-व्यवस्था

महोदय

मैं पटना विकास परिषद् का सचिव हूँ। पटना के विकास और सौंदर्य के प्रति सचेत होने “के कारण मैं आपका ध्यान यहाँ के पार्कों की ओर दिलाना चाहता हूँ। पिछले अनेक वर्षों से इन पार्कों की ओर बिल्कुल ध्यान नहीं दिया गया है। लगता है, इनमें नियुक्त सफाई कर्मचारी हटा. लिए गए हैं। सभी पार्कों के मुख्य द्वारों पर ही गंदगी के ढेर जमा हैं। आस-पड़ोस के लोगों ने पार्कों को कचराघर बना रखा है। पार्कों के अंदर भी पत्ते, टहनियाँ, खान-पान की सामग्री, थैलियाँ उड़ती रहती हैं। लगता है, इनमें आवारा पशु भी घुस आते हैं। इसलिए रास्तों में गोबर पड़ा रहता है।

महोदय, पार्कों की गंदगी के कारण अब लोग यहाँ घूमने से भी बचने लगे हैं। यदि कोई मेहमान यहाँ आ जाए तो हमें शर्म आती है। कृपया इन पार्कों की सफाई-व्यवस्था को ठीक करने का प्रबंध करें। इस काम में पटना विकास परिषद् आपके साथ है।

भवदीय
अशोक श्रीवास्तव
सचिव, पटना विकास परिषद्
17-3-2018

प्रश्न 11.
स्वास्थ्य-विभाग के लापरवाह रवैये के कारण खाद्य-पदार्थों में मिलावट की समस्या गंभीर होती जा रही है। विभाग के निदेशक के नाम पत्र लिखकर इस समस्या की ओर उनका ध्यान आकर्षित कीजिए।
उत्तर-
सेवा में
निदेशक
स्वास्थ्य विभाग
पटना

विषय-खाद्य-सामग्री में मिलावट की समस्या

महोदय,

मैं पटना का नागरिक हूँ। मुझे बहुत खेद के साथ कहना पड़ रहा है कि आजकल इस शहर में मिलावट का धंधा पूरे जोरों पर है। दूध और घी में मिलावट की समस्या पहले की तरह चली आ रही है। अब तो बड़ी-बड़ी कंपनियों पर भी विश्वास नहीं रहा। पीछे एक नामी कंपनी के दूध में मिलावट पाई गई। अब यहाँ न तो पनीर सही मिलता है, न खाद्य-तेल। यहाँ तक कि पैट्रोल में भी मिट्टी के तेल की मिलावट की जाती है। रसोई घर के सारे मसाले मिलावटी मिलते हैं। महोदय, आपसे निवेदन है कि आप इस बारे में सख्ती बरतें। आपके विभाग के कर्मचारियों की मिलीभगत के कारण यह काला धंधा पनप रहा है। कृपया उन पर सख्त कार्यवाही करें ताकि हम नागरिक शुद्ध भोजन जुटा सकें।

धन्यवाद!

भवदीय
ब्रजेश कुमार
13.3.2012

प्रश्न 12.
परीक्षा के दिनों में अनियमित विद्युत आपूर्ति की समस्या की ओर ध्यान आकृष्ट करते हुए प्रबंधक, राज्य विद्युत-आपूर्ति निगम को पत्र लिखिए।
उत्तर-

सेवा में
विद्युत अधिकारी
विद्युत प्रदाय संस्थान
रोहिणी सैक्टर-7
दिल्ली
13 मार्च, 2018

विषय—बिजली गुल होने की समस्या

महोदय

निवेदन है कि हम रोहिणी सैक्टर-7 के निवासी बिजली की अनियमितता से बहुत परेशान हैं। आजकल बच्चों की परीक्षाएँ चल रही हैं। उनकी वर्ष-भर की मेहनत इन्हीं दिनों की पढ़ाई पर निर्भर है। इन दिनों बिजली बहुत बार आती-जाती है। इस कारण बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। कृपया बिजली की आपूर्ति नियमित करें।

धन्यवाद !

भवदीय
(हस्ताक्षर)
चंद्रमोहन गुप्ता
अध्यक्ष
सुधार सभा
सैक्टर-7, रोहिणी (दिल्ली)

प्रश्न 13.
अपने क्षेत्र में पार्क विकसित कराने के लिए नगर-निगम अधिकारी को पत्र लिखिए।
उत्तर-
सेवा में
उपवन अधिकारी
कोचीन नगर निगम
कोचीन

विषय-मोहन नगर में पार्क-विकास कराने हेतु

महोदय,

निवेदन है कि हम मोहन नगर के निवासी हैं। हमारे क्षेत्र में पार्क के लिए एक मैदान छोड़ा ” गया है। आजकल इसमें गंदगी के ढेर पड़े हैं। लोग अपने घरों का कूड़ा यहाँ डालते हैं। आपसे प्रार्थना है कि यहाँ पार्क विकसित कराने का प्रबंध करें। हम नगर-निवासी इसमें हर प्रकार का सहयोग करेंगे।

हम आपको विश्वास दिलाते हैं कि एक बार पार्क विकसित हो जाने के बाद इसकी देखभाल भी हम स्वयं करें। शीघ्र कार्यवाही करने की कृपा करें।

धन्यवाद !

भवदीय
मनोहर, रूपक, रूपेश
मोहन नगर निवासी
मार्च 15, 2018

प्रश्न 14.
राज्य परिवहन निगम के मुख्य प्रबंधक को पत्र लिखकर एक बस-चालक के प्रशंसनीय व्यवहार की प्रशंसा करते हुए उसे विभाग की ओर से सम्मानित करने का आग्रह
कीजिए।
अथवा,बस-कंडक्टर के सहानुभूतिपूर्ण और विनम्र व्यवहार की प्रशंसा करते हुए परिवहन निगम के प्रबंधक को पत्र लिखिए।
उत्तर-
सेवा में
मुख्य प्रबंधक
बिहार राज्य परिवहन
पटना

महोदय

निवेदन है कि मैं जयपुर का निवासी हूँ। मैं बिहार राज्य की बस सेवा का कायल हूँ। आपकी बस-व्यवस्था बहुत कुशल, चुस्त-दुरुस्त और गतिशील है। पिछले दिनों मैंने आपके एक बस-चालक का ऐसा संवेदनशील और उदार व्यवहार देखा कि मैं उसका प्रशंसक हो गया हूँ।

पटना से राँची जाने वाली बस का चालक रणधीर सिंह बस चला रहा था। रास्ते में हमारे सामने एक स्कूटर और ट्रक की टक्कर हो गई। स्कूटर-सवार लहूलुहान सड़क पर पड़ा था। सभी वाहन उसे तड़पता छोड़कर अपने-अपने रास्ते पर जा रहे थे। तब रणधीर सिंह ने बस रोकी। उसने अपने कंडक्टर तथा कुछ यात्रियों की सहायता से घायल यात्री को बस में बैठाया तथा रास्ते में पड़ने वाले ट्रामा सेंटर में छोड़ दिया। मुझे नहीं पता कि वह यात्री जीवित बचा या नहीं, परंतु आपके ड्राइवर ने उसकी प्राण-रक्षा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। मैं उसके ऐसे मानवीय और उदार व्यवहार की प्रशंसा करता हूँ। आपके विभाग से निवेदन करता हूँ कि उसे सार्वजनिक रूप से सम्मानित किया जाए ताकि औरों को भी प्रेरणा मिले।

भवदीय
बजरंग लाल
335, गाँधी नगर
जयपुर
मार्च 20, 2018

प्रश्न 15.
अपने क्षेत्र में मच्छरों के प्रकोप का वर्णन करते हुए उचित कार्रवाई के लिए स्वास्थ्य अधिकारी को पत्र लिखें।
उत्तर-
सेवा में,
स्वास्थ्य अधिकारी
………नगरपालिका
…………………नगर

विषय-मच्छरों का बढ़ता हुआ प्रकोप

महोदय

मैं आपका ध्यान बढ़ते हुए मच्छरों के प्रकोप की ओर आकर्षित करता चाहता हूँ। मैं गोपाल नगर क्षेत्र का निवासी हूँ। पूरे गोपाल नगर क्षेत्र में आजकल मच्छरों का भयंकर उत्पात छाया हुआ है। दिन हो या रात, मच्छरों के झुंड सदा घूमते नजर आ जाते हैं। रात को तो वे सोना दूभर कर देते हैं। जब सुबह उठते हैं तो बच्चों के मुँह लाल-लाल दानों से भरे होते हैं। मच्छरों के कारण घर-घर में मलेरिया फैला हुआ है। प्रायः सभी घरों में कोई-न-कोई मलेरिया का रोगी मिल जाएगा। इन मच्छरों के कारण स्वास्थ्य पर बहुत बुरा असर पा है।

हमारे क्षेत्र में मच्छरों की अधिकता का बड़ा कारण है.-पानी के जमे हुए तालाब और गली-मुहल्लों में फैली चौड़ी-चौड़ी नंगी नालियाँ। उन कच्ची नालियों को व्यवस्थित करने की कोई व्यवस्था नहीं हुई है। मुहल्ले के जमादार सफाई की ओर ध्यान नहीं देते, इसलिए नालियों में सदा मल जमा पड़ा रहता है। लोग अपने घरों के गंदे जल को बाहर यूँ ही बिखरा देते हैं, जिससे मार्गों के गड़े भर जाते हैं। नगरपालिका निकम्मी है। हमने कई बार निवेदन किया है कि हमारे क्षेत्र के तालाब को भरवा दिया जाए, जिससे मच्छरों का मुख्य अडा समाप्त हो जाए, किंतु इस ओर कभी ध्यान नहीं दिया गया।

इस बार अत्यधिक वर्षा के कारण जगह-जगह जल का जमाव हो गया है। सब जगह कीचड़, मल और बदबूदार जल का प्रकोप हो गया है। अतः मैं पुनः गोपाल नगर के निवासियों की ओर से आप से साग्रह प्रार्थना करता हूँ कि मच्छरों को समाप्त करने के लिए घरों में मच्छरनाशक दवाई छिड़कने की व्यवस्था की जाए। मलेरिया से बचने के लिए कुनैन बाँटने की व्यवस्था की जाए तथा पूरे क्षेत्र की सफाई के व्यापक प्रबंध किए जाएँ। आशा है आप शीघ्र कार्यवाही करेंगे।

धन्यवाद सहित !

भवदीय
क. ख. ग.
मंत्री, मुहल्ला सुधार समिति
गोपाल नगर।
दिनांक : 19 जून, 2018

प्रश्न 16.
गत कुछ दिनों से आपके क्षेत्र में अपराध बढ़ने लगे हैं। उनकी रोक-थाम के लिए थानाध्यक्ष को राजनारायण सिंह की ओर से पत्र लिखिए।
उत्तर-
राजनारायण सिंह
परीक्षा भवन
राजकीय विद्यालय
कंकड़बाग
पटना
15 सितंबर, 2012
सेवा में
थानाध्यक्ष
कंकड़बाग
पटना

विषय-बढ़ते हुए अपराध

मैं आपका ध्यान आपके थाना-क्षेत्र में बढ़ते हुए अपराधों की ओर दिलाना चाहता हूँ। पिछले एक मास से इस क्षेत्र के निवासी स्वयं को असुरक्षित अनुभव करने लगे हैं। कृष्ण गली में दिन दहाड़े चोरी की तीन वारदातें हो चुकी हैं। पिछले सप्ताह एक कार तथा दो मोटर-साइकिलें चुराई जा चुकी हैं। चेन झपटने की घटनाएँ आम हो चुकी हैं। लोग डर के मारे रात को घर से बाहर नहीं निकलते। कुछ तो यहाँ बंगलादेशी नागरिक घुस आए हैं। कुछ नशाखोर युवक आवारा घूमते रहते हैं। उनके डर से लड़कियाँ घर से बाहर नहीं निकलतीं।

महोदय, इस क्षेत्र में पुलिस की सख्त कार्यवाही की जरूरत है। कृपया आप अपने सिपाहियों को गश्त लगाने का आदेश दें और अपराधी लोगों को पकड़कर दंडित करें।

भवदीय
पीयूष

प्रश्न 17.
आपके निकट के हस्पताल में आवश्यक उपकरणों एवं औषधियों के अभाव के कारण रोगियों को बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। इस समस्या की ओर अधिकारियों का ध्यान आकर्षित कराने के लिए किसी समाचार-पत्र के संपादक को पत्र लिखिए।
उत्तर-
सेवा में
मुख्य संपादक
दैनिक भास्कर
नई दिल्ली
महोदय

मैं आपके समाचार-पत्र के माध्यम से निम्नलिखित जन-समस्या पाठकों तक पहुँचाना चाहता हूँ। कृपया इसे छापकर कृतार्थ करें। .
आजकल दिल्ली रोहिणी सैक्टर-7 के सरकारी हस्पताल की दशा बहुत दयनीय है। यहाँ न तो कोई उपकरण काम करता है, न रोगियों को दवाइयाँ मिलती हैं। कहने को यह हस्पताल जनता के स्वास्थ्य की देखभाल करता है। परंतु वास्तविकता यह है कि इसकी एक्स-रे मशीन सदा खराब रहती है। खून, पेशाब आदि टैस्ट करने के रसायन नदारद रहते हैं। इसलिए रोगी हस्पताल के बाहर स्थित निजी प्रयोगशालाओं से मुँहमाँगे दामों पर परीक्षण कराते हैं। दवाइयों का स्टॉक हमेशा खत्म मिलता है। लगता है कि हस्पताल के अधिकारियों और निजी प्रयोगशालों तथा दवा-विक्रेताओं के बीच कोई साँठ-गाँठ है। ये तीनों मिलकर देश की लुटी-पिटी गरीब जनता को और लूट रहे हैं। मैं जनता और सरकार दोनों से निवेदन करता हूँ कि उनके समर्थ प्रतिनिधि हस्पताल की व्यवस्थाओं को सँभालें। इससे जरूरत मंदों को स्वास्थ्य-लाभ मिलेगा और उन्हें पुण्य मिलेगा।

धन्यवाद !

भवदीय
आशीष भटनागर
पाकेट E-27, सैक्टर-7
रोहिणी दिल्ली।
12.3.2018

प्रश्न 18.
सांप्रदायिकता और जातिवाद के विरोध में जन-जागृति पैदा करने के लिए समाचार-पत्र के प्रधान संपादक को एक पत्र लिखिए।
उत्तर-
सेवा में
प्रधान संपादक
हिंदू
चेन्नई
12-3-2018
महोदय

सांप्रदायिकता और जातिवाद के जहर के संबंध में मेरे ये विचा अपने पत्र में छापने की कृपा करें।

आज देश में सारे नेता और राजनीतिक दल इस होड़ में लगे हैं कि कौन अधिक-से-अधिक जातियों को अपनी थाली में सजा सकता है। सभी दलों की नजर वोटों पर है। वोटों पर ही नहीं, वोटों के गट्ठरों पर है। कौन एक-एक मतदाता को लुभाए। सभी दल चाहते हैं कि अगर अधिक संख्या वाली जातियों के मत उन्हें एकमुश्त मिल जाएँ तो वे देश की गद्दी पर बने रह सकते हैं। इसलिए वे देश को छोटी-छोटी जातियों और संप्रदायों में बाँटने में लगे हुए हैं।

किसी पार्टी को मुसलमानों के वोट चाहिए। इसलिए वह दल उन्हें लुभाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगाए हुए है। कभी प्रधानमंत्री कहते हैं कि देश की सारी संपत्ति पर पहला हक मुसलमानों का है। कभी कोई प्रांत सर्वोच्च न्यायालय के बार-बार रोकने पर भी मुसलमानों को आरक्षण बाँटे जा रहा है। कभी गूजर, कभी जाट तो कभी जैन और बौद्ध अपने-आपको अल्पसंख्यक सिद्ध करके हलवे की परात पर कब्जा करना चाहते हैं। उधर एक दल हिंदू राजनीति के बल पर सत्तासीन होना चाहता है। यह सब अंधदौड़ दुर्भाग्यपूर्ण है। संविधान के संरक्षकों को चाहिए कि वे देश को खंड-खंड करने वाली ताकतों पर अंकुश लगाएँ। इस देश में जाति और संप्रदाय की बात करने वालों को सजा दिलवाएँ। सब नागरिकों में भारतीय होने की भावना जगाएँ। तभी यह बुराई समाप्त होगी।

भवदीय

सुमित सिंहल
157, आवडी
चेन्नई।

प्रश्न 19.
नगर में जगह-जगह घूमने वाले आवारा पशुओं की समस्याओं की ओर जनता तथा अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट करते हुए अमर उजाला के मुख्य-संपादक को पत्र लिखिए।
उत्तर-
सेवा में
मुख्य संपादक
अमर उजाला
मथुरा

विषय आवारा पशुओं की समस्या

महोदय

मैं आपके लोकप्रिय समाचार-पत्र के माध्यम से अपने विचार जनता व अधिकारियों तक . पहुँचाना चाहता हूँ। आशा है आप अपने समाचार-पत्र में मेरे विचारों को स्थान देंगे।
आजकल हमारे नगर में जगह-जगह आवारा पशुओं का आतंक छाया हुआ है। इन पशुओं .. में साँड, गधे और सुअरों की बहुतायत है। ये पशु झुंड बनाकर आने-जाने वाले यात्रियों तथा वाहनों को क्षति पहुंचाते हैं। इनके कारण नगर में अनेक दुर्घटनाएं घट चुकी हैं। अभी कल ही की बात है, श्याम नगर में एक साँड ने एक 7 वर्षीय बालक को उठाकर पटक दिया। उस बच्चे की स्थिति गंभीर बनी हुई है।

शहर की साफ-सुथरी सड़कों का हाल खराब है। हर तरफ इन आवारा पशुओं की गोबर व विष्ठा बिखरी रहती है, जिसके कारण वातावरण प्रदूषित हो गया है। दुकानदारों का अपनी दुकानों पर बैठना मुश्किल हो गया है। आने-जाने वाले अपने मुँह पर कपड़ा रखकर बाजार से निकलते हैं।

इतना सब कुछ होने पर भी प्रशासन चुपचाप बैठा हुआ है। अधिकारियों का ध्यान न तो गंदगी पर जाता है, न ही दुर्घटनाओं पर। नगरपालिका के अधिकारियों से मेरा निवेदन है कि इस समस्या की ओर तुरंत ध्यान दें।

धन्यवाद !

भवदीय
प्रदीप कुमार शमा
16, लक्ष्मी नगर
मथुरा

दिनांक : मार्च 15, 2018

प्रश्न 20.
बैंक में खाता खोलने के लिए बैंक-मैनेजर के नाम पत्र लिखिए।
उत्तर-
सेवा में
प्रबंधक
पंजाब नेशनल बैंक
पटेल नगर शाखा, अहमदाबाद

विषय-बैंक में नया बचत खाता खोलना

महोदय

निवेदन है कि मैं आपके बैंक में अपने नाम से एक बचत खाता खोलना चाहता हूँ। कृपया अनुमति प्रदान करते हुए इस विषय में उचित जानकारी दें।

सधन्यवाद !
भवदीय
………………… नाम
…………………. पता
दिनांक : 6 अप्रैल, 2018

प्रश्न 21.
कुछ नव-प्रकाशित पुस्तकें मंगाने के लिए किरण पब्लिकेशन, चक मुसल्लहपुर, पटना के व्यापार-प्रबंधक को एक पत्र लिखिए।
उत्तर-
किरण पब्लिकेशन
पटना-6
6 अप्रैल, 2018
सेवा में
व्यापार-प्रबंधक
किरण पब्लिकेशन
पटना-6

विषय-पुस्तकों की खरीद संबंधी।

महोदय

कृपया निम्नलिखित पुस्तकें उचित कमीशन काटकर वी.पी.पी. द्वारा शीघ्रातिशीघ्र भेजने का कष्ट करें। पाँच सौ रुपये मनीआर्डर द्वारा अग्रिम भेज रहा हूँ। पुस्तकें नवीन संस्करण की होनी चाहिए। कटी-फटी तथा सजिल्द न होने पर पुस्तकें लौटा दी जाएँगी, जिनके व्यय-भार का उत्तरदायित्व आपका होगा
Bihar Board Class 10 Hindi रचना पत्र लेखन - 1

भवदीय
राजीव रंजन सिन्हा
बिहार शरीफ (नालन्दा)

प्रश्न 22.
आपके विद्यालय के छात्र 14-15 मार्च, 2018 को मसूरी-भ्रमण पर जाना चाहते हैं। वहाँ स्थित यूथ होस्टल के प्रबंधक को पत्र लिखकर जानकारी लें कि क्या इन दिनों – ठहरने का प्रबंध हो सकता है और किराया कितना होगा?
उत्तर-
क.ख.ग. (नाम)
च.छ.ज. विद्यालय
……………… नगर
17-2-2018
प्रबंधक
यूथ होस्टल
मसूरी

विषय-14-15 मार्च को बुकिंग ।

महोदय
हमारे विद्यालय के 30 छात्र और 8 शेष सदस्य 14-15 मार्च, 2018 को मसूरी-यात्रा पर आना चाहते हैं। कृपया सूचना दें कि क्या आपका भवन हमें उपलब्ध हो सकता है ? छात्रों के लिए कितना किराया होगा? भोजन और भ्रमण की व्यवस्था के बारे में भी विस्तृत सूचना दिए गए पते पर देने की कृपा करें।

धन्यवाद !

भवदीय
क.ख.ग.

अनौपचारिक पत्र

प्रश्न 1.
ग्रीष्मावकाश में आपके पर्वतीय मित्र ने आपको आमंत्रित कर अनेक दर्शनीय स्थलों .. की सैर कराई। इसके लिए उसका आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद-पत्र लिखिए।
उत्तर-
मधुर जेतली
7/7, न्यू कॉलोनी
गुड़गाँव
मार्च 13, 2018
प्रिय चेतन

मधुर स्मृति !

कैसे हो? आशा है, हिमाचल की बर्फीली वादियों जैसे सुहाने होगे। प्रिय चेतन! जब से तुमने मुझे मनाली और रोहतांग दर्रे की सैर कराई है, मेरे मन में सदा उन बर्फीली पहाड़ियों की मूर्ति बनी रहती है। मुझे रह-रहकर चाँदी से भी सुंदर बर्फीली चोटियों की याद आती है। कभी वशिष्ठ आश्रम के पास से बहते हुए जल की याद आती है, हिडिंबा का मंदिर याद आता है। तुम्हारे संग देखे गए मनाली से रोहतांग तक के खूबसूरत रास्ते मुझे कभी भुलाए नहीं भूल सकते। वो मढ़ी, वो स्नोप्वाइंट! वो बर्फ की घाटी में स्लेज पर फिसलना। वो फोटोग्राफी! वो बर्फ के बीचोंबीच बैठकर चाय पीना। बर्फ के खेल खेलना। मेरे जीवन के सबसे सुंदर और सुहाने पल यही हैं। इसके हर पल में तुम हो! तुम्हारी यादें हैं। तुम्हारा प्रेम है और प्रेम-भरा निमंत्रण है।

प्रिय चेतन! तुम्हारे निमंत्रण पर मैं इन खूबसूरत दर्शनीय स्थलों का आनंद उठा सका। इसके लिए मेरे पास धन्यवाद के योग्य शब्द नहीं हैं। बस इतना कहूँगा—आभार! धन्यवाद!

तुम्हारा
मधुर जेतली

प्रश्न 2.
अनुराधा के मामाजी ने उनके जन्मदिन पर एक पुस्तक उपहार में भेजी है। धन्यवाद व्यक्त करते हुए उन्हें पत्र लिखिए।
उत्तर-
अनुराधा
परीक्षा भवन
क.ख.ग. केंद्र
16 मार्च, 2018
आदरणीय मामाजी

सादर नमस्कार !

आशा है, आप सानंद होंगे। मामीजी तथा सुरम्या भी प्रसन्न होंगी।
मामाजी, आपने मेरे जन्मदिन पर मुंशी प्रेमचंद द्वारा रचित उपन्यास ‘निर्मला’ भेजा है। यह उपन्यास मैंने पढ़ा है। यह मुझे बहुत पसंद आया है। इससे पहले मैंने कभी कहानियों की किताबें नहीं पढ़ी थीं। या तो कोर्स में लगी हुई कहानियाँ पढ़ी थीं या अखबारों में छपी कहानियाँ। इन्हें पढ़कर मेरे मन में विशेष रूचि नहीं जागी थी। परंतु निर्मला ने तो मेरे मन को झकझोर कर रख दिया। उसे पढ़कर लगा कि मैं निर्मला की बहुत ही गहरी सहेली और प्रशंसक हो गई हूँ। मुझे उसकी मृत्यु पर गहरा दुख है। यह उपन्यास जीती-जागती दुनिया से भी अधिक प्रभावशाली और मार्मिक है।

आपके प्रति बहुत-बहुत धन्यवाद! आपने मुझे अच्छा साहित्य पढ़ने का अवसर दिया। मेरा मन कर रहा है कि ऐसे अन्य उपन्यास भी पहूँ। आपने मेरे जन्मदिन पर मुझे याद रखा। इसके लिए धन्यवाद!

आपकी प्रिय भानजी
अनुराधा

प्रश्न 3.
वाद-विवाद प्रतियोगिता में प्रथम आने पर अपनी छोटी बहन को बधाई देते हुए पत्र लिखिए।
उत्तर-
सुस्मिता
13.3.2018
प्रिय नेहा
स्नेह!

बहुत बधाई हो नेहा! मुझे पता चला है कि तुमने अपने नगर में आयोजित वाद-विवाद प्रतियोगिता जीत ली है। नेहा! तुमने सचमुच कमाल कर दिया है। वैसे तो तुम इस जीत के योग्य हो। तुममें इतनी प्रतिभा और योग्यता है कि तुम कोई भी भाषण प्रतियोगिता जीत सकती हो। तुम पर माँ सरस्वती की कृपा है। मेरी ओर से बहुत-बहुत बधाई! तुम्हारे लिए मैंने और ज्ञानवर्द्धक पुस्तकें खरीद रखी हैं। आने पर भेंट करूँगी। ईश्वर करे, तुम आगे भी इसी प्रकार की सफलता पाती रहो।

तुम्हारी बहन
सुस्मिता

प्रश्न 4.
वसुंधरा (गाजियाबाद) निवासी निखिल गुप्ता की ओर से पत्र लिखकर अभिनव शर्मा को लिखिए जिसमें दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में प्रवेश पाने में मिली सफलता पर बधाई दी गई हो।
उत्तर-
निखिल गुप्ता
3/23, वसुंधरा
गाजियाबाद
14 मार्च, 2018
प्रिय अभिनव शर्मा!

नमस्कार!

आशा है, तुम बहुत प्रसन्न होगे। तुम्हें दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में प्रवेश मिल गया । है। यह तुम्हारे जीवन की बहुत बड़ी सफलता है। मेरी ओर से बहुत-बहुत बधाई!
प्रिय अभिनव! मुझे तुम्हारी योग्यता पर, प्रतिभा पर, दृढ़ इरादे पर और कठोर साधना पर गर्व है। भवान तुम्हें और भी उन्नति दे और मनचाही सफलता प्रदान करे। एक बार फिर से बधाई!
परंतु यार, मिठाई रह गई। तुम्हारे साथ इस खुशी को मनाने का अवसर रह गया। यह तुम्हें देखना है कि कब बुलाते हो!

तुम्हारा ही
निखिल गुप्ता

प्रश्न 5.
विद्यालय में प्रथम स्थान पर उत्तीर्ण होने पर अपने मित्र को एक बधाई-पत्र लिखिए।
उत्तर-
……….. म.नं.
……….. मोहल्ला
……………. नगर।
दिनांक-27 अप्रैल, 2018

प्रिय शिखा
मधुर स्मृति!

बहुत-बहुत बधाई हो शिखा! मुझे अभी-अभी तुम्हारी सखी नीलम का टेलीफोन संदेश मिला है। पता चला कि तुमने इस वर्ष नवम कक्षा में अपने विद्यालय में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। अगले वर्ष तुम्हारी बोर्ड की परीक्षा होनी है। आशा है, उसमें भी तुम अपने माता-पिता का नाम उज्ज्वल करोगी।

शिखा! मुझे इस समाचार से बहुत प्रसन्नता हुई है। मन में इतनी खुशी हुई कि सारे जरूरी काम छोड़कर तुम्हें बधाई-पत्र लिख रही हूँ। मेरी ओर से हार्दिक बधाई। ईश्वर करे तुम दिन दुगुनी रात चौगुनी तरक्की करो। मम्मी-पापा भी तुम्हें आशीर्वाद भेज रहे हैं।

पुनः बधाई के साथ।
तुम्हारी सखी
दीपा

प्रश्न 6.
तुम नवीन शर्मा, 184, जनकपुरी, नई दिल्ली के निवासी हो। अपने छोटे भाई को परीक्षा में अच्छे अंक लाने के लिए शुभकामना-पत्र लिखो।
उत्तर-
नवीन शर्मा
184, जनकपुरी
नई दिल्ली
दिनांक-फरवरी 12, 2018
प्रिय प्रवीण

स्नेह!

आशा है सकुशल होंगे। अगले मास तुम्हारी वार्षिक परीक्षाएँ हैं मन लगार पढ़ाई करो। परिश्रम का फल अवश्य मिलता है। हमारी बहुत सी आशाएँ तुम्हारे अच्छे परिणाम से जुड़ी हुई हैं। अच्छी सफलता के लिए हार्दिक शुभकामनाएँ।

तुम्हारा
नवीन शर्मा

प्रश्न 7.
बालभवन, उदयपुर के विवेक व्यास की ओर से उसके मित्र के पिता की असामयिक मृत्यु पर एक संवेदना-पत्र लिखिए।
उत्तर-
विवेक व्यास
बालभवन
उदयपुर
मार्च 25, 2012

प्रिय बंधु श्याम लाल

तुम्हारे पूज्य पिताजी की मृत्यु का दुखद समाचार सुनकर बहुत दुख हुआ। पिछले महीने ही उनसे मुलाकात हुई थी। वे स्वस्थ दिखाई दे रहे थे। मैं उनसे काफी देर तक बातचीत करता रहा। उनकी मृत्यु संभवतः अचानक ही हुई है। मन शांत होने पर लिखना कि उनका निधन किस प्रकार हुआ। हम सभी बहुत दुखी हैं।

पिता के चल जाने पर परिवार का सारा भार तुम्हारे ऊपर आ गया है। भगवान तुम्हें इस दुख को सहने की शक्ति दे। माता जी का विशेष ध्यान रखना। उनका सहारा अब तुम्हीं हो।
भगवान से प्रार्थना है कि वह दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे।

तुम्हारे दुख में दुखी-
विवेक व्यास

प्रश्न 8.
विमान दुर्घटना में आपके मित्र के भाई की मृत्यु हो गई। आप अपने मित्र को एक संवेदना-पत्र लिखिए।
उत्तर-
3/169, मालवीय नगर
वाराणसी।
27 मार्च, 2018

प्रिय मित्र रोहित

आज प्रातः ‘नवभारत टाइम्स’ में यह दुखदायी समाचार पढ़ा कि मिग विमान दुर्घटना में अक्षय की मृत्यु हो गई। समाचार में लिखा था कि वायुसेना का कोई समारोह था जिसमें अक्षय हवाई-प्रदर्शन कर रहा था। मित्र! इस संकट की घड़ी में धीरज रखना। भाभी जी को सांत्वना देना, बच्चों को सँभालना। माता-पिता भी इस हादसे से व्यथित होंगे। तुम्हारा कर्तव्य है कि परिवार को सँभालो।

भाई के चले जाने पर परिवार की सारी जिम्मेदारियाँ अब तुम्हारे ऊपर हैं। भगवान से प्रार्थना है कि तुम्हें इस भारी दुख को सहन करने की शक्ति दें। मित्र! अपने आपको अकेला मत समझना। हम सभी तुम्हारे साथ हैं।

तुम्हारा मित्र
श्री निवासना

प्रश्न 9.
विद्यालय में नियमित उपस्थित रहने और परीक्षा की तैयारी भली-भांति करते रहने की सलाह देते हुए छोटे भाई को पत्र लिखिए।
उत्तर-
समीर रखान
202, हौज काजी
दिल्ली
15.3.2018

प्रिय असलम
कैसे हो?

आशा है, तुम खुश होगे। तुम्हारी पढ़ाई भली-भाँति चल रही होगी। तुमने पीछे बताया था कि तुम रात देर तक पढ़ते हो। तुम अपनी यह आदत बदल नहीं सके हो। इसलिए मैं समझता हूँ कि कभी-कभी तुम स्कूल नहीं जा पाते होगे। अगर जाते होगे तो वहाँ नींद आती होगी। तुमने मान लिया है कि सफलता स्वयं पढ़ने से होती है। जब से तुमने कोचिंग लेना शुरू की है, तुमने स्कूल में होने वाली पढ़ाई की ओर ध्यान देना छोड़ दिया है।

प्रिय असलम! स्कूल की नियमित पढ़ाई छोड़ना ठीक नहीं है। यह तुम्हारी पढ़ाई का मूल आधार है। इससे तुम्हारे अध्यापक तुम्हारी ओर ध्यान देना छोड़ देंगे। तब तुम्हें अपनी कमजोरियों का पता नहीं चल सकेगा। तुम्हारा मार्गदर्शन भी नहीं हो पाएगा। मेरा तुमसे आग्रह है कि अपनी दिनचर्या इस प्रकार बनाओ कि स्कूल की नियमित पढ़ाई पर आँच न आए।
आशा है, तुम मेरी सलाह की ओर ध्यान दोगे।

तुम्हारा भाई
समीरखान

प्रश्न 10.
परीक्षा में कम अंक आने पर असंता और दुखी मित्र को सांत्वना-पत्र लिखिए।
उत्तर-
नीलिमा
34/7, टी.टी. नगर
भोपाल
14 मार्च, 2018
प्रिय स्नेहा

स्नेह!

मुझे पता चला है कि इस बार तुम्हारा परीक्षा-परिणाम बहुत खराब रहा। तुमने मेहनत भी खूब की थी। ट्यूशन भी रखी थी। तुम बता रही थीं कि तुम्हारे पेपर भी अच्छे हुए हैं। तब भी परीक्षा-परिणाम अच्छा नहीं रहा। यह सुनकर मेरा मन भी परेशान है। मैं समझ नहीं पा रही कि गलती कहाँ हुई है ? क्या तुमसे लिखने में कोई गलती हुई है ? या परीक्षक ने सावधानी से पेपर चैक नहीं किए ? या तुम्हारी कापी किसी नालायक बच्चे से बदल दी गई है?

प्रिय स्नेहा! पहले तो तुम अपने कम अंक आने का ठीक कारण जानो। मैं तुम्हारे पास नहीं हूँ। वरना मैं ही इसमें सहयोग करती। यदि पता चले कि कहीं गलती तुम्हारी पढ़ाई में है तो अपने अध्यापकों के पास व्यक्तिगत रूप से जाओ। उन्हें अपनी पीड़ा बताओ। तुम्हारी सफलता का रास्ता जरूर निकलेगा क्योंकि तुम सचमुच मेहनती लड़की हो। आशा है, तुम ठीक दिशा में प्रयल करोगी।

तुम्हारी ही
नीलिमा

प्रश्न 11.
आपको विद्यालय की ओर से लंदन-विद्यालय खेलकूद समारोह में भाग लेने के लिए भेजा गया। इस यात्रा व समारोह के अनुभव बताते हुए अपने मित्र को पत्र लिखें।
उत्तर-
परीक्षा भवन
क.ख.ग. केंद्र
नई दिल्ली
15 मार्च, 2018

प्रिय मित्र कपिल
नमस्कार!

आशा है, तुम हमेशा की तरह स्वस्थ और प्रसन्न होगे। मैं भी प्रसन्न और कुशल हूँ। मैं तुम्हें खुशी का यह समाचार देना चाहता हूँ कि मैं अभी-अभी लंदन-विद्यालय लंदन से लौटा हूँ। तुम जानते हो, मैंने पिछले मास लॉन टेनिस में पूरी दिल्ली में स्वर्णपदक प्राप्त किया था। उसी सिलसिले में मुझे उत्तर भारत का नेतृत्व करने के लिए लंदन-विद्यालय, लंदन में भेजा गया। मुझे वहाँ स्कूली बच्चों की एक अंतर्राष्ट्रीय टेनिस प्रतियोगिता में भाग लेना था। मेरे साथ मेरे कोच भी थे।

प्रिय कपिल! मैं 26 जनवरी, 2018 को दिल्ली से रवाना हुआ। एअर इंडिया के हवाई जहाज .. से मैं लंदन पहुँचा। पहली बार विदेश जाने के कारण मैं बहुत गद्गद था। लंदन का हवाई अड्डा देखकर मैं चकाचौंध रह गया। उससे भी अधिक आश्चर्य हुआ लंदन-विद्यालय के खेल-परिसर को देखकर। वहाँ के लोगों की व्यवस्था, सफाई, सुंदरता और समय की पाबंदी ने मुझ पर गहरा असर डाला। मुझे तीन चक्र खेलने थे। पहले मैच में मैंने स्विटजरलैंड के खिलाड़ी को आसानी से हराया। दूसरा मैच संघर्षपूर्ण था। यह इंग्लैंड के खिलाड़ी के साथ था। यह मैच मैंने 6-4, 4-6, 7-6 से जीता। अंतिम मैच रूस के खिलाड़ी के साथ था। तुम्हें यह जानकर प्रसन्नता होगी कि तुम्हारे मित्र ने यह मैच भी जीत लिया तथा स्वर्णपदक प्राप्त किया। मैं इस जीत से बहुत उत्साहित हूँ। काश! तुम भी साथ होते!

तुम्हारा मित्र
सचिन

प्रश्न 12.
आपने अपने विद्यालय में वृक्षारोपण समारोह का आयोजन करवाया और आपकी इसमें सक्रिय भागीदारी रही। इस समारोह का अनुभव बताते हुए अपने छोटे भाई को पत्र लिखें।
उत्तर-
समर दलाल
565,
प्रिय संचित

स्नेह!

आशा है, तुम स्वस्थ और प्रसन्न होगे।

संचित! कल हमारे विद्यालय में वृक्षारोपण समारोह मनाया गया था। उस आयोजन के लिए छात्रों की एक प्रबंध समिति बनाई गई थी। सौभाग्य से मुझे उस समिति का निदेशक बनाया गया था। अतः वृक्षारोपण समारोह की सारी कार्यवाही मैंने चलाई। मेरे साथ सचिव, सह-सचिव तथा . छः अन्य सदस्य थे। हमें प्राचार्य, शारीरिक शिक्षा के अध्यापक तथा अपने क्लास-टीचर का मार्गदर्शन मिला।

वृक्षारोपण समारोह में हमने 200 पौधे लगाने का लक्ष्य रखा था। इसके लिए हमने 100 बच्चों का दल तैयार किया। इसके लिए हमने हर कक्षा से चार-चार छात्र-छात्राओं की एक बैठक रखी। उसमें सबके सुझाव मांगे तथा पूरी योजना तैयार की। स्कूल के पूरे परिसर तथा खेल के मैदान में 200 स्थान चुने जहाँ पौधे लगाए जाने थे। एक-एक छात्र-दल को 10-10 पौधे लगाने का जिम्मा सौंपा गया। पहले प्राचार्य की सहायता से पौधे मंगाए गए। गड़े खोदने के लिए औजार मँगाए गए। पानी, खुरपी के साथ-साथ माली की देखरेख में सुबह 8.00 बजे काम शुरू हुआ। 12 बजे तक सभी पौधे लगकर तैयार हो गए। बाद में उन पर चूने से गोल दायरे लगाए गए। . . 12 बजे विद्यालय के मंच पर एक सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया गया। उसमें छात्राओं ने . नृत्य प्रस्तुत किया। मैंने एक भाषण दिया। सभी सहयोगी विद्यार्थियों की प्रशंसा की। एक महीने तक उनकी देखभाल करने का जिम्मा भी सौंपा गया। मेरे लिए यह दिन बहुत उत्साहपूर्ण और प्रसन्नतादायक रहा।

शेष शुभ!
तुम्हारा भाई
समर दलाल

Bihar Board Class 10 Hindi Solutions गद्य Chapter 11 नौबतखाने में इबादत

   

Bihar Board Class 10 Hindi Book Solutions Godhuli Bhag 2 गद्य खण्ड Chapter 11 नौबतखाने में इबादत Text Book Questions and Answers, Summary, Notes.

BSEB Bihar Board Class 10 Hindi Solutions गद्य Chapter 11 नौबतखाने में इबादत

Bihar Board Class 10 Hindi नौबतखाने में इबादत Text Book Questions and Answers

बाध और अभ्यास

पाठ के साथ

प्रश्न 1.
डुमरॉव की महत्ता किस कारण से है ?
उत्तर-
डुमराँव की महत्ता शहनाई के कारण है। प्रसिद्ध शहनाईवादक बिस्मिल्ला खाँ का जन्म डुमराँव में हुआ था। शहनाई बजाने के लिए जिस ‘रीड’ का प्रयोग होता है, जो एक विशेष प्रकार ‘ की घास ‘नरकट’ से बनाई जाती है, वह डुमराँव में सोन नदी के किनारे पाई जाती है।

प्रश्न 2.
सुषिर वाद्य किन्हें कहते हैं। ‘शहनाई’ शब्द की व्युत्पति किस प्रकार हुई है ?
उत्तर-
सुषिर वाद्य ऐसे वाद्य हैं, जिनमें नाड़ी (नरकट या रीड) होती है, जिन्हें फूंककर बजाया जाता है। ऐसे वाद्यों में शहनाई को शाह की उपाधि दी गई है, क्योंकि यह वाद्य मुरली, शृंगी जैसे अनेक वाद्यों से अधिक मोहक है। शहनाई की ध्वनि हमारे हृदय को स्पर्श करती है।

प्रश्न 3.
बिस्मिला खाँ सजदे में किस चीज के लिए गिड़गिड़ाते थे ? इससे उनके व्यक्तित्व का कौन-सा पक्ष उद्घाटित होता है ?
उत्तर-
बिस्मिल्ला खाँ जब इबादत में खुदा के सामने झुकते तो सजदे में गिड़गिड़ाकर खुदा से सच्चे सुर का वरदान माँगते। इससे पता चलता है कि खाँ साहब धार्मिक, संवेदनशील एवं निरभिमानी थे। संगीत-साधना हेतु समर्पित थे। अत्यन्त विनम्र थे।

प्रश्न 4.
मुहर्रम पर्व से बिस्मिल्ला खाँ के जुड़ाव का परिचय पाठ के आधार पर दें।
उत्तर-
बिस्मिल्ला खाँ सच्चे और धार्मिक मुसलमान हैं। मुहर्रम में उनका जो रीति-रिवाज था उसे वे मानते हैं और व्यवहार में लाते हैं। बड़े कलाकार का सहज मानवीय रूप एस अब आसानी से दिख जाता है। मुहर्रम का महीना वह होता है जिसमें शिया मुसलमान हजरत इमाम हुसैन एवं उनके कुछ वंशजों के प्रति अजादारी मनाते हैं। पूरे दस दिनों का शोक आठवीं तारीख उनके लिए खास महत्त्व की है। इस दिन खाँ साहब खड़े होकर शहनाई बजाते हैं व दालमंडी में फातमान के करीब आठ किलोमीटर की दूरी तक पैदल रोते हुए, नौहा बजाते जाते हैं। इस दिन कोई राग नहीं बजता। राग-रागनियों की अदायगी का निषेध है इस दिन।

प्रश्न 5.
‘संगीतमय कचौड़ी’ का आप क्या अर्थ समझते हैं ?
उत्तर-
संगीतमय कचौड़ी इस तरह क्योंकि जुलसुम जब कलकलाते घी में कचौड़ी डालती थी, उस समय छन्न से उठने वाली खाली आवाज में इन्हें सारे आरोह-अवरोह दिख जाते थे। कहने का तात्पर्य यह है कि कचौड़ी खाते वक्त भी खाँ साहब का मान संगीत के राग में ही रमा रहता था। इसीलिए उन्हें कचौड़ी भी संगीत मय लग रहा था।

प्रश्न 6.
बिस्मिला खाँ जब काशी से बाहर प्रदर्शन करते थे तो क्या करते थे? इससे हमें क्या सीख मिलती है ?
उत्तर-
बिस्मिल्ला खाँ जब कभी काशी से बाहर होते तब भी काशी विश्वनाथ को नहीं भूलते। काशी से बाहर रहने पर वे उस दिशा में मुंह करके थोड़ी देर तक शहनाई अवश्य बजाते थे। वे विश्वनाथ मंदिर की दिशा में मुंह करके बैठते और विश्वनाथ के प्रति उनकी श्रद्धा एवं आस्था .. शहनाई के सुरों में अभिव्यक्त होती थी। एक मुसलमान होते हुए भी बिस्मिल्ला खाँ काशी… विश्वनाथ के प्रति अपार श्रद्धा रखते थे। इससे हमें धार्मिक दृष्टि से उदारता एवं समन्वयता की सीख मिलती है। हमें धर्म को लेकर किसी प्रकार का भेद-भाव नहीं रखना चाहिए।

प्रश्न 7.
‘बिस्मिल्ला खाँ का मतलब-बिस्मिल्ला खां की शहनाई।’ एक कलाकार के रूप में बिस्मिल्ला खाँ का परिचय पाठ के आधार पर दें।
उत्तर-
बिस्मिल्ला खाँ एक उत्कृष्ट कलाकार थे। शहनाई के माध्यम से उन्होंने संगीत-साधना को ही अपना जीवन मान लिये थे। शहनाईवादक के रूप में वे अद्वितीय पहचान बना लिये थे। बिस्मिल्ला खाँ का मतलब है-बिस्मिल्ला खाँ की शहनाई। शहनाई का तात्पर्य बिस्मिल्ला खाँ का हाथा हाथ से आशय इतना भर कि बिस्मिल्ला खाँ की फूंक और शहनाई की जादुई आवाज का असर हमारे सिर चढ़कर बोलने लगता है। शेर खाँ साहब की शहनाई से सात सुर ताल के साथ निकल पड़ते थे। इनका संसार सुरीला था। इनके शहनाई में परवरदिगार, गंगा मइया, उस्ताद की नसीहत उतर पड़ती थी। खाँ साहब और शहनाई एक-दूसरे के पर्याय बनकर संसार के सामने उभरे।

प्रश्न 8.
आशय स्पष्ट करें
(क) फटा सुर न बखगे। लुंगिया का क्या है,
आज फटी है, तो कल सिल जाएगी।
व्याख्या-
जब एक शिष्या ने डरते-डरते बिस्मिल्ला खाँ से पूछा कि बाबा, आप फटी तहमद क्यों पहनते हैं ? आपको तो भारतरत्न मिल चुका है। अब आप ऐसा न करें। यह अच्छा नहीं लगता है जब भी कोई आपसे मिलने आता है तो आप इसी दशा में सहज, सरल भाव से मिलते हैं।

इस प्रश्न को सुनकर सहज भाव से खाँ साहब ने शिष्या को कहा-अरे पगली भारतरत्न तो शहनाईवादन पर मिला है न। इस लुंगी पर नहीं न मिला है। अगर तुमलोगों की तरह बनावट श्रृंगार में मैं लग जाता तो मेरी उमर ही बीत जाती और मैं यहाँ तक नहीं पहुँचता। तब मैं रियाज खाक करता। मैं तुम्हारी बात से सहमत हूँ अब आगे से फटी हुई तहमद नहीं पहनूँगा लेकिन इतना बता देता हूँ कि मालिक यही दुआ दे यानी भगवान यही कृपा रखें कि फटा हुआ सूर नहीं दें। सूर में लय दें और कोमलता दें। फटी लुगी तो मैं सिलवा लूंगा लेकिन फटा हुआ राग या सूर लेकर क्या करूँगा। अतः, ईश्वर रहम करे और सूर की कोमलता बचाये रखे।

(ख) काशी संस्कृति की पाठशाला है।
व्याख्या-
काशी संस्कृति की पाठशाला है शास्त्रों में इसकी महत्ता का वर्णन है। इसे आनंद कानन से जाना जाता है। काशी में कलाधर हनुमान व नृत्व विश्वनाथ हैं। काशी में बिस्मिल्ला खाँ हैं। काशी में हजारों साल का इतिहास है। यहाँ कई महाराज हैं। विद्याधारी हैं। बड़े रामदास जी हैं। मौजुद्दीन खाँ हैं। इन रसिकों से उत्कृष्ट होनेवाला अपार-जन समूह है। यह एक अलग काशी है जिसकी अलग तहजीब है, अपनी बोली और अपने विशिष्ट लोग हैं। इनके अपने उत्सव हैं। अपना गम है। अपना सेहरा-बन्ना और अपना नौहा है। यहाँ संगीत को भक्ति से, भक्ति को धर्म से किसी धर्म के कलाकार से, कजरी को चैती से विश्वनाथ को विशालक्षी से, बिस्मिल्ला खाँ को गंगा द्वार से अलग करके नहीं देखा जा सकता।
इस प्रकार काशी सांस्कृतिक महानगरी है। इसकी अपनी महत्ता है।

प्रश्न 9.
बिस्मिला खाँ के बचपन का वर्णन पाठ के आधार पर दें ।
उत्तर-
अमीरुद्दीन यानी उस्ताद बिस्मिल्ला खाँ का जन्म डुमराँव, बिहार के एक संगीत-प्रेमी परिवार में हुआ था। पाँच-छ: वर्ष की उम्र में ही वह अपने ननिहाल काशी चले गए। डुमराँव की इतमी ही महत्ता है कि शहनाई की रीड बनाने में काम आने वाली नरकट वहाँ सोन नदी के किनारे पाई जाती हैं। बिस्मिल्ला खाँ के परदादा उस्ताद सलार हुसैन खाँ डुमराँव निवासी थे। बिस्मिल्ला खाँ उस्ताद पैगंबर बख्श खाँ और मिट्ठन के छोटे साहबजादे हैं। चार साल की उम्र में ही नाना की शहनाई को सुनते और शहनाई को ढूंढते थे। उन्हें अपने मामा का सान्निध्य भी बचपन में शहनाईवादन की कौशल विकास में लाभान्वित किया। 14 साल की उम्र में वे बालाजी के मंदिर में रियाज करने के क्रम में संगीत साधनारत हुए और आगे चलकर महान कलाकार हुए।

भाषा की बात

प्रश्न 1.
रचना के आधार पर निम्नलिखित वाक्यों की प्रकृति बताएँ
(क) काशी संस्कृति की पाठशाला है।
(ख) शहनाई और डुमराँव एक-दूसरे के लिए उपयोगी हैं।
(ग) एक बड़े कलाकार का सहज मानवीय रूप ऐसे अवसरों पर आसानी से दिख जाता है।
(घ) उनको यकीन है, कभी खुदा यूँ ही उन पर मेहरबान होगा।
(ङ) धत्। पगली ई भारतरत्न हमको शहनईया पे मिला है, लुंगिया पे नाहीं।
उत्तर-
सरल वाक्य – (क)
संयुक्त वाक्य – (ख)
मिश्रवाक्य – (ग), (घ), (ङ)

प्रश्न 2.
निम्नलिखित वाक्यों से विशेषण छाँटिए.
(क) इसी बालसुलभ हँसी में कई यादें बंद है।
उत्तर-
कई, बालसुलभ।

(ख) अब तो आपको भारतरत्न भी मिल चुका है, यह फटी तहमद न पहना करें।
उत्तर-
फटी, भारतरत्न।

(ग) शहनाई और काशी से बढ़कर कोई जन्नत नहीं इस धरती पर। . .
उत्तर-
कोई।

(घ) कैसे सुलोचना उनकी पसंदीदा हीरोइन रही थीं, बड़ी रहस्यमय मुस्कराहट के साथ गालों पर चमक आ जाती है।
उत्तर-
पसंदीदा, रहस्यमय, चमक।

गद्यांशों पर आधारित अर्थग्रहण-संबंधी प्रश्नोत्तर

1. अमीरुद्दीन का जन्म डुमराँव, बिहार के एक संगीतप्रेमी परिवार में हुआ था। 5-6 वर्ष डुमराँव में बिताकर वह नाना के घर, ननिहाल काशी में आ गया। शहनाई और डुमराँव एक-दूसरे के लिए उपयोगी हैं। शहनाई बजाने के लिए रीड का प्रयोग होता है। रीड अंदर से पोली होती है जिसके सहारे शहनाई को फूंका जाता है। रीड, नरकट (एक प्रकार की घास) से बनाई जाती है जो डुमराँव के आसपास की नदियों के कछारों में पाई जाती है। फिर अमीरुद्दीन जो हम सबके प्रिय हैं, अपने उस्ताद बिस्मिल्ला खाँ साहब हैं। इनके परदादा उस्ताद सलार हुसैन खाँ डुमराँव निवासी थे। बिस्मिल्ला खाँ उस्ताद पैगंबरख्श खाँ और मिट्ठन के छोटे साहबजादे हैं।

प्रश्न
(क) प्रस्तुत गद्यांश किस पाठ से लिया गया है और इसके लेखक कौन हैं ?
(ख) बिस्मिल्ला खाँ का जन्म कहाँ हुआ था। उनके बचपन का क्या नाम था ?
(ग) रीड किससे बनता है ? इसका प्रयोग कहाँ होता है ?
(घ) शहनाई और डुमराँव एक-दूसरे के लिए उपयोगी क्यों हैं ?
उत्तर-
(क) प्रस्तुत गद्यांश नौबतखाने में इबादत शीर्षक जीवन-वृत्त से लिया गया है। इसके लेखक यतीन्द्र मिश्र हैं।
(ख) बिस्मिल्ला खाँ का जन्म डुमराँव में हुआ था। उनके बचपन का नाम अमीरुद्दीन था।
(ग) रीड, नरकट (एक प्रकार की घास) से बनता है। इसका प्रयोग शहनाई में होता है। इसी के सहारे शहनाई को फूंका जाता है।
(घ) शहनाईवादक भारतरत्न सम्मानित बिस्मिल्ला खाँ का जन्म डुमराँव में हुआ था। शहनाई बजाने के लिए रीड की आवश्यकता होती है। रीड नरकट से बनता है जो डुमराँव के आसपास की नदियों के कछारों में पाया जाता है।

2. शहनाई की इसी मंगलध्वनि के नायक बिस्मिल्ला खाँ साहब अस्सी बरस से सुर माँग रहे हैं। सच्चे सुर की नेमत। अस्सी बरस की पाँचों वक्त वाली नमाज इसी सुर को पाने की प्रार्थना में खर्च हो जाती है। लाखों सजदे, इसी एक सच्चे सुर की इबादत में खुदा के आगे झुकते हैं। वे नमाज के बाद सजदे में गिड़गिड़ाते हैं – -‘मेरे मालिक एक सुर बख्श दे। सुर में वह तासीर पैदा कर दे कि आँखों से सच्चे मोती की तरह अनगढ़ आँसू निकल आएँ। उनको यकीन है, कभी खुदा यूँ ही उन पर मेहरबान होगा और अपनी झोली से सुर का फल निकालकर उनकी ओर उछालेगा, फिर कहेगा, ले जा अमीरुद्दीन इसको खा ले और कर ले अपनी मुराद पूरी।’
प्रश्न
(क) शहनाई किसका सम्पूरक है?
(ख) बिस्मिल्ला खाँ नमाज अदा करते समय अल्लाह से क्या इबादत करते हैं ?
(ग) बिस्मिल्ला खाँ किस बात को लेकर आशावान हैं ?
(घ) बिस्मिल्ला खाँ का सिर किसलिए झुकता है ?
उत्तर-
(क) शहनाई मंगलध्वनि का सम्पूरक है।
(ख) अस्सी वर्ष की अवस्था में भी बिस्मिल्ला खाँ ईश्वर से प्रार्थना करते हैं कि हे मेरे मालिक एक सुर बख्श दें। सुर में वह तासीर पैदा कर दे कि आँखों से सच्चे मोती की तरह अनगढ़ आँसू निकल आएँ।
(ग) ईश्वर के प्रति अपने समर्पण को लेकर बिस्मिल्ला खाँ आशावान है कि एक दिन समय आएगा जब उनकी कृपा से स्वर में वह तासीर पैदा होगी जिससे हमारी जीवन धन्य हो जायेगा। ईश्वर अपनी झोली से सुर का फल निकालकर मेरी तरफ उछालते हुए कहेगा ले इसे खाकर अपनी मुराद पूरी कर ले।
(घ) बिस्मिल्ला खाँ का सिर सुर को इबादत में झकता है।

3. काशी संस्कृति की पाठशाला है। शास्त्रों में आनंदकानन के नाम से प्रतिष्ठिता काशी में कलाधर हनुमान व नृत्य-विश्वनाथ है। काशी में बिस्मिल्ला खाँ हैं। काशी में हजारों सालों का इतिहास है जिसमें पंडित कंठे महाराज हैं, विद्याधरी हैं, बड़े रामदासजी हैं, मौजुद्दीन खाँ हैं व इन रसिकों से उपकृत होनेवाला अपार जन-समूह है। यह एक अलग काशी है जिसकी अलग तहजीब है, अपनी बोली और अपने विशिष्ट लोग हैं। इनके अपने उत्सव हैं, अपना गम। अपना सेहरा-बन्ना और अपना नौहा। आप यहाँ संगीत को भक्ति से, भक्ति को किसी भी धर्म के कलाकार से, कजरी को चैती से, विश्वनाथ को विशालाक्षी से, बिस्मिल्ला खाँ को गंगाद्वार से अलग करके नहीं देख सकते।

प्रश्न
(क) काशी किसकी पाठशाला है ?
(ख) काशी से बिस्मिल्ला खाँ का कैसा संबंध है ?
(ग) काशी में किन-किन लोगों का इतिहास है?
(घ) लेखक ने काशी को एक अलग नगरी क्यों माना है ?
उत्तर-
(क) काशी संस्कृति की पाठशाला है।
(ख) काशी से बिस्मिल्ला खाँ का गहरा संबंध है। काशी ही इनकी इबादत-भूमि है। बालाजी का मंदिर, संकटमोचन मंदिर, बाबा विश्वनाथ मंदिर आदि कई ऐसे स्थान हैं जो इनकी कर्मस्थली और ज्ञानस्थली है। जिस तरह संगीत को भक्ति से, भक्ति को किसी भी धर्म के कलाकार से, कजरी को चैती से, विश्वनाथ को विशालाक्षी से अलग नहीं कर सकते हैं ठीक उसी तरह बिस्मिल्ला खाँ को गंगाद्वार से अलग नहीं कर सकते हैं।.
(ग) काशी में पंडित कंठे महाराज, विधाधरी, रामदास, मौजुद्दीन आदि जैसे महापुरुषों का इतिहास है।
(घ) काशी संस्कृति की पाठशाला है। शास्त्रों में यह आनंदकानन के नाम से प्रतिष्ठित है। इसकी अलग तहजीब है, अपनी बोली और अपने विशिष्ट लोग हैं। यहाँ संगीत, भक्ति, धर्म आदि को अलग रूप में नहीं देख सकते हैं।

4. काशी में संगीत आयोजन की एक प्राचीन एवं अद्भुत परंपरा है। यह आयोजन पिछले कई बरसों से संकटमोचन मंदिर में होता आया है। यह मंदिर शहर के दक्षिण में लंका पर स्थित है व हनुमान-जयंती के अवसर पर यहाँ पाँच दिनों तक शास्त्रीय एवं उपशास्त्रीय गायनवादन की उत्कृष्ट सभा होती है। इसमें बिस्मिल्ला खाँ अवश्य रहते हैं। अपने मजहब के प्रति अत्यधिक समर्पित उस्ताद बिस्मिल्ला खाँ की श्रद्धा काशी विश्वनाथजी के प्रति भी अपार है।

प्रश्न-
(क) पाठ और लेखक का नाम लिखिए।
(ख) काशी में संगीत आयोजन की परंपरा क्या है ?
(ग) हनुमान-जयंती के अवसर पर आयोजित संगीत सभा का परिचय दीजिए।
(घ) बिस्मिल्ला खाँ की काशी विश्वनाथ के प्रति भावनाएँ कैसी थीं?
(ङ) काशी में संकटमोचन मंदिर कहाँ स्थित है और उसका क्या महत्त्व है ?
उत्तर-
(क) पाठ नौबतखाने में इबादत, लेखक-यतींद्र मिश्रा
(ख) काशी में संगीत आयोजन की बहुत प्राचीन और विचित्र परंपरा है। यह आयोजन काशी में विगत कई वर्षों से हो रहा है। यह संकटमोचन मंदिर में होता है। इस आयोजन में शास्त्रीय । एवं उपशास्त्रीय गायन-वादन होता है।
(ग) हनुमान जयंती के अवसर पर काशी के संकटमोचन मंदिर में पाँच दिनों तक शास्त्रीय और उपशास्त्रीय संगीत की श्रेष्ठ सभा का आयोजन होता है। इस सभा में बिस्मिल्ला खाँ का शहनाईवादन अवश्य ही होता है।.
(घ) बिस्मिल्ला खाँ अपने धर्म के प्रति पूर्णरूप से समर्पित हैं। वे पाँचों समय नमाज पढ़ते हैं। इसके साथ ही वे बालाजी मंदिर और काशी विश्वनाथ मंदिर में भी शहनाई बजाते हैं। उनकी काशी विश्वनाथजी के प्रति अपार श्रद्धा है।
(ङ) काशी का संकटमोचन मंदिर शहर के दक्षिण में लंका पर स्थित है। यहाँ हनुमान जयंती अवसर पर पाँच दिनों का संगीत सम्मेलन होता है। इस अवसर पर बिस्मिल्ला खाँ का शहनाई वादन होता है।

5. अक्सर कहते हैं क्या करें मियाँ, ई काशी छोड़कर कहाँ जाएँ, गंगा मइया यहाँ, बाबा विश्वनाथ यहाँ, बालाजी का मंदिर यहाँ, यहाँ हमारे खानदान की कई पुश्तों ने शहनाई बजाई है, हमारे नाना तो वहीं बालाजी मंदिर में बड़े प्रतिष्ठा शहनाईवाज रह चुके हैं। अब हम क्या करें, मरते दम तक न वह शहनाई छूटेगी न काशी। जिस जमीन ने हमें तालीम दी, जहाँ से अदब पाई, तो कहाँ और मिलेगी? शहनाई और काशी से बढ़ कर कोई जन्नत नहीं इस धरती पर हमारे लिए।’
प्रश्न
(क) पाठ और लेखक का नाम लिखिए।
(ख) बिस्मिल्ला खाँ काशी छोड़कर क्यों नहीं जाना चाहते थे?
(ग) बिस्मिल्ला खाँ के परिवार में और कौन-कौन शहनाई बजाते थे ?
(घ) बिस्मिल्ला खाँ के लिए शहनाई और काशी क्या हैं ?
उत्तर-
(क) पाठ-नौबतखानों में इबादत।
लेखक यतींद्र मिश्रा
(ख) बिस्मिल्ला खाँ काशी छोड़कर इसलिए नहीं जाना चाहते थे क्योंकि यहाँ गंगा है, बाबा विश्वनाथ हैं, बालाजी का मंदिर है और उनके परिवार की कई पीढ़ियों ने यहाँ शहनाई बजाई है। उन्हें इन सबसे. बहुत लगाव है।
(ग) बिस्मिल्ला खाँ के नाना काशी के बालाजी के मंदिर में शहनाई बजाते थे। उनके मामा सादिम हुसैन और अलीबख्श देश के जाने-माने शहनाई वादक थे। इनके दादा उस्ताद सलार हुसैन खाँ और पिता उस्ताद पैगंबर बख्श खो भी प्रसिद्ध शहनाईवादक थे (घ) बिस्मिल्ला खाँ मरते दम तक काशी में रहना और शहनाई बजाना नहीं छोड़ना चाहते, क्योंकि इसी काशी नगरी में उन्हें शहनाई बजाने की शिक्षा मिली और यहां से सब कुछ मिला।

6. काशी आज भी संगत के स्वर पर जगती और उसी की थापों पर सोती है। काशी में मरण भी मंगल माना गया है। काशी आनंदकानन है। सबसे बड़ी बात है कि काशी के पास उस्ताद बिस्मिल्ला खाँ जैसा लय और सुर- की तमीज सिखानेवाला नायाब हीरा रहा है जो हमेशा से दो कौमों को एक होने व आपस में भाईचारे के साथ रहने की प्रेरणा देता रहा।

प्रश्न
(क) पाठ और लेखक का नाम लिखिए।
(ख) आज की काशी कैसी है ?
(ग) काशी में मरण मंगलमय क्यों माना गया है ?
(घ) काशी के पास कौन-सा नायाब हीरा रहा है ?
(ङ) काशी आनंदकानन कैसे है ?
उत्तर-
(क)18-नौबतखाने में इबादता
लेखक-यतींद्र मिश्रा
(ख) आज की काशी भी संगीत के स्वरों से जागती है और संगीत की थपकियाँ उसे सुलाती हैं। बिस्मिल्ला खाँ के शहनाईवादन की प्रभाती, काशी को जगाती है।
(ग) काशी में मरना इसलिए मंगलमय माना गया है, क्योंकि यह शिव की नगरी है। यहाँ मरने से मनुष्य को शिवलोक प्राप्त हो जाता है और वह जन्म-मरण के बंधनों से मुक्त होकर मोक्ष प्राप्त कर लेता है।
(घ) काशी के पास बिस्मिल्ला खों जैसा लय और सुर का नायाब हीरा रहा है जो अपने सुरों से काशी में प्रेम रस बरसाता रहा है। इसने सदा काशी-वासियों को मिलजुल कर रहने की प्रेरणा दी है।
(ङ) काशी को आनंदकानन इसलिए कहते हैं, क्योंकि यहाँ विश्वनाथ विराजमान हैं। उनकी  कृपा से यहाँ सदा आनंद-मंगल की वर्षा होती रहती है। विभिन्न संगीत सभाओं के आयोजनों से सदा उत्सवों का वातावरण बना रहता है। इसलिए यहाँ आनंद ही आनंद छाया रहता है।

7. इस दिन खाँ साहब बड़े होकर शहनाई बजाते हैं वे दालमंडी में फातमान के करीब आठ किलोमीटर की दूरी पर पैदल रोते हुए, नौहा बजाते जाते हैं। इस दिन कोई राग नहीं बजता। राग-रागिनियों की अदायगी का निषेध है इस दिन। उनकी आँखें इमाम हुसैन और उनके परिवार के लोगों की शहादत में नम रहती हैं। आजादारी होती है। हजारों आँखें नम हजार वर्ष की परंपरा पुनर्जीवित। मुहर्रम सम्पन्न होता है। एक बड़े कलाकार का सहज मानवीय रूप ऐसे अवसर पर आसानी से दिख जाता है।

प्रश्न
(क) पाठ तथा लेखक का नाम बताइए।
(ख) प्रस्तुत अवतरण में किस दिन की बात की जा रही है।
(ग) अवतरण में उल्लेख किए गए दिन को खां साहब क्या करते हैं ? और क्यों ?
(घ) इस विशेष दिन कोई राग क्यों नहीं बजाया जाता?
(ङ) अवतरण के आधार पर खां साहब के चरित्र की कोई दो विशेषताएँ बताइए।
उत्तर-
(क) पाठ का नाम- नौबतखाने में इबादत।
लेखक का नाम- यतीन्द्र मिश्रा
(ख) प्रस्तुत अवतरण में मुहर्रम की आठवीं तारीख की बात की जा रही है।
(ग) इस दिन खाँ साहब खड़े होकर शहनाई बजाते हैं व दालमंडी में फातमान के करीब आठ किलोमीटर की दूरी तक नौहा बजाते हुए जाते हैं, क्योंकि वे शोक मना रहे होते हैं।
(घ) मुहर्रम की आठवीं तारीख को कोई राम नहीं बजाया जाता। इस दिन इमाम हुसैन और उनके परिवार की शहादत के शोक में राग-रागिनियों की अदायगी का निषेध है।
(ङ) खाँ साहब संवेदनशील, धार्मिक तथा एक बड़े कलाकार थे।

वस्तुनिष्ठ प्रश्न

सही विकल्प चुनें-

प्रश्न 1.
‘नौबतखाने में इबादत पाठ के लेखक कौन है ?
(क) विनोद कुमार शुक्ल
(ख) यतीन्द्र मिश्र
(ग) अशोक वाजपेयी
(घ) अमर कांत
उत्तर-
(ख) यतीन्द्र मिश्र

प्रश्न 2.
बिस्मिल्ला खाँ का असली नाम क्या था?
(क) शम्सुद्दीन
(ख) सादिक हुसैन
(ग) पीरबख्श
(घ) अमीरुद्दीन
उत्तर-
(घ) अमीरुद्दीन

प्रश्न 3.
बिस्मिल्ला खाँ का जन्म कहाँ हुआ था?
(क) काशी में
(ख) दिल्ली में
(ग) डुमराँव में
(घ) पटना में
उत्तर-
(ग) डुमराँव में

प्रश्न 4.
बिस्मिल्ला खाँ रियाज के लिए कहाँ जाते थे?
(क) बालाजी मंदिर
(ख) संकटमोचन
(ग) विश्वनाथ मंदिर
(घ) दादा के पास
उत्तर-
(क) बालाजी मंदिर

प्रश्न 5.
‘नरकट’ का प्रयोग किस वाद्य-यंत्र में होता है?
(क) शहनाई
(ख) मृदंग
(ग) ढोल
(घ) बिगुल
उत्तर-
(क) शहनाई

प्रश्न 6.
भारत सरकार ने बिस्मिल्ला खाँ को किस सम्मान से अलंकृत किया?
(क) बिहार रत्न
(ख) भारत रत्न
(ग) वाद्य रत्न
(घ) शहनाई रत्न
उत्तर-
(ख) भारत रत्न

II. रिक्त स्थानों की पूर्ति

प्रश्न 1.
……….. और डुमराँव एक-दूसरे के पूरक हैं।
उत्तर-
शहनाई

प्रश्न 2.
शहनाई बजाने के लिए ……… का प्रयोग होता है।
उत्तर-
रीड

प्रश्न 3.
……….. संस्कृति की पाठशाला है।
उत्तर-
काशी

प्रश्न 4.
……… वर्ष की उम्र में बिस्मिल्ला खाँ संसार से विदा हो गए।
उत्तर-
नब्बे

प्रश्न 5.
बिस्मिल्ला खाँ उस्ताद …….. और मिट्ठन के छोटे साहबजादे थे।
उत्तर-
पैगंबर बखश खाँ

अतिलघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 1.
बिस्मिल्ला खाँ का जन्म कब और कहाँ हुआ था?
उत्तर-
बिस्मिल्ला खाँ का जन्म 1916 ई० में डुमराँव में हुआ था।

प्रश्न 2.
बिस्मिल्ला खाँ को संगीत के प्रति रुचि कैसे हुई ?
उत्तर-
बिस्मिल्ला खाँ को संगीत के प्रति रुचि रसूलनबाई और बतूलनबाई के टप्पे, ठुमरी और दादरा को सुनकर हुई।

प्रश्न 3.
शहनाई की शिक्षा बिस्मिल्ला खाँ को कहाँ मिली?
उत्तर-
शहनाई की शिक्षा बिस्मिल्ला खाँ को अपने ननिहाल काशी में अपने ममाद्वय सादिक और अलीबख्श से मिली।

प्रश्न 4.
बिस्मिल्ला खां बचपन में किनकी फिल्में देखते थे। था, विस्मिल्ला खाँ बचपन में किरकी फिल्मों के दीवाने थे?
उत्तर-
बिस्मिल्ला खाँ बचपन में गीताबाली और सुलोचना की फिल्मों के दीवाने थे।

प्रश्न 5.
अपने मजहब के अलावा बिस्मिल्ला खाँ को किसमें अत्यधिक प्रद्धा थी ?
उत्तर-
अपने मजहब के अलावा बिस्मिल्ला खाँ को काशी, विश्वनाथ और बालाजी में अगाध श्रद्धा थी।

प्रश्न 6.
बिस्मिल्ला खाँ किसको जन्नत मानते थे ?
उत्तर-
बिस्मिल्ला खाँ शहनाई और काशी को जन्नत मानते थे।

प्रश्न 7.
बिस्मिल्ला खाँ किसके पर्याय थे?
उत्तर-
बिस्मिल्ला खाँ शहनाई के पर्याय थे और शहनाई उनका।

प्रश्न 8.
बिस्मिल्ला खाँ को जिन्दगी के आखिरी पड़ाव पर किसका अफसोस रहा?
उत्तर-
बिस्मिल्ला.खाँ को जिन्दगी के आखिरी पड़ाव पर संगतियों के लिए गायकों के मन में आदर न होने, चैता कजरी के गायब होने और मलाई, शुद्ध घी की कचौड़ी न मिलने का अफ़सोस रहा।

नौबतखाने में इबादत लेखक परिचय

यतींद्र मिश्र का जन्म सन् 1977 में अयोध्या, उत्तरप्रदेश में हुआ । उन्होंने लखनऊ विश्वविद्यालय, लखनऊ से हिंदी भाषा और साहित्य में एम० ए० किया । वे साहित्य, संगीत, सिनेमा, नृत्य और चित्रकला के जिज्ञासु अध्येता हैं । वे रचनाकार के रूप में मूलतः एक कवि हैं । उनके अबतक तीन काव्य-संग्रह : ‘यदा-कदा’, ‘अयोध्या तथा अन्य कविताएँ’, और ‘ड्योढ़ी पर आलाप’ प्रकाशित हो चुके हैं । कलाओं में उनकी गहरी अभिरुचि है । इसका ही परिणाम है कि उन्होंने प्रख्यात शास्त्रीय गायिका गिरिजा देवी के जीवन और संगीत साधना पर एक पुस्तक ‘गिरिजा’ लिखी । भारतीय नृत्यकलाओं पर विमर्श की पुस्तक है ‘देवप्रिया’, जिसमें भरतनाट्यम और ओडिसी की प्रख्यात नृत्यांगना सोनल मान सिंह से यतींद्र मिश्र का संवाद संकलित है। यतींद्र मिश्र ने स्पिक मैके के लिए ‘विरासत 2001’ के कार्यक्रम के लिए. रूपंकर कलाओं पर केंद्रित पत्रिका ‘थाती’ का संपादन किया है। संप्रति, वे अर्द्धवार्षिक पत्रिका ‘सहित’ का संपादन कर रहे हैं । वे साहित्य और कलाओं के संवर्धन एवं अनुशीलन के लिए एक सांस्कृतिक न्यास ‘विमला देवी फाउंडेशन’ का संचालन 1999 ई० से कर रहे हैं।

यतींद्र मिश्र ने रीतिकाल के अंतिम प्रतिनिधि कवि द्विजदेव की ग्रंथावली का सह-संपादन भी किया है। उन्होंने हिंदी के प्रसिद्ध कवि कुँवरनारायण पर केंद्रित दो पुस्तकों के अलावा हिंदी सिनेमा के जाने-माने गीतकार गुलजार की कविताओं का संपादन ‘यार जुलाहे’ नाम से किया है। यतींद्र मिश्र को अबतक भारत भूषण अग्रवाल पुरस्कार, भारतीय भाषा परिषद् युवा पुरस्कार, राजीव गाँधी राष्ट्रीय एकता पुरस्कार, रजा पुरस्कार, हेमंत स्मृति कविता पुरस्कार, ऋतुराज सम्मान आदि कई पुरस्कार प्राप्त हो चुके हैं। उन्हें केंद्रीय संगीत नाटक अकादमी, नयी दिल्ली और सराय, नई दिल्ली की फेलोशिप भी मिली है।

‘नौबतखाने में इबादत’ प्रसिद्ध शहनाईवादक भारतरत्न उस्ताद बिस्मिल्ला खाँ पर रोचक शैली में लिखा गया व्यक्तिचित्र है । इस पाठ में बिस्मिल्ला खाँ का जीवन – उनकी रुचियाँ, अंतर्मन की बुनावट, संगीत की साधना आदि गहरे जीवनानुराग और संवेदना के साथ प्रकट हुए हैं ।

नौबतखाने में इबादत Summary in Hindi

पाठ का सारांश

सन् 1916 से 1922 के आसपास की काशी। पंचगंगा घाट स्थित बालाजी विश्वनाथ मंदिर . की ड्योढ़ी। ड्योढ़ी का नौबतखाना और नौबतखाने से निकलनेवाली मंगलध्वनि।।

अमीरूद्दीन अभी सिर्फ छह साल का है और बड़ा भाई शम्सुद्दीन नौ साल का। अमीरूद्दीन को पता नहीं है कि राग किस चिड़िया को कहते हैं। और ये लोग हैं मामूंजान वगैरह जो बात-बात पर भीमपलासी और मुलतानी कहते रहते हैं। क्या बाजिब मतलब हो सकता है इन शब्दों का इस” लिहाज से अभी उम्र नहीं है अमीरूद्दीन की; जान सके इन भारी शब्दों का बजन कितना होगा।

अमीरूद्दीन का जन्म डुमराँव, बिहार के एक संगीत प्रेमी परिवार में हुआ है। 5-6 वर्ष डुमराँव में बिताकर वह नाना के घर, ननिहाल काशी में आ गया है। शहनाई और डुमराँव एक-दूसरे के लिए उपयोगी हैं। उनकी अबोध उम्र में अनुभव की स्लेट पर संगीत प्रेरणा की वर्णमाला रसूलनवाई और बजूलनवाई ने उकेरी है। इसे संगीत शास्त्रांतर्गत ‘सुषिर-वाद्यों’ में गिना जाता है। अरब देश में फूंककर बजाए जाने वाले वाद्य जिसमें नाड़ी नरकट या रीड) होती है को ‘नय’ बोलते हैं। शहनाई को ‘शाहनय अर्थात् ‘ सुषिर वाद्यों में शाह की उपाधि दी गई है।

शहनाई की इसी मंगलध्वनि के नायक बिस्मिल्ला खाँ साहब अस्सी बरस से सुर माँग रहे हैं। सच्चे सुर की नेमत। अस्सी बरस की पाँचों वक्त वाली नमाज इसी सुर को पाने की प्रार्थना में खर्च हो जाती है। लाखों सजदे इसी एक सच्चे सुर की इबादत में खुदा के आगे झुकते हैं। बिस्मिला खाँ और शहनाई के साथ जिस मुस्लिम पर्व का नाम जुड़ा है, वह मुहर्रम है। आठवीं तारीख उनके लिए खास महत्त्व की है। इस दिन खाँ साहब खड़े होकर शहनाई बजाते हैं व दालमंडी में फातमान के करीब आठ किलोमीटर की दूरी तक पैदल रोते हुए, नौटा बजाते जाते हैं।

बचपन की दिनों की याद में वे पक्का महाल की कुलसुम हलवाइन की कचौड़ी वाली दुकान व गीताबाली और सुलोचना को ज्यादा याद करते हैं। सुलोचना उनकी पसंदीदा हीरोइन रही थीं।

अपने मजहब के प्रति अत्यधिक समर्पित उस्ताद बिस्मिला खाँ की श्रद्धा काशी विश्वनाथ जी के प्रति भी अपार है। वे जब भी काशी से बाहर रहते हैं तब विश्वनाथ व बालाजी मंदिर की दिशा की ओर मुँह करके बैठते हैं, थोड़ी देर ही सही, मगर उसी ओर शहनाई का प्याला घुमा दिया जाता है और भीतर की आस्था रीड के माध्यम से बजती है।

काशी संस्कृति की पाठशाला है। शास्त्रों में आनंदकानन के नाम से प्रतिष्ठित है। काशी में कलाधर हनुमान व नृत्य-विश्वनाथ हैं। काशी में विस्मिल्ला खाँ है। काशी में हजारों सालों का इतिहास है जिसमें पंडित कंठे महाराज हैं, बड़े रामदास जी है, मौजुद्दीन खाँ हैं व इन रसिकों से उपकृत होने वाला अपार जन-समूह है।

आपकी। अब तो आपको भारतरत्न भी मिल चुका है, यह फटी तहमद न पहना करें। अच्छा नहीं लगता, जब भी कोई आता है आप इसी फटी तहमद में सबसे मिलते हैं।” खाँ साहब मुस्काराए। लाड़ से भरकर बोले “धत। पगली ई भारतरत्न हमको शहनईया’ पे मिला है, लगिया पे नाहीं।

नब्बे वर्ष की भरी-पूरी आयु में 21 अगस्त 2006 को संगीत रसिकों की हार्दिक सभा से हमेशा के लिए विदा हुए खाँ साहब।

शब्दार्थ

ड्योढ़ी : दहलीज
नौबतखाना : प्रवेश द्वार के ऊपर मंगल ध्वनि बजाने का स्थान
रियाज : अभ्यास
मार्फत : द्वारा
शृंगी : सींग का बना वाद्ययंत्र
मुरछंग : एक प्रकार का लोक वाद्ययंत्र
नेमत : ईश्वर की देन, वरदान, कृपा
सज़दा : माथा टेकना
इबादत : उपासना
तासीर : गुण, प्रभाव, असर
श्रुति : शब्द-ध्वनि
ऊहापोह : उलझन, अनिश्चितता
तिलिस्म : जादू
गमक : खुशबू, सुगंध
अजादारी : मातम करना, दुख मनाना
बदस्तूर : कायदे से, तरीके से
नैसर्गिक : स्वाभाविक, प्राकृतिक
दाद : शाबाशी, प्रशंसा, वाहवाही
तालीम : शिक्षा
अदब : कायदा, साहित्य
अलहमदुलिल्लाह : तमाम तारीफ ईश्वर के लिए
जिजीविषा : जीने की इच्छा
शिरकत : शामिल होना
वाजिब : सही, उपयुक्त
मतलब : अर्थ
लिहाज : शिष्टाचार, छोटे-बड़े के प्रति उचित भाव
गोया : जैसे कि, मानो कि
रोजनामचा : दैनंदिन, दिनचर्या
विग्रह : मूर्ति
कछार : नदी का किनारा
उकेरी : चित्रित करना, उभारना
संपूरक : पूरा करने वाला, पूर्ण करने वाला
मुराद : आकांक्षा, अभिलाषा
दुश्चिंता : बुरी चिंता
बरतना : बर्ताव करना, व्यवहार करना
सलीका : शिष्ट तरीका
गमजदा : गम में डूबा
सुकून : शांति, आराम
जुनून : उन्माद, सनक
खारिज : अस्वीकार करना
आरोह : चढ़ाव
अवरोह : उतार
आनंदकानन : ऐसा बागीचा जिसमें आठों पहर आनन्द रहे
उपकृत : उपकार करना, कृतार्थ करना
तहजीब : संस्कृति, सभ्यता
सेहरा-बन्ना : सेहरा बांधना, श्रेय देना
नौहा : शहनाई
सरगम : संगीत के सात स्वर (सा रे ग म प ध नी)
नसीहत : शिक्षा, उपदेश, सीख
तहमद : लुंगी, अधोवस्त्र
शिद्दत : असरदार तरीके से, जोर के साथ
सामाजिक : सुसंस्कृत
नायाब. : अद्भुत, अनुपम
जिजीविषा : जीने की लालसा

Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 5 समांतर श्रेढ़ियाँ Ex 5.2

   

Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 5 समांतर श्रेढ़ियाँ Ex 5.2 Text Book Questions and Answers.

BSEB Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 5 समांतर श्रेढ़ियाँ Ex 5.2

Bihar Board Class 10 Maths समांतर श्रेढ़ियाँ Ex 5.2

Bihar Board Class 10 Math प्रश्न 1.
निम्नलिखित सारणी में, रिक्त स्थानों को भरिए, जहाँ A.P. का प्रथम पद a, सार्वान्तर d और n वाँ पद an है:
Bihar Board Class 10 Math
हल
(i) दिया है, a = 7, d = 3, n = 8, an = ?
n वाँ पद (an) = a + (n – 1)d
= 7 + (8 – 1) × 3
= 7 + (7 × 3)
= 7 + 21
= 28
अत: an = 28

(ii) दिया है, a = -18, n = 10, an = 0, d = ?
n वाँ पद (an) = a + (n – 1)d
⇒ 0 = -18 + (10 – 1)d
⇒ -18 + 9d = 0
⇒ 9d = 18
⇒ d = 2
अतः d = 2

(iii) दिया है, d = -3, n = 18, an = -5, a = ?
n वाँ पद (an) = a + (n – 1)d
⇒ -5 = a + (18 – 1) × (-3)
⇒ -5 = a + (-51)
⇒ a = -5 + 51 = 46
अत: a = 46

(iv) दिया है, a = -18.9, d = 2.5, an = 3.6, n = ?
n वाँ पद (an) = a + (n – 1)d
⇒ 3.6 = -18.9 + (n – 1) (2.5)
⇒ 18.9 + 3.6 = (n – 1) (2.5)
⇒ (n – 1)(2.5) = 22.5
⇒ n – 1 = 9
⇒ n = 1 + 9 = 10
अतः n = 10

(v) दिया है, a = 3.5, d = 0, n = 10.5, an = ?
n वाँ पद (an) = a + (n – 1)d
= 3.5 + (10.5 – 1) (0)
= 3.5 + 0
= 3.5
अत: an = 3.5

Exercise 5.2 Class 10 Solutions In Hindi Bihar Board प्रश्न 2.
निम्नलिखित में सही उत्तर चुनिए और उसका औचित्य दीजिए :
(i) A.P.: 10, 7, 4,……, का 30 वाँ पद है :
(A) 97
(B) 77
(C) -77
(D) -87
(ii) A.P.: -3, \(-\frac{1}{2}\), 2,….. का 11 वाँ पद है :
(A) 28
(B) 22
(C) -38
(D) -48\(\frac{1}{2}\)
हल
(i) दी हुई A.P. : 10, 7, 4, …….
यहाँ a = 10 तथा d = 7 – 10 = -3
A.P. का 30 वाँ पद (a30) = a + (n – 1)d
= 10 + (30 – 1) × (-3)
= 10 + (-87)
= -77
अत: विकल्प (C) सही है।

(ii) दी हुई A.P. : -3, \(-\frac{1}{2}\), 2,…….
यहाँ a = -3 तथा d = \(-\frac{1}{2}\) – (-3) = \(\frac{5}{2}\)
A.P.का 11वाँ पद (a11) = a + (n – 1)d
= -3 + (11 – 1) × \(\frac{5}{2}\)
= -3 + 10 × 5
= -3 + 25
= 22
अतः विकल्प (B) सही है।

Bihar Board Class 10th Math Solution प्रश्न 3.
निम्नलिखित समान्तर श्रेढ़ियों में रिक्त खानों (boxes) के पदों को ज्ञात कीजिए :
Exercise 5.2 Class 10 Solutions In Hindi Bihar Board
हल
(i) पहला पद (a) = 2, तीसरा पद = 26, दूसरा पद = ?
माना सार्वान्तर (d) है,
तब, तीसरा पद (a3) = a + 2d = 26
⇒ 2 + 2d = 26
⇒ 2d = 24
⇒ d = 12
दूसरा पद = a + d = 2 + 12 = 14
अत: रिक्त बॉक्स का पद (a2) = 14

(ii) पहला पद = ?, दूसरा पद = 13, तीसरा पद = ?, चौथा पद = 3
माना पहला पद (a) तथा सार्वान्तर (d) है।
तब, दूसरा पद = a + d
प्रश्नानुसार, a + d = 13 …….(1)
और चौथा पद = a + 3d
प्रश्नानुसार, a + 3d = 3 ………(2)
समीकरण (2) में से समीकरण (1) को घटाने पर,
2d = -10 ⇒ d = -5
समीकरण (1) में d का मान रखने पर,
a + d = 13
⇒ a + (-5) = 13
⇒ a = 13 + 5 = 18
और तीसरा पद = a + 2d = 18 + 2(-5) =18 – 10 = 8
अत: रिक्त बॉक्सों के पद क्रमशः 18 व 8 हैं।

Bihar Board Class 10th Math Solution

(iv) -4, a2, a3 , a4, a5, 6
पहला पद (a) = -4
माना सार्वान्तर d है।
तब, छठा पद = a + 5d
परन्तु छठा पद = 6
a + 5d = 6
⇒ -4 + 5d = 6
⇒ 5d = 10
⇒ d = 2
दूसरा पद (a2) = a + d = -4 + 2 = -2
तीसरा पद (a3) = a + 2d = -4 + 2 × 2 = -4 + 4 = 0
चौथा पद (a4) = a + 3d = -4 + 3 × 2 = -4 + 6 = 2
पाँचवाँ पद (a5) = a + 4d = -4 + 4 × 2 = -4 + 8 = 4
अत: बॉक्सों के रिक्त पद क्रमशः -2, 0, 2, 4 हैं।

(v) a, 38, a3, a4, a5, -22
माना पहला पद (a) तथा सार्वान्तर (d) है।
तब, दूसरा पद = a + d
परन्तु a + d = 38 ……..(1)
और छठा पद = a + (6 – 1)d = a + 5d
परन्तु a + 5d = -22 ………(2)
समीकरण (2) में से समीकरण (1) को घटाने पर,
(a + 5d) – (a + d) = -22 – 38
⇒ 4d = -60
⇒ d = -15
समीकरण (1) में d का मान रखने पर,
a + (-15) = 38
⇒ a = 38 + 15
⇒ a = 53
तीसरा पद (a3) = a + 2d = 53 + 2(-15) = 53 – 30 = 23
चौथा पद (a4) = a + 3d = 53 + 3(-15) = 53 – 45 = 8
पाँचवाँ पद (a5) = a + 4d = 53 + 4(-15) = 53 – 60 = -7
अत: बॉक्सों के रिक्त पद क्रमशः 53, 23, 8, -7 हैं।

Bihar Board Class 10 Math Book Solution In Hindi प्रश्न 4.
A.P.: 3, 8, 13, 18, …… का कौन-सा पद 78 है?
हल
दी गई A.P. : 3, 8, 13, 18, ……..
पहला पद (a) = 3 तथा सार्वान्तर (d) = 8 – 3 = 5
माना n वा पद (an) 78 है।
n वाँ पद (an) = 78
⇒ a + (n – 1)d = 78
⇒ 3 + (n – 1)5 = 78
⇒ 3 + 5n – 5 = 78
⇒ 5n = 78 + 5 – 3 = 80
⇒ n = 16
अत: 16 वाँ पद 78 है।

Bihar Board Class 10 Math Solution In Hindi प्रश्न 5.
निम्नलिखित समान्तर श्रेढ़ियों में से प्रत्येक श्रेढ़ी में कितने पद हैं?
(i) 7, 13, 19, ……, 205
(ii) 18, 15\(\frac{1}{2}\), 13, ….., -47
हल
(i) दी गई समान्तर श्रेढ़ी (A.P.) : 7, 13, 19, …… , 205
पहला पद (a) = 7 तथा सार्वान्तर (d) = 13 – 7 = 6
माना दी गई A.P. में n पद हैं जिसमें n वाँ पद (an) = 205
n वाँ पद (an) = 205
⇒ a + (n – 1)d = 205
⇒ 7 + (n – 1)6 = 205
⇒ 7 + 6n – 6 = 205
⇒ 6n = 205 + 6 – 7 = 204
⇒ n = 34
अतः दी गई श्रेढी (A.P.) में 34 पद हैं।

(ii) दी गई समान्तर श्रेढ़ी (A.P.) : 18, 15\(\frac{1}{2}\), 13, ….., -47
पहला पद (a) = 18
तथा सार्वान्तर (d) = 15\(\frac{1}{2}\) – 18
= \(\frac{31}{2}\) – 18
= \(\frac{31-36}{2}\)
= \(\frac{-5}{2}\)
माना दी गई श्रेढ़ी में n पद हैं।
n वाँ पद 4 (an) = -47
⇒ a + (n – 1)d = -47
⇒ 18 + (n – 1)(\(\frac{-5}{2}\)) = -47
⇒ \(-\frac{5(n-1)}{2}\) = -47 – 18 = -65
⇒ (n – 1) = \(\frac{65 \times 2}{5}\) = 26
⇒ n = +1 + 26 = 27
अतः दी गई श्रेढी (A.P.) में 27 पद हैं।

Bihar Board Class 10 Math Book Solution In Hindi Pdf Download प्रश्न 6.
क्या A.P. : 11, 8, 5, 2 का एक पद -150 है? क्यों?
हल
दी गई A.P. : 11, 8, 5, 2
पहला पद (a) = 11 तथा सार्वान्तर (d) = 8 – 11 = -3
माना n वाँ पद (an) = -150 है।
n वाँ पद (an) = -150
⇒ a + (n – 1)d = -150
⇒ 11 + (n – 1) × -3 = -150
⇒ -3(n – 1) = -150 – 11 = -161
⇒ (n – 1) = 53.6 (लगभग)
⇒ n = 53.6 + 1 = 54.6
n का मान एक पूर्ण संख्या नहीं है।
अतः दी गई A.P. का कोई पद -150 नहीं है।

Bihar Board 10th Class Math Solution प्रश्न 7.
उस A.P. का 31 वाँ पद ज्ञात कीजिए, जिसका 11 वाँ पद 38 है और 16 वाँ पद 73 है।
हल
माना A.P. का पहला पद (a) तथा सार्वान्तर (d) है।
दिया है, A.P. का 11 वाँ पद (a11) = 38
⇒ a + (n – 1)d = 38
⇒ a + (11 – 1)d = 38
⇒ a + 10d = 38 ………(1)
पुनः दिया है, A.P. का 16 वाँ पद (a16) = 73
⇒ a + (16 – 1)d = 73
⇒ a + 15d = 73 ……..(2)
समीकरण (2) में से समीकरण (1) को घटाने पर,
(a + 15d) – (a + 10d) = 73 – 38
⇒ 5d = 35
⇒ d = 7
समीकरण (1) में d का मान रखने पर,
a + 10 × 7 = 38
⇒ a + 70 = 38
⇒ a = 38 – 70 = -32
श्रेढ़ी का 31 वाँ पद (a31) = a + (31 – 1)d
= -32 + 30 × 7
= -32 + 210
= 178
अतः A.P. का 31 वाँ पद = 178

10 Class Ka Math Bihar Board प्रश्न 8.
एक A.P. में 50 पद हैं, जिसका तीसरा पद 12 है और अन्तिम पद 106 है। इसका 29 वाँ पद ज्ञात कीजिए।
हल
माना A.P. का प्रथम पद (a) तथा सार्वान्तर (d) है।
तब, तीसरा पद = a + (3 – 1)d = a + 2d
और अन्तिम 50 वाँ पद = a + (50 – 1)d = a + 49d
तब प्रश्नानुसार,
a + 2d = 12 ………(1)
a + 49d = 106 ……(2)
समीकरण (2) में से समीकरण (1) को घटाने पर,
(a + 49d) – (a + 2d) = 106 – 12
⇒ 47d = 94
⇒ d = 2
तब समीकरण (1) में d का मान रखने पर,
a + 2 × 2 = 12
⇒ a + 4 = 12
⇒ a = 8
A.P. का 29 वाँ पद = a + (29 – 1)d
= 8 + 28 × 2
= 8 + 56
= 64
अतः दी गई A.P. का 29 वाँ पद 64 है।

Bihar Board Math Solution प्रश्न 9.
यदि किसी A.P. के तीसरे और नौवें पद क्रमशः 4 और -8 हैं तो इसका कौन-सा पद शून्य होगा?
हल
माना श्रेढ़ी का पहला पद (a) तथा सार्वान्तर (d) है।
A.P. का तीसरा पद (a3) = a + 2d
तथा नौवाँ पद (a9) = a + (9 – 1) d = a + 8d
तब प्रश्नानुसार,
a + 2d = 4 ……(1)
a + 8d = -8 ……(2)
समीकण (2) में से समीकरण (1) को घटाने पर,
(a + 8d) – (a + 2d) = -8 – 4
या 6d = -12
या d = -2
समीकरण (1) में d का मान रखने पर,
a + 2 x (-2) = 4
⇒ a – 4 = 4
⇒ a = 8
माना श्रेढ़ी का n वाँ पद शून्य होगा, अर्थात्
an = 0
n वाँ पद (an) = 0
⇒ a + (n – 1)d = 0
⇒ 8 + (n – 1) × (-2) = 0
⇒ -2(n – 1) = -8
⇒ (n – 1) = 4
⇒ n = 5
अतः दी गई A.P. का 5 वाँ पद शून्य होगा।

Bihar Board Class 5 Math Solution In Hindi प्रश्न 10.
किसी A.P. का 17 वाँ पद उसके 10 वें पद से 7 अधिक है। इसका सार्वान्तर ज्ञात कीजिए।
हल
माना A.P. का पहला पद (a) तथा सार्वान्तर (d) है।
तब, 17 वाँ पद (a17) = a + (17 – 1)d = a + 16d
10 वा पद (a10) = a + (10 – 1)d = a + 9d
प्रश्नानुसार, 17 वाँ पद, 10 वें पद से 7 अधिक है।
17 वाँ पद (a17) – 10 वाँ पद (a10) = 7
⇒ (a + 16d) – (a + 9d) = 7
⇒ 7d = 7
⇒ d = 1
अत: श्रेढ़ी का सार्वान्तर (d) = 1

Bihar Board Math Solution Class 10 प्रश्न 11.
A.P. : 3, 15, 27, 39, ….. का कौन-सा पद उसके 54 वें पद से 132 अधिक होगा?
हल
माना अभीष्ट पद n वाँ पद है।
दी गई A.P. : 3, 15, 27, 39, …..
प्रथम पद (a) = 3 तथा सार्वान्तर (d) = 15 – 3 = 12
तब, श्रेढ़ी का 54 वाँ पद (a54) = a + (54 – 1)d
= 3 + (53 × 12)
= 3 + 636
= 639
n वॉ पद (an) = 54 वें पद से 132 अधिक
= 639 + 132
= 771
n वाँ पद (an) = 771
a + (n – 1)d = 771
3 + (n – 1) 12 = 771
(n – 1)12 = 771 – 3 = 768
n – 1 = 64
n = 64 + 1 = 65
अतः श्रेढ़ी का 65 वाँ पद 54 वें पद से 132 अधिक है।

Bihar Board Class 5 Math Solution प्रश्न 12.
दो समान्तर श्रेढ़ियों का सार्वान्तर समान है। यदि इनके 100 वें पदों का अन्तर 100 है, तो इनके 1000 वें पदों का अन्तर क्या होगा?
हल
माना पहली A.P. का पहला पद a तथा सार्वान्तर d है और दूसरी A.P. का पहला पद A तथा सार्वान्तर d है क्योंकि सार्वान्तर समान है।
तब, पहली श्रेढ़ी का 100 वाँ पद = a + (100 – 1)d = a + 99d
दूसरी श्रेढ़ी का 100 वा पद = A + (100 – 1) d = A + 99d
दोनों श्रेढ़ियों के 100 वें पदों का अन्तर = (A + 99d) – (a + 99d) = A – a
तब, प्रश्नानुसार, A – a = 100 ……(1)
अब, पहली श्रेढ़ी का 1000 वाँ पद = a + (1000 – 1)d = a + 999d
दूसरी श्रेढ़ी का 1000 वाँ पद = A + (1000 – 1)d = A + 999d
दोनों श्रेढ़ियों के 1000 वें पदों का अन्तर = (A + 999d) – (a + 999d) = A – a
दोनों श्रेढ़ियों के 1000 वें पदों का अन्तर = A – a = 100 [समीकरण (1) से]
अत: 1000 वें पदों का अन्तर = 100

Bihar Board Class 5 Math Book Solution प्रश्न 13.
तीन अंकों वाली कितनी संख्याएँ 7 से विभाज्य हैं?
हल
तीन अंकों की संख्याओं की सूची : 100, 101, 102, ……., 999
3 अंकों की 7 से विभाज्य पहली संख्या = 105
और अन्तिम संख्या = 994
तब, 7 से विभाज्य 3 अंकीय संख्याओं की सूची :
105, (105 + 7), (105 + 7 + 7), ……….., 994
= 105, 112, 119,…….,994
माना कुल संख्याएँ n हैं।
पहली संख्या (a) = 105, सार्वान्तर (d) = 7, n वाँ पद (an) = 994
n वा पद (an) = 994
a + (n – 1)d = 994
105 + (n – 1) × 7 = 994
(n – 1) × 7 = 994 – 105 = 889
(n – 1) = \(\frac{889}{7}\) = 127
n = 127 + 1 = 128
अतः 7 से विभाज्य तीन अंकीय संख्याएँ 128 हैं।

Bihar Board Class 5th Math Solution In Hindi प्रश्न 14.
10 और 250 के बीच में 4 के कितने गणज हैं?
हल
10 से बड़ा 4 का पहला गुणज = 12
250 से छोटा 4 का पहला गुणज = 248
10 और 250 के बीच 4 के गुणजों की सूची :
12, 12 + 4, (12 + 4 + 4),……., 248
12, 16, 20, 24, …….., 248.
माना गुणजों की संख्या n है।
यहाँ, पहला पद (a) = 12, सार्वान्तर (d) = 16 – 12 = 4
n वा पद (an) = 248
⇒ a + (n – 1)d = 248
⇒ 12 + (n -1) 4 = 248
⇒ 12 + 4n – 4 = 248
⇒ 4n = 248 + 4 – 12 = 240
⇒ n = 60
अत: 10 और 250 के बीच 4 के गुणजों की संख्या = 60

Bihar Board Class 10th Math Solution In Hindi प्रश्न 15.
n के किस मान के लिए, दोनों समान्तर श्रेढ़ियों 63, 65, 67, ….. और 3, 10, 17,…..के n वें पद बराबर होंगे?
हल
पहली समान्तर श्रेढ़ी : 63, 65, 67,……
पहला पद (a) = 63, सार्वान्तर (d) = 65 – 63 = 2
श्रेढ़ी का n वा पद = a + (n – 1)d
= 63 + (n – 1)2
= 63 + 2n – 2
= 61 + 2n
दूसरी समान्तर श्रेढ़ी : 3, 10, 17, ……
पहला पद (A) = 3 सार्वान्तर (D) = 10 – 3 = 7
श्रेढ़ी का n वाँ पद = A + (n – 1)D
= 3 + (n – 1)7
= 3 + 7 n – 7
= 7n – 4
दोनों श्रेढ़ियों के n वें पद बराबर हैं।
7n – 4 = 61 + 2n
⇒ 7n – 2n = 61 + 4
⇒ 5n = 65
⇒ n = 13
अतः दी गई दोनों श्रेढ़ियों के 13 वें पद समान हैं।

Bihar Board Class 10 Math Solution प्रश्न 16.
वह A.P. ज्ञात कीजिए जिसका तीसरा पद 16 है और 7 वाँ पद 5 वें पद से 12 अधिक है।
हल
माना पहला पद a है तथा सार्वान्तर d है।
दिया है, A.P. का तीसरा पद = 16
a + 2d = 16 ……(1)
श्रेढ़ी का 7 वाँ पद (a7) = a + (7 – 1)d = a + 6d
तथा 5 वाँ पद (a5) = a + (5 – 1)d = a + 4d
7 वाँ पद 5 वें पद से 12 अधिक है
(a + 6d) – (a + 4d) = 12
⇒ a + 6d – a – 4d = 12
⇒ 2d = 12
⇒ d = 6
d का मान समीकरण (1) में रखने पर,
a + 2 × 6 = 16
⇒ a = 4
श्रेढ़ी का पहला पद (a) = 4
दूसरा पद (a2) = a + d = 4 + 6 = 10
तीसरा पद (a3) = a + 2d = 4 + 2 × 6 = 4 + 12 = 16
चौथा पद (a4) = a + 3d = 4 + 3 × 6 = 4 + 18 = 22
अत: अभीष्ट A.P. : 4, 10, 16, 22, …….. है।

Bihar Board 10th Math Solution प्रश्न 17.
A.P. : 3, 8, 13, ….., 253 में अन्तिम पद से 20 वाँ पद ज्ञात कीजिए।
हल
दी गई A.P. : 3, 8, 13, ………, 253
पहला पद (a) = 3, सार्वान्तर (d) = 8 – 3 = 5
यदि श्रेढ़ी को अवरोही क्रम में लिखें तो यह निम्नवत् होगी
253, (253 – 5), (253 – 10), (253 – 15), ……., 3
या 253, 248, 243, 238, ………, 3
पहला पद (a) = 253 तथा सार्वान्तर (d) = 248 – 253 = -5
श्रेढ़ी का 20 वाँ पद = a + (20 – 1)d
= 253 + 19 × (-5)
= 253 – 95
= 158
अतः दी गई A.P. के अन्तिम पद से 20 वाँ पद = 158
वैकल्पिक विधिः A.P. का अन्त से n वाँ पद = l – (n – 1)d
जहाँ, पर l = अन्तिम पद यहाँ, l = 253, d = 8 – 3 = 5, n = 20
A.P. का अन्त से 20वाँ पद = 253 – (20 – 1) (5)
= 253 – 19 × 5
= 253 – 95
= 158

Bihar Board Class 5th Math Solution प्रश्न 18.
किसी A.P. के चौथे और 8 वें पदों का योग 24 है तथा छठे और 10 वें पदों का योग 44 है। इस A.P. के प्रथम तीन पद ज्ञात कीजिए।
हल
माना A.P. का पहला पद a तथा सार्वान्तर d है।
प्रश्नानुसार, 4वाँ पद (a4) + 8 वाँ पद (a8) = 24
⇒ a + (4 – 1)d + a + (8 – 1)d = 24
⇒ a + 3d + a + 7d = 24
⇒ 2a + 10d = 24
⇒ a + 5d = 12 ……..(1)
तथा 6वाँ पद (a6) + 10वाँ पद (a10) = 44
⇒ a + (6 – 1)d + a + (10 – 1)d = 44
⇒ a + 5d + a + 9d = 44
⇒ 2a + 14d = 44
⇒ a + 7d = 22 ……..(2)
समीकरण (2) में से समीकरण (1) को घटाने पर,
(a +7d) – (a + 5d) = 22 – 12
⇒ 2d = 10
⇒ d = 5
d का यह मान समीकरण (1) में रखने पर,
a + 5 × 5 = 12
⇒ a + 25 = 12
⇒ a = -13
तब, श्रेढ़ी का पहला पद (a1) = -13
दूसरा पद (a2) = a + d = -13 + 5 = -8
तीसरा पद (a3) = a + 2d = -13 + 2 × 5 = -13 + 10 = -3
अतः दी गई A.P. के प्रथम तीन पद = -13, -8, -3

प्रश्न 19.
सुब्बाराव ने 1995 में ₹ 5000 के मासिक वेतन पर कार्य आरम्भ किया और प्रत्येक वर्ष ₹ 200 की वेतन वृद्धि प्राप्त की। किस वर्ष में उसका वेतन ₹ 7000 हो गया?
हल
पहले वर्ष में प्रारम्भिक वेतन = ₹ 5000 प्रतिमास
दूसरे वर्ष में वेतन = ₹ (5000 + 200) = ₹ 5200
प्रतिमास तीसरे वर्ष में वेतन = ₹ (5200 + 200) = ₹ 5400 प्रतिमास
इस प्रकार प्रत्येक वर्ष के वेतन (₹)
5000, 5200, 5400, …….. एक समान्तर श्रेढ़ी बनाते हैं।
जिसका पहला पद (a) = 5000 तथा सार्वान्तर (d) = 200
माना n वर्ष बाद वेतन ₹ 7000 होगा।
तब, n वाँ पद = 7000
a + (n – 1)d = 7000
⇒ 5000 + (n – 1) 200 = 7000
⇒ (n – 1) × 200 = 7000 – 5000
⇒ (n – 1) × 200 = 2000
⇒ (n – 1) = 10
⇒ n = 10 + 1 = 11
अत: 11 वें वर्ष में सुब्बाराव का वेतन ₹ 7000 हो जायेगा।

प्रश्न 20.
रामकली ने किसी वर्ष के प्रथम सप्ताह में ₹ 5 की बचत की और फिर अपनी साप्ताहिक बचत ₹ 1.75 बढ़ाती गई। यदि n वें सप्ताह में उसकी साप्ताहिक बचत ₹ 20.75 हो जाती है, तो n ज्ञात कीजिए।
हल
प्रथम सप्ताह की बचत = ₹ 5
प्रत्येक सप्ताह की बचत में उत्तरोत्तर ₹ 1.75 की वृद्धि होती है।
प्रत्येक सप्ताह की बचतें एक A.P. का निर्माण करती हैं जिसका पहला पद (a) = 5 तथा सार्वान्तर (d) = ₹ 1.75
n वें सप्ताह में बचत = 20.75
a + (n – 1)d = 20.75
⇒ 5 + (n – 1) 1.75 = 20.75
⇒ (n – 1) × 1.75 = 20.75 – 5
⇒ (n – 1) × 1.75 = 15.75
⇒ n – 1 = 9
⇒ n = 9 + 1 = 10
अत: n = 10

Bihar Board 10th English Objective Answers Poem 2 Ode On Solitude

   

Bihar Board 10th English Objective Questions and Answers

BSEB Bihar Board 10th English Objective Answers Poem 2 Ode On Solitude

Question 1.
Who is the poet of the poetry “Ode on Solitude” ?
(A) William Wordsworth
(B) William Cowper
(C) Alexander Pope
(D) Puran Singh
Answer:
(C) Alexander Pope

Question 2.
Where does the happy man live, according to this poetry ?
(A) In forest
(B) In towns
(C) In his native land
(D) None of these
Answer:
(C) In his native land

Question 3.
How is he content ?
(A) To live peacefully
(B) to live with comfort
(C) To live with luxury
(D) None of these
Answer:
(A) To live peacefully

Question 4.
Who gives him bread ?
(A) Market
(B) Field
(C) Fanner
(D) None of these
Answer:
(B) Field

Question 5.
From where does he get his clothes ?
(A) From bamboos
(B) From leathers of animals
(C) From his flocks of sheep
(D) None of these
Answer:
(C) From his flocks of sheep

Question 6.
How does the poet desire to sleep ?
(A) So long
(B) Soundly
(C) Sleep for less hours
(D) None of these
Answer:
(B) Soundly

Question 7.
What does the Poet Wish ?
(A) His hours, days and year’s pass away softly
(B) To spend luxurious life
(C) To live with comfort
(D) None of these
Answer:
(A) His hours, days and year’s pass away softly

Question 8.
Meditation……………the happy man.
(A) Saddens
(B) Pleases
(C) Worries
(D) Disturbs
Answer:
(B) Pleases

Question 9.
The poet does not want anything to mark the place where he is
(A) Buried
(B) Sitting
(C) Hiding
(D) Lost
Answer:
(A) Buried

Question 10.
A happy man’s wants are satisfied by the property inherited by him from his
(A) Uncle
(B) Mother
(C) Cousin
(D) Father
Answer:
(D) Father

Question 11.
Hours, days and years slide away………………for the happy man.
(A) Hard
(B) Quickly
(C) Softly
(D) Tensely
Answer:
(C) Softly

Question 12.
“Ode on Solitude” is written by……………….
(A) Alexander Pope
(B) Leo Tolstoy
(C) R.C. Hutchinson
(D) Toni Morrison
Answer:
(A) Alexander Pope

Question 13.
A happy man’s wants are satisfied by the property inherited by him from his………………..
(A) uncle
(B) mother
(C) cousin
(D) father
Answer:
(D) father

Question 14.
Hours, days and years slide away ………………… for the happy man.
(A) Hard
(B) Quickljl
(C) Softly
(D) Tensely
Answer:
(C) Softly

Question 15.
Meditation………………the happy man.
(A) Saddens
(B) Pleases
(C) Worries
(D) Disturbs
Answer:
(B) Pleases

Question 16.
Alexander Pope was one of the greatest…………………..of the early 18th century.
(A) dramatists
(B) novelists
(C) writers
(D) satirists
Answer:
(D) satirists

Question 17.
The poet does not want anything to mark the place where he is
(A) Buried
(B) Sitting
(C) Hiding
(D) Lost
Answer:
(A) Buried

Question 18.
The poet of‘The Rape of the Lock’is
(A) William Cowper
(B) Alexander Pope
(C) William de la Mare
(D) John Keats
Answer:
(B) Alexander Pope

Question 19.
‘Essay on Criticism’is the famous work of
(A) John Keats
(B) Shakespeare
(C) Wordsworth
(D) Alexander Pope
Answer:
(D) Alexander Pope

Question 20.
A poem addressed to a person or thing or celebrating of an event
(A) Satire
(B) Ode
(C) Ballad
(D) Elegy
Answer:
(B) Ode

Question 21.
‘Loneliness’ is same in meaning as
(A) satire
(B) profound
(C) solitude
(D) mob
Answer:
(C) solitude

Question 22.
The happy man is content to live in his own
(A) tree
(B) town
(C) ground
(D) None
Answer:
(C) ground

Question 23.
Who is a happy man?
(A) who is wealthy
(B) who is brave
(C) To live with luxury
(D) None of these
Answer:
(C) To live with luxury

Question 24.
What do you man by ‘slide soft away’?
(A) go away
(B) pass away smoothly
(C) pass away
(D) none of these
Answer:
(B) pass away smoothly

Question 25.
What do the trees yield to a person in summer?
(A) wood
(B) fire
(C) fruit
(D) shade
Answer:
(D) shade

Question 26.
How do hours days and years of a blessed man pass away?
(A) softly
(B) hardly
(C) coldly
(D) frankly
Answer:
(A) softly

Question 27.
‘Steal from the world, and not a stone’—here stone means………….
(A) piece of a rock
(B) a poluable
(C) a tomb stone
(D) a marble stone
Answer:
(C) a tomb stone

Question 28.
‘W:ose herds with milk, whose fields with breaC, here ‘bread’ means.
(A) cake
(B) corn
(C) piece of bread
(D) any type of bread
Answer:
(B) corn

Question 29.
Whose flocks supply him with attire, here flock means.
(A) sheep
(B) cow
(C) dog
(D) elephant
Answer:
(D) elephant

Question 30.
Alexander Pope was born in
(A) 1588
(B) 1688
(C) 1788
(D) 1678
Answer:
(B) 1688

Question 31.
Alexander Pope died ¡n
(A) 1888
(B) 1848
(C) 1744
(D) 1724
Answer:
(C) 1744

Question 32.
Who was one of thegreatest poet-satirist and alsoa critic of the
early 18’s’ century?
(A) William Cowper
(B) William Wordsworth
(C) Alexander Pope
(D) Walter de la Mare
Answer:
(C) Alexander Pope

Question 33.
Where does the happy man live, according to this poem?
(A) In forest
(B) In towns
(C) In his native land
(D) None of these
Answer:
(C) In his native land

Question 34.
How is he content?
(A) To live peacefully
(B) to live with comfort
(C) To live with luxury
(D) None of these
Answer:
(A) To live peacefully

Question 35.
How does the poet desire to sleep?
(A) So long
(B) Soundly
(C) Sleep for less hours
(D) None of these
Answer:
(B) Soundly

Question 36.
The happy man owns inherited
(A) world
(B) property
(C) poem
(D) solitude
Answer:
(B) property

Bihar Board Class 10 English Grammar Translation

   

Guys who are planning to learn the fundamentals of English can avail the handy study material Bihar Board Class 10 English Reader Solutions Grammar Translation Questions and Answers here. Refer to the Bihar Board English Solutions for Class 10 PDF available and score better grades. Simply click on the quick links available for Bihar Board Class 10 English Book Solutions and prepare all the concepts in it effectively. Take your preparation to the next level by availing the Bihar Board Class 10 English Book Solutions Grammar Translation prepared by subject experts.

Bihar Board Class 10 English Grammar Translation

Panorama English Book Answers Pdf Bihar Board Question 1.
Translate into English:

  1. मेरा बड़ा भाई पटना में रहता है।
  2. पटना बिहार की राजधानी है।
  3. यह गंगा नदी के किनारे बसा हुआ है।
  4. यहाँ की सड़कें पक्की एवं चौड़ी हैं।
  5. यह एक पुराना शहर है।
  6. प्राचीन काल में यह शहर पाटलिपुत्र के नाम से जाना जाता था।
  7. यहाँ अनेकों दर्शनीय स्थल हैं।
  8. पटना का महावीर मंदिर प्रसिद्ध है।

Answers:

  1. I am writing my name on the blackboard.
  2. I have bought a few books.
  3. Why did you come late? Or Why are you late?
  4. I leave for Bombay tomorrow.
  5. Sita is more beautiful than Lila.
  6. What he says is right.
  7. When the teacher comes (enters) to the class, the students stand up.
  8. Mohan is so fat that he cannot run.

Translation For 10th Class Bihar Board Question 2.
Translate into English:

  1. हमारा देश महान है।
  2. महात्मा गाँधी अहिंसा में विश्वास करते थे।
  3. हमें सफलता के लिए कठिन परिश्रम करना चाहिए।
  4. क्या आप मेरी मदद कर सकते हैं?
  5. मेरा मित्र इन दिनों बीमार है।
  6. सोमवार की शाम से ही वह अनुपस्थित है।
  7. अजय इतना कमजोर है कि वह परीक्षा में उत्तीर्ण नहीं हो सकता।
  8. वह नौकरी की खोज में दिल्ली जायेगा।

Answers:

  1. Our country is great.
  2. Mahatama Gandhi believed in non-violence.
  3. We should labour hard for success.
  4. Can you help me?
  5. These days my friend is ill.
  6. He has been absent since Monday evening.
  7. Ajay is so weak that he cannot pass the examination.
  8. He will go to Delhi in search of a job.

Question 3.
Translate into English:

  1. शिक्षक वर्ग में आ चुके हैं।
  2. वह शाम को अपनी किताब पढ़ता रहेगा।
  3. उसके स्टेशन पहुँचने के पहले गाड़ी खुल चुकी थी।
  4. क्या वह गरीब नहीं है?
  5. जब मैं उसके घर गया, वह पढ़ रहा था।
  6. गोपाल हरि से लम्बा है।
  7. यदि तुम्हें रुपये की जरूरत हो, अपने पिता के पास पत्र लिखें।
  8. मैं खाता तो हूँ।

Answers:

  1. The teacher has come in the class.
  2. He shall have been reading his book in the evening.
  3. The train had started before he reached the station.
  4. Is he not poor?
  5. When I went to his house, he was reading.
  6. Gopal is taller than Hari.
  7. If you are in need of money, write a letter to your father.
  8. I do eat.

Question 4.
Translate into English:

  1. श्री लालू प्रसाद यादव बिहार के मुख्यमंत्री हैं।
  2. वे गरीबों के एकमात्र नेता हैं।
  3. वे निर्भीक एवं ईमानदार हैं।
  4. इनके नेतृत्व में बिहार आगे बढ़ेगा।
  5. उषा इन्दु से अधिक सुन्दर है।
  6. वह कल कलकत्ता जानेवाला है।
  7. क्या आप मेरी मदद कर सकते हैं?
  8. हमारा देश महान है।

Answers:

  1. Sree Lalu Prasad Yadav is the Chief Minister of Bihar.
  2. He is the only leader of the poor.
  3. He is bold and honest.
  4. Bihar will go ahead under his leadership.
  5. Usha is more beautiful than Indu.
  6. He is to go to Calcutta tomorrow.
  7. Can you help me?
  8. Our country is great.

Question 5.
Translate into English:

  1. मैं सुबह से आपकी प्रतीक्षा कर रहा हूँ।
  2. शिक्षक ने विद्यार्थियों को अंग्रेजी पढ़ाई।
  3. आप किसको खोजते हैं?
  4. एक शहर में दो दोस्त रहते थे।
  5. आप जितने दयालु हैं उतना कोई नहीं है?
  6. मैं आपकी सफलता की कामना करता हूँ।
  7. स्नान करने के बाद वह चाय पीती है।
  8. वह आयेगा तो मैं जाऊँगा।

Answers:

  1. I have been waiting for you since morning.
  2. The teacher taught the students English.
  3. Whom do you search for?
  4. There lived two friends in any town.
  5. Nobody is so kind as you are.
  6. I wish your success.
  7. She takes tea after having a bath.
  8. I shall go if he comes.

Question 6.
Translate into English:

  1. लाल बहादुर शास्त्री जी को कौन नहीं जानता?
  2. वे एक गरीब परिवार से आते हैं।
  3. वे गरीबों के प्रतीक हैं।
  4. मैं उतना ही जानता हूँ जितना तुम।
  5. हमें अपनी माँ की सेवा अवश्य करनी चाहिए।
  6. किसी गाँव में एक भिखारी रहता था।
  7. क्या आपने हरि को देखा है?
  8. कृपया जरा दरवाजा बन्द कर दें।

Answers:

  1. Who desn’t know Lal Bahadur Shashtrijce?
  2. He comes of a poor family.
  3. He is the symbol of the poor.
  4. I know as much as you.
  5. We must serve our mother.
  6. There lived a beggar in a village.
  7. Have you seen Hari?
  8. Please, shut the door.

Question 7.
Translate into English:

  1. हमलोग फुटबॉल खेलते हैं।
  2. राजा अपनी प्रजा को प्यार करते थे।
  3. हमें अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देना चाहिए।
  4. क्या मैं घर जा सकता हूँ?
  5. मुझे बताओ कि तुम कहाँ रहते हो।
  6. 1947 से हमारा देश स्वतन्त्र है।
  7. वह इतना गरीब है कि विद्यालय शुल्क नहीं दे सकता।
  8. श्याम परीक्षा में प्रथम आएगा।

Answers:

  1. We play football.
  2. The king loved his subject.
  3. We should take care of our health.
  4. May I go home?
  5. Tell me where you live.
  6. Our country has been free since 1947.
  7. He is so poor that he can’t pay the school fee.
  8. Shyam will stand first at the examination.

Question 8.
Translate into English:

  1. गाय एक चौपाया जानवर है।
  2. गाय हरी घास एवं पुआल खाती है।
  3. गाय हमें दूध देती है।
  4. इसका दूध मीठा होता है।
  5. यह हमें बछड़ा देती है।
  6. बछड़ा गाड़ी खींचता एवं हल जोतता है।
  7. हलवाई इसके दूध से मिठाइयाँ बनाता है।
  8. हिन्दू गाय को पूजते हैं।

Answers:

  1. The cow is a four-footed animal.
  2. She eats green grass and straw.
  3. The cow gives us milk.
  4. Her milk is sweet.
  5. She gives us a calf.
  6. The calf carries cart and ploughs the field.
  7. Confectioner makes sweets from her milk.
  8. Hindus worship the cow.

Question 9.
Translate into English:

  1. भारतीय किसान परिश्रमी होते हैं।
  2. वे प्रात:काल उठते हैं।
  3. सर्वप्रथम वे अपने मवेशियों को खिलाते हैं।
  4. उसके बाद वे खेत जाते हैं।
  5. वे दिनभर खेत में काम करते हैं।
  6. दोपहर में वे थोड़ा आराम करते हैं।
  7. शाम को वे घर लौटते हैं।
  8. भारतीय किसान की स्थिति दयनीय है।

Answers:

  1. Indian farmers are laborious.
  2. They get up early in the morning.
  3. First of all, they feed their cattle.
  4. After that, they go to their field.
  5. They work in the field throughout the day.
  6. They take rest for a while at noon.
  7. They return their home in the evening.
  8. The condition of the Indian farmer is miserable.

Question 10.
Translate into English:

  1. राम मेरा अग्रज है
  2. वह ग्यारहवीं कक्षा का छात्र है।
  3. वह सदा अपने वर्ग में प्रथम आता है।
  4. कल वह पटना जायेगा।
  5. पटना बिहार की राजधानी है।
  6. वह गंगा नदी के किनारे अवस्थित है।
  7. बिहार में प्रथम बार एक महिला मुख्यमंत्री हुई है।
  8. बिहार की धरती खनिज से भरी-पूरी है।

Answers:

  1. Ram is my elder borther.
  2. He is a student of class XI.
  3. He always stands first in his class.
  4. He will go to Patna tomorrow.
  5. Patna is the capital of Bihar.
  6. It stands on the bank of the river ‘Ganga’.
  7. For the first time in Bihar, a female has become the Chief Minister.
  8. The land of Bihar is full of minerals.

Question 11.
Translate into English:

  1. मानवता सबसे बड़ा धर्म है।
  2. वह खाना खा चुका था।
  3. तुम आज क्या कर रहे हो?
  4. सीता गीता से अधिक सुन्दर है।
  5. वह कल स्कूल नही गया था।
  6. परीक्षा दो घंटे तक चलेगी।
  7. गाय एक उपयोगी पशु है।
  8. मोहन एकाएक बीमार हो गया था।

Answers:

  1. Humanity is the greatest religion.
  2. He had taken his meal.
  3. What are you doing today?
  4. Sita is more beautiful than Geeta.
  5. He didn’t go to school yesterday.
  6. The examination will be of two hours duration.
  7. The cow is a useful animal.
  8. Mohan fell ill all of a sudden.

Question 12.
Translate into English:

  1. आदमी और कुत्ता में क्या फर्क है?
  2. बड़ों का आदर करना चाहिए।
  3. हिमालय पहाड़ों में सबसे ऊँचा है।
  4. राम पढ़ने में श्याम से अच्छा है।
  5. कल से मूसलाधार वर्षा हो रही है।
  6. राम के स्टेशन पहुँचने के पहले गाड़ी खुल चुकी थी।
  7. चुनाव प्रक्रिया में सुधार की आवश्यकता है।
  8. ईमानदारी सबसे अच्छी नीति है।

Answers:

  1. What is the difference between a man and a dog?
  2. We ought to respect our elders.
  3. The Himalyas is the highest Mountain.
  4. Ram is more intelligent than Shyam.
  5. It has been raining cats and dogs since yesterday.
  6. The train had steamed off before Ram reached the station.
  7. There is need of some changes in Election Process.
  8. Honesty is the best Policy.

Question 13.
Translate into English:

  1. राजगीर एक बड़ा ही रमणीय स्थान है।
  2. वैशाली एक दर्शनीय ऐतिहासिक स्थल है।
  3. विद्यार्थियों को चरित्र पर ध्यान देना चाहिए।
  4. आज बच्चों को शिक्षक की नहीं गुरु की जरूरत है।
  5. खेल का जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है।
  6. वह कल पटना गया था।
  7. अगर वह मन से पढ़ता, तब जरूर पास होता।
  8. बाग में मेला लगेगा।

Answers:

  1. Rajgir is a very charming place.
  2. Vaishali is a worth seeing historical place.
  3. Students should pay heed to their character.
  4. These days children need preceptor not a teacher.
  5. Games and sports have important place in our life.
  6. He went Patna yesterday.
  7. Had he read attentively, he must have passed.
  8. A fair will be organised in the orchard.

Question 14.
Translate into English:

  1. गंगा भारत की पवित्र नदियों में एक है।
  2. इसके किनारे अनेक बड़े-बड़े शहर स्थित हैं।
  3. हमलोग गंगा को माँ की तरह पूजते हैं।
  4. भारत में अनेक ध र्मों के लोग रहते हैं।
  5. भारत एक प्रजातंत्रात्मक देश है।
  6. यहाँ का संविधान लचीला है।
  7. यह निश्चित है कि भारत तरक्की करेगा।
  8. भारत की एकता को कोई भी तोड़ नहीं सकता है।

Answers:

  1. The Ganga is one of the holiest rivers of India.
  2. Several cities stand on tis bank.
  3. We worship the Ganga like our mother.
  4. People of different religions live in India.
  5. India is a democratic country.
  6. Our constitution is flexible.
  7. It is certain that India will progress.
  8. No one can break the unity of India.

Question 15.
Translate into English:

  1. राम ने मुझे एक चिट्ठी लिखी।
  2. सीता प्रत्येक दिन स्कूल जाती है।
  3. जोरदार वर्षा हो रही है।
  4. तुम्हें अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देना चाहिये।
  5. क्या तुम कभी आगरा गये हो?
  6. मेरा भाई कल पटना से वापस आयेगा।
  7. तुम्हें मेरी सहायता करनी चाहिये।
  8. आप कहाँ से आये हैं?

Answers:

  1. Ram wrote me a letter.
  2. Sita goes to school daily.
  3. It is raining heavily.
  4. You should take care of your health.
  5. Have you ever gon Agra?
  6. My brother will come back from Patna tomorrow.
  7. You should help me.
  8. Where have you come from?

Question 16.
Translate into English:

  1. मैं कल पटना जाऊँगा।
  2. मैं दवा खा रहा हूँ।
  3. वह यहाँ नहीं आया।
  4. क्या तुमने अपना काम समाप्त कर लिया है।
  5. चार दिनों से वर्षा हो रही है।
  6. वह गरीबों की सहायता करता है।
  7. वह अपने पिता के साथ रहना चाहता है।
  8. तुम कब यहाँ आये?

Answers:

  1. shall go to Patna tomorrow.
  2. I am taking medicine.
  3. He did not come here.
  4. Have you finished your work?
  5. It has been raining for four days.
  6. He helps the poor.
  7. He wants to live with his father.
  8. When did you come here?

Question 17.
Translate into English:

  1. महात्मा गाँधी को कौन नहीं जानता है?
  2. जय प्रकाश नारायण एक महान व्यक्ति थे।
  3. मैंने उसे एक पत्र लिखा।
  4. वह सोमवार से बीमार है।
  5. वह तैरना जानता है।
  6. आज बहुत गर्म है।
  7. ज्योंही शिक्षक वर्ग में आये, विद्यार्थी खड़े हो गये।
  8. यदि तुम कठिन परिश्रम नहीं करोगे, तुम सफलता प्राप्त नहीं करोगे।

Answers:

  1. Who does not know Mahatma Gandhi?
  2. Jai Prakash Narayan was a great man.
  3. I wrote a letter to him.
  4. He has been ill since Monday.
  5. He knows to swim.
  6. It is too hot today or It is very hot today.
  7. As soon as the teacher entered the class, the students stood up.
  8. Unless you labour hard, you will not succeed.

Question 18.
Translate into English:

  1. विनोबा भावे एक संत थे।
  2. भारत एक कृषि प्रधान देश है।
  3. हिन्दी हमारी मातृ-भाषा है।
  4. कल वह जायेगा।
  5. आप कहाँ से आये हैं?
  6. हमलोग गंगा को माँ की तरह पूजते हैं।
  7. तुम्हें मेरी सहायता करनी चाहिये।
  8. राम मुझे एका चिट्ठी लिखेगा।

Answers:

  1. Vinova Bhave was a saint.
  2. India is an agricultural country.
  3. Hindi is our mother tongue.
  4. He will go tomorrow.
  5. Where have you come from?
  6. We worship the Ganges as a mother.
  7. You should help me.
  8. Ram will write a letter to me.

Question 19.
Translate into English:

  1. गरीब ईमानदार होते हैं।
  2. उसे कल पटना जाना है।
  3. राम मोहन से अधिक तेज है।
  4. सभी विद्यार्थियों को पुरस्कार दिया गया।
  5. आज वर्षा होगी।
  6. उसने अपने पिता को पत्र लिखा है।
  7. मैं अकेले वहाँ नहीं जा सकता।
  8. यदि तुम्हें मेरी सहायता की जरूरत हो, मुझे पत्र लिखो।

Answers:

  1. The poor are honest.
  2. He has to go to Patna tomorrow.
  3. Ram is more intelligent than Mohan.
  4. Every student got prizes.
  5. It will rain today.
  6. He has written a letter to his father.
  7. I cannot go alone there.
  8. If you need my help, write a letter to me.

Question 20.
Translate into English:

  1. लोकनायक जयप्रकाश गाँधीजी के अनुयायी थे।
  2. उनकी पत्नी का नाम प्रभावती था।
  3. वह अपने पिता के साथ रहना चाहता है।
  4. परीक्षा चल रही है।
  5. आप कहाँ से आये हैं?
  6. सदा सच बोलो।
  7. मैं कल पटना जाऊँआ।
  8. मेरी परीक्षा समीप है।

Answers:

  1. Loknayak Jai Prakash was the follower of Gandhijee.
  2. His wife’s name was Prabhawati.
  3. He wants to live with his father.
  4. The examination is going on.
  5. Where have you come from?
  6. Always speak the truth.
  7. I will go to Patna tomorrow.
  8. My examination is at hand.

Question 21.
Translate into English:

  1. वह आज दिल्ली से आया है।
  2. मैं उसे नहीं जानता हूँ।
  3. क्या आप उन्हें जानते हैं?
  4. यह कलम मेरे भाई ने मुझे दी है।
  5. भारत एक कृषि प्रध न देश है।
  6. सुबह का टहलना स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है।
  7. राम श्याम से ज्यादा ईमानदार है।
  8. मैं दो वर्षों से इस शहर में रह रहा हूँ।

Answers:

  1. He has come from Delhi today.
  2. I don’t know him.
  3. Do you know him?
  4. My brother has given me this pen.
  5. India is an agricultural country.
  6. Walking in the morning is good for health.
  7. Ram is more honest than Shyam.
  8. I have been living in this city for two years.

Question 22.
Translate into English:

  1. मेरा बड़ा भाई पटना में रहता है।
  2. पटना बिहार की राजधानी है।
  3. यह गंगा नदी के किनारे बसा हुआ है।
  4. यहाँ की सड़कें पक्की एवं चौड़ी हैं।
  5. यह एक पुराना शहर है।
  6. प्राचीन काल में यह शहर पाटलिपुत्र के नाम से जाना जाता था।
  7. यहाँ अनेकों दर्शनीय स्थल हैं।
  8. पटना का महावीर मंदिर प्रसिद्ध है।

Answers:

  1. My elder brother lives at Patna.
  2. Patna is the capital of Bihar.
  3. It is situated at the bank of river Ganga.
  4. There are pitched and wide roads here.
  5. It is an old city.
  6. It was known as Patliputra in ancient times.
  7. There are many worth-seeing places here.
  8. The Mahavir Temple of Patna is famous.

Question 23.
Translate into English:

  1. धनी सुखी है।
  2. खेलना लाभदायक है।
  3. मैंने कोई पुस्तक नहीं लिखी थी।
  4. क्या उन्होंने मुझे नहीं देखा था?
  5. आज बहुत गर्मी है।
  6. आज वर्षा हो रही है।
  7. हीमेश आज पटना गया है।
  8. मेरा भाई कल दिल्ली से आयेगा।

Answers:

  1. The rich are happy.
  2. Playing is useful. or To play is useful.
  3. I wrote no book. or, I did not write any book.
  4. Did he not see me?
  5. It is very hot today.
  6. It is raining today.
  7. Himesh went to Patna today.
  8. My brother will come here from Delhi tomorrow.

Question 24.
Translate into English:

  1. मैं सीखने के लिए उत्सुक हूँ।
  2. तुम खुद कोशिश करो।
  3. भगवान तेरी मदद करें।
  4. तुम कौन कलम पसंद करते हो?
  5. वे सेवा निवृत्त पदाधिकारी हैं।
  6. मैंने एक भुंकता हुआ कुत्ता पाया।
  7. वह वहाँ जाने से डरता है।

Answers:

  1. I am anxious to learn.
  2. Try yourself.
  3. May God help you!
  4. Which pen do you like?
  5. He is a retired officer.
  6. I found a barking dog.
  7. He fears to go there.

Question 25.
Translate into English:

  1. मैं सुबह जल्दी उठता हूँ।
  2. वह कल दिल्ली जाएगा।
  3. हमें बाजार जाना है।
  4. आज स्कूल बन्द है।
  5. मैं इस शहर में पाँच साल से रह रहा हूँ।
  6. यह मेरी कलम है।
  7. बिहार की राजधानी पटना है।

Answers:

  1. I get up early in the morning.
  2. He will go to Delhi tomorrow.
  3. I have to go to the market.
  4. The school is closed today.
  5. I have been living in this city for the last five years.
  6. This is my pen.
  7. Patna is the capital of Bihar.

Question 26.
Translate into English:

  1. हमलोग रात्रि में सोते हैं।
  2. मैं डाक्टर से कल भेट करूँगा।
  3. शिक्षक ने उससे कहा कि खड़े हो जाओ।
  4. मुझे अभी अवश्य वहाँ जाना चाहिए।
  5. हमलोगों को अपने माँ-बाप की आज्ञा माननी चाहिए।
  6. हमलोग मैच जीत सकते हैं।
  7. वह विद्यार्थी बहुत ईमानदार है।

Answers:

  1. We sleep at night.
  2. I shall meet the doctor tomorrow.
  3. The teacher asked him to stand up.
  4. I must go there now.
  5. We should obey our parents.
  6. We can win the match.
  7. That student is very honest.

Question 27.
Translate into English:

  1. वह राजा अत्यधिक कठोर है।
  2. रेखा यहाँ सबसे सुन्दर लड़की है।
  3. उसे इस विद्यालय में दाखिल किया गया है।
  4. राजीव एक धनी व्यक्ति बनेगा।
  5. उसे जाने दो।
  6. किताब लेने के लिए आओ।
  7. कक्षा में लड़के-लड़कियों से अधिक हैं।

Answers:

  1. That king was very cruel.
  2. Rekha is the most beautiful girl here.
  3. He has been admitted to the school.
  4. Rajiv will become a rich man.
  5. Let him go.
  6. Go to bring the book.
  7. Boys are more in numbers than the girls in the class.

Question 28.
Translate into English:

  1. वह अपने पिता के साथ रहता है।
  2. मेरा भाई कल पटना आयेगा।
  3. यहाँ अनेक दर्शनीय स्थान हैं।
  4. पटना गंगा नदी के किनारे बसा है।
  5. खेलना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है।
  6. क्या तुमने सीता को देखा है?
  7. सभी विद्यार्थियों को पुरस्कार दिया जाएगा।

Answers:

  1. He lives with his father.
  2. My brother will come to Patna tomorrow.
  3. There are many worth-seeing places here.
  4. Patna is situated at the bank of river Ganga.
  5. Playing (to play) is useful for health.
  6. Have you seen Şita?
  7. Every student will get a prize. or, Prize will be given to all (every) student.

Question 29.
Translate into English:

  1. आदमी और कुत्ता में क्या फर्क है?
  2. मानवता सबसे बड़ा धर्म है।
  3. परीक्षा दो घंटे तक चलेगी।
  4. वह कल पटना जायेगा।
  5. खेल का जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है।
  6. छात्रों को चरित्र पर ध्यान देना चाहिए।
  7. भारतीय किसान की स्थिति दयनीय है।

Answers:

  1. What is the difference between a man and a dog?
  2. Humanity is the greatest religion.
  3. The examination will be of two hours duration.
  4. He will go to Patna tomorrow.
  5. Sports and games have an important place in our life.
  6. The student should pay heed to their character.
  7. The condition of the Indian farmer is miserable.

We wish the knowledge shared regarding Bihar Board Solutions for Class 10 English Grammar Translation Questions and Answers has been helpful to you. If you need any further help feel free to ask us and we will get back to you with the possible solution. Bookmark our site to avail the latest updates on different state boards solutions in split seconds.

Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4

   

Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Text Book Questions and Answers.

BSEB Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4

Bihar Board Class 10 Maths त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4

Bihar Board Class 10 Math Book Solution In Hindi Pdf Download प्रश्न 1.
त्रिकोणमितीय अनुपातों sin A, sec A और tan A को cot A के पदों में व्यक्त कीजिए
हल
हम जानते हैं कि cot A और cosec A में सम्बन्ध ‘cosec2 A = 1 + cot2 A’ है और cosec A और sin A में सम्बन्ध प्रतिलोम का है।
Bihar Board Class 10th Math

Bihar Board Class 10 Math Solution In Hindi प्रश्न 2.
∠A के अन्य सभी त्रिकोणमितीय अनुपातों को sec A के पदों में लिखिए।
हल
Bihar Board Class 10th Math Solution
Ex 8.4 Maths Class 10 Bihar Board

Class 10 Maths 8.4 Solution In Hindi Bihar Board प्रश्न 3.
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q3
(ii) sin 25° cos 65° + cos 25° sin 65°
हल
Bihar Board Class 10th Math Solution In Hindi

(ii) दिया है, sin 25° cos 65° + cos 25° sin 65°
= sin 25° cos (90° – 25°) + cos 25° sin (90° – 25°)
= sin 25° sin 25° + cos 25° cos 25°
[∵ cos (90° – 25°) = sin 25° तथा sin(90° – 25°) = cos 25°]
= sin2 25° + cos2 25°
= 1 [∵ sin2 A+ cos2 A = 1]
अतः sin 25° cos 65° + cos 25° sin 65° = 1

Bihar Board Class 10 Math Book Solution In Hindi प्रश्न 4.
सही विकल्प चुनिए और अपने विकल्प की पुष्टि कीजिए-
(i) 9 sec2 A – 9 tan2 A बराबर है-
(A) 1
(B) 9
(C) 8
(C) 0

(ii) (1 + tan θ + sec θ) (1 + cot θ – cosec θ) बराबर है-
(A) 0
(B) 1
(C) 2
(D) -1

(iii) (sec A + tan A)(1 – sin A) बराबर है-
(A) sec A
(B) sin A
(C) cosec A
(D) cos A

(iv) \(\frac{1+\tan ^{2} A}{1+\cot ^{2} A}\) बराबर है-
(A) sec2 A
(B) -1
(C) cot2 A
(D) tan2 A
हल
(i) यहाँ 9 sec2 A – 9 tan2 A
= 9 (sec2 A – tan2 A)
= 9 (1 + tan2 A – tan2 A) [∵ sec2 A = 1 + tan2 A]
= 9 × (1)
= 9
अत: विकल्प (B) सही है।

(ii) यहाँ (1 + tan θ + sec θ) (1 + cot θ – cosec θ)
Bihar Board 10th Math Solution
Bihar Board Solution Class 10 Math
Class 10th Math Solution In Hindi Bihar Board

Class 10th Math Solution In Hindi Bihar Board Pdf प्रश्न 5.
निम्नलिखित सर्वसमिकाएँ सिद्ध कीजिए, जहाँ वे कोण, जिनके लिए व्यंजक परिभाषित है, न्यूनकोण हैं-
Bihar Board Math Solution Class 10
हल
Bihar Board 10th Class Math Solution
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q5.2
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q5.3
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q5.4
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q5.5
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q5.4 (1)
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q5.7
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q5.8
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q5.9
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q5.10
Bihar Board Class 10 Maths Solutions Chapter 8 त्रिकोणमिति का परिचय Ex 8.4 Q5.11

Bihar Board Class 10 English Book Solutions Poem 3 Polythene Bag

   

Guys who are planning to learn the fundamentals of English can avail the handy study material Bihar Board Class 10 English Book Solutions Poem 3 Polythene Bag Questions and Answers here. Refer to the Bihar Board English Solutions for Class 10 PDF available and score better grades. Simply click on the quick links available for Bihar Board Class 10 English Book Solutions and prepare all the concepts in it effectively. Take your preparation to the next level by availing the Bihar Board Class 10 English Book Solutions Poem 3 Polythene Bag prepared by subject experts.

Panorama English Book Class 10 Solutions Poem 3 Polythene Bag

Do you feel the concept of English difficult to understand? Not anymore with our Bihar Board Solutions for Class 10 English Poem 3 Polythene Bag Questions and Answers. All the Solutions are given to you with detailed explanation and you can enhance your subject knowledge. Use the Bihar Board Textbook Solutions PDF free of cost and prepare whenever you want.

B.1. Answer the following questions very briefly:

Polythene Bag Question Answer Bihar Board Class 10 Question 1.
Who has composed the poem?
Answer:
Durga Prasad Panda.

Polythene Bag Poem Bihar Board Class 10 Question 2.
Does a Polythene bag get dissolve?
Answer: It never gets dissolved.

Panorama Class 10 Solutions Bihar Board Question3.
When does a Polythene bag make a noise?
Answer: When it is touched.

Panorama English Book Class 10 In Hindi Question 4.
What does it give out when it is burnt?
Answer:
It gives out a poisonous smell.

Class 10 English Bihar Board Question 5.
How does it affect environment?
Answer:
By producing pollution.

B.2. Answer the following questions briefly:

Bihar Board Class 10 English Book Solution Question 1.
How do the germs of disease grow?
Answer:
The germs of disease grow inside the garbage hin where polythene’ bags are lying inside it.

Panorama English Book Class 10 Solutions Bihar Board Question 2.
What does the word ‘Hurt stand for?
Answer:
The word ‘Hurt’ stands for the pain the polythene bags give out to mankind.

Panorama English Book Class 10 Solutions In Hindi Bihar Board Question 3.
What causes pain?
Answer:
The pain is caused by ‘hurt’ which is a strange polythene bag.

Question 4.
Whose ‘hurt melt’s down like polythene bag?
Answer:
Hurt of the poet’ heart melt’ like the polythene bag.

Question 5.
What comes back again and again?
Answer:
The pain caused by the ‘hurt’ comes back again and again.

Question 6.
Where the polythene bag is buried?
Answer:
The polythene bag remains buried inside the garbage bin.

C.1. Long Answer questions:

Question 1.
How does a Polythene bag pollute our environment?
Answer:
Polythene bags are never destroyed by cold or heat, by water or soil. A polythene bag gives out a poisonous smell if it is burnt. By lying inside the garbage bin it grows germs of the diseases. In this way, it pollutes our environment.

Question 2.
Why does the poet compare hurt’s’ with a Polythene bag? Give any two reasons.
Answer:
A polythene bag hurts every body on the earth. First, ‘hurt’ is the symbol of pain. Secondly, it can never be destroyed by burning or by burying it into the earth’s crust.

Question 3.“The Polythene bag remains buried within”. Explain.
Answer:
A polythene bag is never destroyed even if it is buried. side a garbage bin or into the earth’s crust. It goes on growing the germs of disease. But it is not visible to any body.

Question 4.
Have you ever been hurt? Write your feeling in your own words.
Answer: I have been hurt many times by the polythene bags. The eatables that I bring in it get contaminated. They also get coloured by the colour of the polythene bags. :

C. 2. Group Discussion.

Discuss the following in groups:

1. Good environment makes our life happy and healthy but most of us fail to understand it. Discuss.
Answer:
Fresh air, fresh water, fresh fruit and vegetables are good for good health. These make our life happy and healthy. But people do not understand and they pollute environment. There are many reasons for the pollution. People have cut the forests to meet the demands of ever-increasing population and getting up various industries. Burning of petrol and the smoke emitted by the factories pollute the air. We breathe in with carbon monoxide and nitrogen r es. ie effinents let off in rivers by the factories cause water pollution. Most of us do not undestrand it. It is human being who is harming environment. Something should be done to contain the increasing environmental pollution.

2. The sources of pollution are limitless.
Answer:
Fresh air, fresh water, fresh fruit, and vegetables are good for good health. These make our life happy and healthy. But people do not understand and they pollute environment. There are many reasons for the pollution. People have cut the forests to meet the demands of ever-increasing population and getting up various industries. Burning of petrol and the smoke emitted by the factories pollute the air. We breathe in with carbon monoxide and nitrogen r es. ie effinents let off in rivers by the factories cause water pollution. Most of us do not undestrand it. It is human being who is harming environment. Something should be done to contain the increasing environmental pollution.

C. 3. Composition

1. Write a paragraph in about 100 words on pollution.
Answer: Pollution
“These days the environmental pollution has increased so much that human existence has started facing danger. Trees have been cut. Environmental pollution is the gift of modern development and progress. It is a by-product of unplanned industrialisation, mining and hapazard, and faulty town planning. Forest and trees are the green lungs of the earth. Deforestation has resulted degradation of environment, soil erosion flood, and droughts. The effluents (all) of industrial waste have polluted all our major rivers and lake making their water unfit for drinking. Cities and towns are gradually becoming gas chambers due to the smoke of chimneys and the guzzlers on the road. These are creators of pollution.

2. Narrate your experience of a badly polluted slum colony of your area.
Answer:
The living conditions in Kankerbagh, Slum colony in Patna are really pathetic. The whole area has grown into one large garba dump. Heaps of dirt and piles of dung and garbage greet you in every street and open space. The whole colony has been polluted with these things. The open uncovered drains, pits, and holes carrying foul water make the roads stink with a foul. smell. Air is also polluted, water is polluted, soil is polluted, everyrhing has become raubbish. The overflow of used water and its contact with dung and garbage further deteriorates the whole situation. Garbage sinks and emits a foul smell. Mosquitoes breed in the pits and pools of poluted water and flies buzz over them. Stray dogs make merry on the heaps of garbage Pigs wallow in the mud near the open drains. The whole slum area has been polluted. Living condition in this slum settlement are appalling (भयानक ).

D. Word Study
D. 1. Dictionary Use

Ex, 1. Correct the spelling of the following words:
Polethen, disolved, squacky, disees, remeins, burried, coused.
Answer:
Polythene— dissolve—squeaky—disease
remains—burieda—caused.

Ex. 2. Say the ‘Antonyms’ of the following words: Strange, never, earth, noise, little, warm, pain, back, deep, inside.
Answer:
Words Autonyms

Strange…..normal. Never………always.
Earth……….sky. Noise………..calm.
Little……………big Warm…………cool
Pain………….. relief Back………..ahead
Deep………..shallow Inside……Outside.

E. Grammar

Ex. 1. Look at the different forms of verb ‘get’ carefully
get, got, got (gotten), getting, gets.
Now give different forms of the following verbs as illustrated above:
dissolve, touch, make, burn, Pollute, keep, remain, bury, come, cause.
Answer:
Bihar Board Class 10 English Book Solutions Poem 3 Polythene Bag 1

Translate

Translate into English:
(i) पोलीथीन घुलता नहीं है |
(ii) यह बहुत आवाज (ध्वनि ) उत्पन्न करता है |
(iii) यह काफी दुर्गध देता है |
(iv) यह कविता किसने लिखी ?
(v) तुम से यह किसने कहा ?
Answer:
(i) Polythene does not dissolve.
(ii) It produces much noise.
(iii) It gives much foul smell.
(iv) Who wrote this poem?
(v) Who told you this?

Comprehensive Based Questions with Answers

1. ‘Hurt’ is such a strange polythene bag
which never gets
dissolved into the earth’s crust
Questions:
(i) Name the poet and the poem?
(ii) What is polythene?
(iii) How strange is the polythene?
Answers:
(i) The poet’s name is Durga Prasad Panda and the poem’s name is ‘Polythene Bag’.
(ii) Polythene is a plastic material It is widely used for waterproof packaging and bags as well.
(iii) It is strange because it does not destroy easily. It does not dissolve under the earth.

हिन्दी रूपान्तर:

  • कवि पॉलिथिन-बैग से उत्पन्न होने वाले अनेक दुष्परिणाम पर प्रकाश डाल रहा
  • “हर्ट” है ऐसा विचित्र पॉलिथिन थैला
  • जो कभी नहीं होता है
  • परिवर्तित ठोस से तरल पदार्थ में, धरती की ऊपरी सतह पर .

भावार्थ:
पॉलिथिन-थैला ‘हर्ट’ ऐसा विचित्र होता है जो धरती की ऊपरी सतह पर कभी ठोस से तरल पदार्थ में परिवर्तित नहीं होता है।

2. When touched it makes a squeaky noise,
when burnt it exudes a pungent smell,
when left to itself
it pollutes the environment
Questions :
(i) Give the meaning of the word squeaky, environment.
Answers :
(i) Squeaky means—Short and shrill sound.
Environment means—Surroundings.

हिन्दी रूपान्तर :

  • स्पर्श होने पर यह चूं-चूं, चीं-ची (विचित्र प्रकार की आवाज) जैसा शोर करता
  • जब जलाया जाता है तो यह छोड़ता है विधाक्त गंध,
  • जब छोड़ दिया जाता है उसी तरह उसे
  • यह प्रदूषित करता है पर्यावरण को ।

3. Just like the polythene bag
his ‘hurt’ too melts down
with a little touch of warmth.
But deep inside the grief’s garbage bin
far away from everyone’s gaze
the germs of the disease
keep on growing.
The polythene bag
remains buried within
Questions:
(i) When does hurt melt?
(ii) What do you mean by grief’s garbage?
Answers:
(i) When it is warmly touched the hurt melts.
(ii) I think the poet has used the word for two reasons. One for dust bin, where polythene is thrown and it goes, on rotting and grow ing harmful germs. The second for dust bin has been compared to deep grief. Grief for polythene.

पॉलीथिन:
थैले की तरह थोड़ी-सी उष्णता लगते ही ‘हर्ट’ गलने लगता है। कूड़ेदान में नीचे जहाँ पालीथिन के थैले पड़े रहते हैं वहाँ रोग के कीटाणु उत्पन्न होते रहते हैं।

भावार्थ:
पॉलीथिन के थैले कुड़ा-कर्कट के ढेर के नीचे पेड़ अथ्वा गड़े हुए रहते हैं तथा कष्ट पहुँचाते रहते हैं।

4. The polythene bag
remains buried within
Only the pain caused by the ‘hurt’
keeps coming back
again and again.
Questions:
(i) Why does the polythene bag bury?
(ii) Give the meaning of the phrase’ again and again
Answers:
(i) After its use, the polythene bag is thrown. So it is buried it
(ii) ‘Again and again, means repeatedly.

  • पॉलीथिन बैग
  • पड़ा रहता है ढंका हुआ (गड़ा हुआ) नीचे
  • केवल ‘हर्ट’ द्वारा उत्पन्न दर्द
  • आता रहता है
  • बार – बार

We wish the knowledge shared regarding Bihar Board Solutions for Class 10 English Poem 3 Polythene Bag Questions and Answers has been helpful to you. If you need any further help feel free to ask us and we will get back to you with the possible solution. Bookmark our site to avail the latest updates on different state boards solutions in split seconds.

Bihar Board Class 10 Hindi व्याकरण वाक्य प्रयोग द्वारा लिंग निर्णय

   

Bihar Board Class 10 Hindi Book Solutions Bihar Board Class 10 Hindi व्याकरण वाक्य प्रयोग द्वारा लिंग निर्णय Questions and Answers, Notes.

BSEB Bihar Board Class 10 Hindi व्याकरण वाक्य प्रयोग द्वारा लिंग निर्णय

Bihar Board Class 10 Hindi व्याकरण वाक्य प्रयोग द्वारा लिंग निर्णय Questions and Answers

वाक्य प्रयोग द्वारा निम्नलिखित शब्दों का लिंग निर्णय करें।

अर्थ (पुं०) – इस वाक्य का अर्थ निकालो।
अनल (पु०) अनल जल रहा है।
अर्थी (स्त्री०) – मृत व्यक्ति की अर्थी उठ गई।
अर्चना (स्त्री०) प्रभु की अर्चना करो।
अग्नि (स्त्री०) – अग्नि जल रही है।
अनबन (स्त्री०) – राम से मेरी अनबन हो गई है।
अरहर (स्त्री०) – बाजार में अरहर बहुत महंगी है।
अभिलाषा (स्त्री०) – तेरी अभिलाषा पूरी हो।
अवस्था (स्त्री०) – मेरे स्वास्थ्य की अवस्था ठीक नहीं है।

आह (स्त्री०) – मन में आह उठ रही है।
आवाज (स्त्री०) आवाज आ रही है।
आरती (स्त्री०) – पूजा के बाद आरती होती है।
आय (स्त्री०) उसकी मासिक आय बहुत ही कम
आयु (स्त्री०) – उसकी आयु पन्द्रह वर्ष है।
आकाश (पुं०) – आकाश नीला है।
आहट (स्त्री०)- चोर के आने की आहट पाकर मैं उठ गया।
आन (स्त्री०) – अपनी आन पर अड़े रहो।
आचरण (पुं०) – अपना आचरण पवित्र रखो।
आंदोलन (पुं०) – देश में आंदोलन हो गया है।
आत्मा (स्त्री०) – मेरी आत्मा की आवाज सुनो।
आशा (स्त्री०) – भगवान करे, तुम्हारी आशा पूरी हो।
आलोचना (स्त्री०) – किसी की आलोचना मत करो
आज्ञा (स्त्री०) – माँ-बाप की आज्ञा मानो।

इत्र (पुं०)- बाजार में इत्र मिलता है।
इज्जत (पुं०) – इज्जतसबको प्यारी होती है।
इनाम (पुं०) – खेल में राम को इनाम मिला।
इस्पात (पुं०) – इस्पात महँगा होता है।
इतिहास (पुं०) – भारतवर्ष का इतिहास बहुत पुराना है।
इरादा (पुं०) – अपना इरादा पक्का रखो।

ईख (स्त्री०) – ईख मीठा है।
ईंट (स्त्री०) – ईंट से ईंट बज गई।
ईद (स्त्री०) – ईद खूब उत्साह से मनाई गई।
ईर्ष्या (स्त्री०) – किसी से भी ईर्ष्या नहीं करनी चाहिए।
ईमान (पुं०) – अपना ईमान मत खोना।

उधार (पुं०) – उस दुकान से मेरा उधार चलता है।
उच्चारण (पुं०) – भाषा का शुद्ध उच्चारण करना चाहिए।
उबटन (पुं०) – देह में उबटन लगाया गया है।
उत्सव (पुं०) – होली हिन्दुओं का महान उत्सव है।
उत्साह. (पुं०) – उसका उत्साह कहा नहीं जा सकता।
उड़ान (स्त्री०) – वायुयान की उड़ान तो देखो।
उथल-पुथल (स्त्री०) – देश में उथल-पुथल मची है।
उम्र (स्त्री०) – हमारी उम्र कम है।
उत्तर (पुं०) – इस प्रश्न का उत्तर दो।
उत्थान (पुं०) – हर तरह से देश का उत्थान करो।
उड़द (पुं०) – बाजार में उड़द (उरद) नहीं मिलता है।

ऊन (पुं०) – ऊन बाजार में महँगा मिलता है।
ऊंचाई (स्त्री०) – हिमालय की ऊंचाई बताइए।

एकता (स्त्री०) – एकांत ऐश्वर्य
ऐनक (स्त्री०) – ऐंठ या ऐंठन (स्त्री०)-
एकता (स्त्री०) – देश की एकता कायम रखनी है।
एकांत (पुं०) – मुझे एकांत अच्छा लगता है।
ऐश्वर्य (पुं०) – देश का ऐश्वर्य देखिए।
ऐनक(स्त्री०) – ऐनक टूट गयी।
ऐंठ या ऐंठन (स्त्री०) – रस्सी जल गई, पर ऐंठन न गई।

ओस (स्त्री०) – ओस दूब पर ओस गिर रही है।
ओट (स्त्री०) – आँख की ओट में गली छिप गई।
ओंकार (पुं०) – ओंकार सदा एकरस सत्य रहेगा।
ओल (पुं०) – ओल महँगा बिकता है।
ओले (पुं०) – ओले गिर रहे हैं।

औरत (स्त्री०) – एक औरत आ रही है।
औकात (स्त्री०) – अपनी औकात से बाहर नहीं जाना चाहिए।
औलाद – सभी माँ-बाप अपनी औलाद को प्यार करते हैं।

कर्म (पुं०) – अच्छा कर्म कीजिए।
कमल (पुं०) – तालाब में कमल खिले हैं।
केंचुल (स्त्री०) – सांप ने अपनी केंचुल छोड़ी।
कान(पुं०) – कान लम्बे हैं।
कील (स्त्री०) – यह लोहे की कील है।
कपूर (स्त्री०) – कपूर उड़ गया। कमर
कमर (स्त्री०) – राम की कमर टूट गई।
कुशल (स्त्री०) – आपकी कुशल चाहता हूँ।
करवट (स्त्री०) – खाकर बाई करवट सोना चाहिए।
कोयल (स्त्री०) – कोयल कूक रही है।
किताब (स्त्री०) – मेरी किताब खो गई।
कलम (स्त्री०) – मेरी कलम टूट गई।
करतूत (स्त्री०) – काली करतूत पर पछताना पड़ता है।
कपास (स्त्री०) – बिहार में कपास कम उपजती है।

ख.

खत (पुं०) – खत लिख गया
खरीद (स्त्री०) – धान की खरीद चल रही है।
खटिया (स्त्री०) – खटिया चौड़ी है।
खेत (पुं०) – यह मेरा खेत है।
ख्याति (स्त्री०) – दिनकरजी की ख्याति सर्वत्र फैली है।
खबर (स्त्री०) – आपके आने की खबर मिली।
खीर (स्त्री०) – खीर मीठी है।
खिलौना (पुं०) – मिट्टी का खिलौना टूट गया।
खाल (स्त्री०) – मैंस की खाल मोटी है।

गन्ध (स्त्री०) – फूल की गन्ध अच्छी है।
गान (पुं०) – उसका गान सुना गया। ..
गाना (पुं०) – मेरा गाना सुनिए।
गन्ना (पुं०) – इस साल गन्ना बहुत कम हुआ
गजलें (स्त्री०) – अच्छी गजलें पसन्द की गई। .
गरीबी (स्त्री०) – देश में गरीबी बढ़ रही है।
गेहूं (पुं०) – गेहूं महंगा मिल रहा है।
गला (पुं०) – मेरा गला सूख रहा है।
गुड (पुं०) – गुड मीठा होता है।

घर (पुं०) – घर पुराना है।
घूस (स्त्री०) – नौकरी में घूस चल रही है।
घी (पुं०) – घी महंगा मिलता है।
घटा (स्त्री०) – आकाश में घटा घिरी है।
घास (स्त्री०) – हरी घास पर बैठिए।
घाव (पुं०) – मेरा घाव भर गया।
घोंसला (पुं०) – चिड़िया का घोंसला गिर गया।
घूघट (पुं०) – हमारे यहाँ घूघट नहीं चलता है।

चना (पुं०) – बाजार में चना मिलता है।
चमक (स्त्री०) – बिजली की चमक मत देखो।
चील (स्त्री०) – चील उड़ रही है।
चाँद (पुं०) – चाँद चमक आकाश में चमक रहा है।
चाँद (स्त्री०) – उसके सिर की चाँद मंजी है।
चाकू (पुं०) – मेरा चाकू तेज है।
चौकी (स्त्री०) – मेरी चौकी टूट गई।
चावल (पुं०) – चावल महंगा है।
चिडिया (स्त्री०) – चिडिया उड़ गई।
चाँदी (स्त्री०) – चाँदी सस्ती है।
चरण (पुं०) – प्रभु के चरण ही शरण है।
चरित्र (पुं०) – अच्छे चरित्र का व्यक्ति पूजा जाता है।
चेहरा (पुं०) – उसका चेहरा काला पड़ गया।
चादर (स्त्री०) – यह मेरी चादर है।

छत (स्त्री०) – घर की छत गिर गई।
छाता (पुं०) – मेरा छाता खो गया।
छप्पर (पुं०) – झोपड़ी का छप्पर चू रहा है।
छाप (स्त्री०) – अंगूठे की छाप दो।

जाति (स्त्री०) – किसकी जाति समाप्त हो रही है?
जूं (स्त्री०) – सिर में जूं रेंग रही है।
जी (पुं०) – मेरा जी घबरा रहा है।
जमानत (स्त्री०) – अदालत से राम को जमानत मिल गई।
जीवन (पुं०) – मनुष्य का जीवन दुखमय होता है।
जुलूस (पुं०) – जुलूस जा रहा है।
जूता (पुं०) – मेरा जूता टूट गया।
जहाज (पुं०) – जहाज पानी में डूब गया।
जोंक (स्त्री०) – पत्थर में जोंक नहीं लगती है।

झरना (पुं०) – झरना झर रहा है।
झूठ (पुं०) – झूठ पकड़ा गया।
झाड़ (पुं०) – झाड़ अच्छा है।
झंझट (स्त्री०) – आपस में झंझट चल रही है।

टमटम (पुं०) – स्टेशन के पास टमटम मिलता है।
टोपी (स्त्री०) – टोपी पुरानी है।
टॉग (स्त्री०) – टॉग टूट गई।
टिकट (पुं०) – मेरा टिकट कट गया।
टीका (स्त्री०) – मैंने रामायण की टीका लिखी।
टीका (पुं०) – माथे पर राम लंबा टीका लगाता है।
टीस (स्त्री०) – कलेजे से टीस उठ रही है।
टेक (स्त्री०) – प्रभु ने मेरी टेक रख ली।

ठंढक (स्त्री०) – जोरों की ठंढक पड़ रही है।
ठोकर (स्त्री०) – पत्थर से पाँव में ठोकर लगी।
ठेस (स्त्री०) – ठेस लगेगी, आँख खुलेगी।
ठठरी (स्त्री०) – शरीर में केवल ठठरी बची है।
ठिकाना (पुं०) – इस जीवन का क्या ठिकाना ?

डर (पुं०) – मुझे किसी का डर नहीं है।
डाँट (स्त्री०) – आज डाँट पड़ेगी।
डाक (स्त्री०) – आज की डाक आई।
डाल (स्त्री०) – वृक्ष की डाल टूट गई।
डंक (पुं०) – बिच्छू का डंक सहना आसान नहीं।
डिब्बा (पुं०) – डिब्बा भरा है।

ढाल (स्त्री०) – पहाड़ की ढाल तीव्र है।
ढोलक (पुं०) – ढोलक बज रहा है।
देखो (पुं०) – जहाँ देखो अनाज का ढेर लगा है।

तलवार (स्त्री०) – सन् सत्तावन में थी जो चमकी, वह तलवार पुरानी थी।
ताश (पुं०) – ताश फट गया।
तरकश (पुं०) – तरकश खाली था।
तकदीर (स्त्री०) – मेरी तकदीर ही चमक गई।
तस्वीर (स्त्री०) – तस्वीर टूट गई है।
तारे (पुं०) – तारे चमक रहे हैं।
तीसी (स्त्री०) – तीसी सस्ती है।
तरंग (स्त्री०) – नदी में तरंग उठ रही है।
ताप (स्त्री०) – ताप गरज रही है।
तीतर (पुं०) – तीतर बोल रहा है।
तालाब (पुं०) – तालाब सूख गया।

थकान (स्त्री०) – यात्रा की थकान तुरंत नहीं मिटती।
थूक (पुं०) – थूक जमीन पर गिरा।
थाली (स्त्री०) – थाली फूट गई।
थप्पड़ (पुं०) – उसे एक थप्पड़ लगा।
थैला (पुं०) – थैला खुला है।
थकावट (स्त्री०) – यात्रा से थकावट आती ही है।

दर्द (पुं०) – घाव में दर्द हो रहा है।
दही (पुं०) – दही खट्टा है।
दशा (स्त्री०) – मोहन रवि की दशा देखकर चिंतित हो गया।
दोष (पुं०) – इसमें मेरा कोई दोष नहीं है।
दर्शन (पुं०) – आपके दर्शन कब होंगे?
दरार (स्त्री०) – दीवार में दरार पड़ गई है।
दीपक (पुं०) – दीपक बुझ गया।
देश (पुं०) – देश तरक्की कर रहा है।
दाल (स्त्री०) – अरहर की दाल अच्छी बनती है।
दाँत (पुं०) – मेरा एक दाँत टूट गया।

धन (पुं०) – धन आता-जाता रहता है।
धातु (स्त्री०) – व्याकरण के धातु कठिन हैं।
धातु (स्त्री०) – ताँबा अच्छी धातु है।
धनिया (पुं०) – धनिया अच्छी है।
धड़कन (स्त्री०) – हृदय की धड़कन बढ़ गई।
धूप (स्त्री०) – धूप निकल आई।
धारा (स्त्री०) – धारा बहुत तेज थी।
धूल (स्त्री०) – धूल उड़ रही है।

नख (पुं०) – मैंने अपना नख काट लिया।
नदी (स्त्री०) – नदी लम्बी है।
नाक (स्त्री०) – राम की नाक टेढ़ी है।
नासपाती (स्त्री०) -बाजार में नासपाती मिल रही है।

पत्र (पुं०) – मेरा पत्र मिला होगा।
पाँव (पुं०) – मेरा एक पाँव फूल गया है।
पहिया (पुं०) – पहिया टूट गया।
पैर (पुं०) – मेरा पैर टूट गया है।
पूँछ (स्त्री०) – कुत्ते की पूँछ टेढ़ी होती है।
पाठशाला (स्त्री०) – पाठशाला बंद हो गई है।
पक्षी (पुं०) – पक्षी उड़ रहे हैं।
पेड़ (पुं०) – पेड़ सूख गया।
प्यास (स्त्री०) – मुझे प्यास लगी है।
पंखा (पुं०) – पंखा टूट गया।
पलंग (पुं०) – मेरा पलंग टूट गया।
पोशाक (स्त्री०) – उसकी पोशाक काली है।
प्राण (पुं०) – राम के प्राण उड़ गए।
प्रतिज्ञा (स्त्री०) – अपनी प्रतिज्ञा पूरी कीजिए।
पताका (स्त्री०) – पताका फहरा रही है।

फूल (पुं०) – बाग में फूल खिले हैं।
फूट (स्त्री०) – आपस में फट पड़ गई है।
फरियाद (स्त्री०) – कोर्ट ने उसकी एक भी फरियाद नहीं सुनी।
फल (पुं०) – यह फल मीठा है।
फसल (स्त्री०) – धान की फसल अच्छी है।

बरसात (स्त्री०) – बरसात आ गई।
बनावट (स्त्री०) – घर की बनावट अच्छी है।
बुढ़ापा (फु) – बुढापा कष्टदायक होता है।
बात (स्त्री०) – बात बिगड़ गई।
बहू (स्त्री०) – बहू मायके जा रही है।
बारात (स्त्री०) – बारात. आ गई।
बाजार (पुं०) – बाजार लगा है।
बिन्दु (पुं०) – छोटे बिन्दु पर यह बिन्दु पड़ा है।
बर्फ (स्त्री०) – बर्फ पिघल गई।
बाँह (स्त्री०)- सकी बाँह टूट गई।

भात (पुं०) – भात बन गया।
भेंट (स्त्री०) – राम से मेरी भेंट हो गई।
भूख. (स्त्री०) – भूख लगी है।
भूत (पुं०) – मार के डर से भूत भागता है।
भेड़ (स्त्री०)- भेड़ें खेत में चर रही हैं।
भीड़ (स्त्री०)- मेले में भीड़ थी।
भक्ति (स्त्री०)- प्रभु की भक्ति सत्य हा
भिक्षा (स्त्री०)- भिखारी को भिक्षा मिली।
भीख (स्त्री०) – माँगे भीख भी नहीं मिलती है।
भूल (स्त्री०)- मुझसे भूल हो गई।

मौत (स्त्री०) – मेरी माँ की मौत हो गई।
मरण (पुं०) – मेरा तो समझो, मरण हो गया।
मूंछ (स्त्री०) – उसकी मूंछ टेढ़ी है।
मृत्यु (स्त्री०) – बूढ़े की मृत्यु हो गई।
माला (स्त्री०) – फूल की माला बनाओ।
मगर (पुं०) – मगर बड़ा भयानक होता है।
मोती (पुं०) – मोती चमकता है।

राज्य (पुं०) – बिहार राज्य बहुत बड़ा है।
रकम (स्त्री०) – पाँच रुपये की रकम बहुत छोटी है।
रूई (स्त्री०) – रूई उजली है।
रात (स्त्री०) – रात काली है।
रोशनाई(स्त्री०) – रोशनाई काली है।
रेत (स्त्री०) – रेत धूप में गर्म हो गई।
रेखा (स्त्री०) – एक छोटी रेखा है।
रास्ता (पुं०) – रास्ता चौड़ा है।
राह (स्त्री०) – राह लंबी है।
राख (स्त्री०) – राख बुझ गई।

लोभ (पुं०) – दूसरे की वस्तु लेने का लोभ उचित नहीं।
लू (स्त्री०) – लू चल रही है।
लकीर (स्त्री०) – छोटी लकीर मिट गई।
लगाम (स्त्री०) – घोड़े की लगाम है।
लपट (स्त्री०) – आग की लपट बढ़ रही है।
ललकार (स्त्री०) – सेनापति की ललकार थी।
लाचारी(स्त्री०) – मेरी लाचारी पर ध्यान दीजिए।
लिखावट (स्त्री०) – रमेश की लिखावट अच्छी है।
लत (स्त्री०) – बुरी लत को छोड़ देना चाहिए।
लाश (स्त्री०) – लाश दफना दी गई।
लालच (पुं०) – उसका लालच खत्म हो गया।

वर्षा (स्त्री०) – वर्षा हो रही है।
विपत्ति (स्त्री०) – विपत्ति आती है तो जाती भी है।
विद्यालय (पुं०) – यह विद्यालय पुराना है।

शरण (स्त्री०) – प्रभु की शरण सत्य है।
शांति (स्त्री०) – मेरे मन की शांति समाप्त हो गई।
शिकायत (स्त्री०) – किसी की भी शिकायत उचित नहीं।
शरबत (पुं०) – शरबत मीठा है।
शराब (स्त्री०) – शराब अच्छी नहीं है।
शाखा (स्त्री०) – वृक्ष की शाखा गिर गई। …
शान (स्त्री०) – हिमालय भारत की शान है।
शक्ति (स्त्री०) – अपनी शक्ति से काम करना चाहिए।

समझ (स्त्री०) – मेरी समझ में कुछ भी नहीं आ रहा है।
सतह (स्त्री०) – पानी की सतह ऊंची है।
सम्मान (पुं०) – प्रधानमंत्री का सम्मान किया गया।
सुविधा (स्त्री०) – मुझे घर जाने की सुविधा प्राप्त है।
सेना (स्त्री०) – भारतवर्ष की सेना विशाल है।
सूरत (स्त्री०) – इसकी सूरत काली है।
सिर (पुं०) – मेरा सिर चकरा रहा है।
सहारा (पुं०) – इस काम में मेरा सहारा काफी है।।
सैर(स्त्री०) – उसने सैर की।
सेवा (स्त्री०) – गरीबों की सेवा कीजिए।
सभ्यता (स्त्री०) – देश की पुसनी सभ्यता का ख्याल कीजिए।

हद (स्त्री०) – उसने तो हद कर दी।
हींग (स्त्री०) – हींग महँगी है।
हलचल (स्त्री०) – देश में क्रांति की हलचल है।
हड्डी (स्त्री०) – हाथ की हड्डी टूट गई।
हाथी (पुं०) – हाथी आ रहा है।
हरियाली (स्त्री०) – हरियाली छाई है।
हँसो (स्त्री०) – किसी की हँसी मत उडाओ।
होली (स्त्री०) – होली आ गई।
हिफाजत (स्त्री०) – अपनी हिफाजत कीजिए।
हथियार (पुं०) – यह हथियार पुराना है।